Thursday, 20 January, 2022
होमलास्ट लाफचीन ने कैसे कम किया उत्सर्जन और बिजनेस आइडिया कि कैसे ईंधन की बढ़ती कीमतों से मुनाफ़ा कमाया जाए

चीन ने कैसे कम किया उत्सर्जन और बिजनेस आइडिया कि कैसे ईंधन की बढ़ती कीमतों से मुनाफ़ा कमाया जाए

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के फीचर कार्टून में संदीप अधर्व्यु बता रहे हैं कि अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने रोम में जी20 जलवायु शिखर सम्मेलन में चीन की गैर हाज़री पर अपनी ‘निराशा’ जाहिर की है. संदीप दर्शा रहे हैं कि बाइडन की प्रतिक्रिया ने शायद चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को कोविड महामारी के बाद से स्टम्प्ड कर दिया है, जिसने लॉकडाउन के कारण उत्सर्जन को रोकने में मदद की है. ऐसा माना जाता है कि कोविड19 की कथित शुरुआत चीन से ही हुई थी.

उनका सुझाव है कि प्रतिक्रिया ने शायद चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को स्टम्प्ड कर दिया

#COP26 #carbonemissions My #cartoon for @News9Tweets Telegram: http://telegram.me/MANJULtoons Support: https://www.instamojo.com/@MANJULtoons #MANJULtoons #editorialcartoon #editorialcartoons #cartooning #cartoonists #cartoonistsofinstagram #dailycartoon #cartoosbymanjul
मंजुल | News9

मंजुल ने 2014 के लोकसभा चुनावों के दौरान नरेंद्र मोदी के ‘अच्छे दिन’ के वादे और इस हफ्ते हुए सीओपी26 शिखर सम्मेलन में उनके भाषण के बीच तुलना की है जिसमें उन्होंने संकल्प लिया है कि भारत 2070 तक नेट-ज़ीरो उत्सर्जन हासिल करेगा.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

ई पी उन्नी | The Indian Express

ई पी उन्नी बाल दिवस या पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू की जयंती से कुछ दिन पहले ग्लासगो में पीएम नरेंद्र मोदी की सीओपी26 शिखर सम्मेलन में दिए भाषण का जिक्र कर रहे हैं.

Image
आर प्रसाद | Economic Times

आर प्रसाद सुप्रीम कोर्ट की उस टिपण्णी पर जोर दे रहे हैं जिसमें जस्टिस डी.वाई. चंद्रचूड़ ने रविवार को डाबर के विज्ञापन में करवा चौथ मनाते हुए समलैंगिक जोड़े को दिखाने का हवाला देते हुए कहा था कि ‘सार्वजनिक असहिष्णुता‘ की वजह से इस विज्ञापन को वापस लिया गया था.

Image
कीर्तिश भट्ट | BBC News Hindi

कीर्तिश भट्ट ईंधन के लगातार बढ़ रहे दामों का जिक्र कर रहे हैं. वो बता रहे हैं कि ईंधन के दामों बढ़ोतरी होने से जिस शख्स ने पिछले महीने पेट्रोल खरीदा था वो उसे बेचकर मुनाफ़ा कमा सकता है.

Image
सतीश आचार्य | Twitter/@satishacharya

सतीश आचार्य अपने कार्टून में ईंधन की आसमान छूती कीमतों के इस्तेमाल से मौजूदा आईसीसी टी20 विश्वकप में भारतीय क्रिकेट टीम के खराब प्रदर्शन में सुधार होने की संभावना जता रहे हैं.

(इन कार्टून्स को अंग्रेज़ी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments