scorecardresearch
Tuesday, 11 June, 2024
होमराजनीतिविपक्षी सांसदों ने अडाणी मामले में JPC की मांग करते हुए संसद भवन में प्रदर्शन किया

विपक्षी सांसदों ने अडाणी मामले में JPC की मांग करते हुए संसद भवन में प्रदर्शन किया

इससे पहले, कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए आगे की रणनीति पर चर्चा की.

Text Size:

नई दिल्ल: अडाणी ग्रुप के मामले में संयुक्त संसदीय समिति (जेपीसी) गठित करने की मांग करते हुए मंगलवार को कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों के सदस्यों ने संसद भवन की पहली मंजिल में प्रदर्शन किया.

इस पर्दशन में राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष और कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, कांग्रेस के कई सांसद, द्रमुक, भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) और कुछ अन्य दलों के नेता शामिल हुए.

विपक्षी सदस्य दोनों सदनों की बैठक अपराह्न दो बजे तक के लिए स्थगित होने के बाद संसद के प्रथम तल के गलियारे में जमा हुए और ‘वी वांट जेपीसी’ के नारे लगाए. वे गलियारे से ही नीचे की ओर से बड़ा बैनर प्रदर्शित कर रहे थे जिस पर ‘वी वांट जेपीसी (हमें जेपीसी चाहिए)’ लिखा हुआ था. विपक्षी सदस्य संसद भवन के पहले मंजिल के गलियारे में रैलिंग के नीचे इस बैनर को हाथों से पकड़कर प्रदर्शित कर रहे थे.

इससे पहले, कांग्रेस समेत कई विपक्षी दलों ने संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विभिन्न मुद्दों पर सरकार को घेरने के लिए आगे की रणनीति पर चर्चा की.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

गत 13 मार्च से शुरू हुए संसद के बजट सत्र के दूसरे चरण में विपक्ष और सत्ता पक्ष के हंगामे के कारण लगातार छह कामकाजी दिनों तक लोकसभा एवं राज्यसभा में प्रश्नकाल और शून्यकाल की कार्यवाही बाधित रही और कोई अन्य महत्वपूर्ण विधायी कार्य नहीं हो सका.

विपक्षी दल अडाणी समूह के मामले में जेपीसी गठित करने की मांग पर अड़े हुए हैं. दूसरी तरफ, सत्तापक्ष कांग्रेस नेता राहुल गांधी द्वारा लंदन में दिए गए एक बयान को लेकर उनसे माफी की मांग कर रहा है.


यह भी पढ़ें: राहुल के लिए फिर नई सीट? 2024 में वायनाड की जगह कन्याकुमारी से उतारने की संभावनाएं टटोल रही कांग्रेस


share & View comments