Thursday, 26 May, 2022
होमलास्ट लाफगांधी का स्वामी विवेकानंद की भविष्वाणी पर हैरत में पड़ना, और 'बूस्टर डोजेज' केवल योगी के लिए

गांधी का स्वामी विवेकानंद की भविष्वाणी पर हैरत में पड़ना, और ‘बूस्टर डोजेज’ केवल योगी के लिए

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के चित्रित कार्टून में, संदीप अध्वर्यु ने हरिद्वार में ‘धर्म संसद’ जिसमें नफरत फैलाने वाले भाषण और मुसलमानों के खिलाफ हिंसा का अपील की गई को लेकर महात्मा गांधी को स्वामी विवेकानंद से पूछते हुए दिखाया कि उन्होंने कैसे राष्ट्रों को तोड़ने को लेकर धर्मांधता पर इतनी दूरदर्शिता दिखाई थी.

दुनिया भर में फैल रहे ओमीक्रॉन वैरिएंट को लेकर कोविड-19 वैक्सीन की बूस्टर खुराक की मांग के बीच आर. प्रसाद लोगों को टीका न लगाने को लेकर पूंजीवादी मानसिकता का मजाक उड़ाते हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

आलोक निरंतर उत्तर प्रदेश और गोवा में भाजपा के एक साथ चुनाव अभियानों पर टिप्पणी करते हैं, जो कि दोनों राज्यों के धार्मिक और सांस्कृतिक बनावट के मद्देनजर काफी अलग होने चाहिए.

साजिद कुमार बूस्टर शॉट्स की बढ़ती मांग पर प्रकाश डालते हैं, लेकिन उनका मानना ​​है कि इससे यूपी चुनाव से पहले सीएम योगी आदित्यनाथ की छवि को ही बढ़ावा मिलता नजर आ रहा है.

ई.पी. उन्नी ने नरेंद्र मोदी सरकार पर संसद में बिना अधिक बहस के बुलडोजर कानून बनाने और विपक्ष के कई नेताओं को निलंबित करने को लेकर निशाना साधते हैं.

(इन कार्टून्स को अंग्रेजी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments