scorecardresearch
Friday, 14 June, 2024
होमदेशफीफा के उद्घाटन में शामिल होने के लिए उपराष्ट्रपति धनखड़ कतर पहुंचे, भारतीयों से भी करेंगे मुलाकात

फीफा के उद्घाटन में शामिल होने के लिए उपराष्ट्रपति धनखड़ कतर पहुंचे, भारतीयों से भी करेंगे मुलाकात

धनखड़ कतर राज्य के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के निमंत्रण पर कतर की दो दिवसीय यात्रा पर हैं. कतर के आठ स्टेडियम इस टूर्नामेंट के 64 मैचों की मेजबानी करेंगे.

Text Size:

नई दिल्ली: उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ रविवार को कतर में फीफा विश्व कप के उद्घाटन समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए दोहा पहुंचे.

धनखड़ कतर राज्य के अमीर शेख तमीम बिन हमद अल थानी के निमंत्रण पर कतर की दो दिवसीय यात्रा पर हैं. कतर राज्य में भारत के राजदूत दीपक मित्तल और कतर की ओर से विदेश मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने उपराष्ट्रपति की अगवानी की.

कतर में भारत के राजदूत दीपक मित्तल ने कहा, ‘हमें खुशी और गर्व है कि भारत के उपराष्ट्रपति फीफा विश्व कप के उद्घाटन कार्यक्रम में भारत का प्रतिनिधित्व करने के लिए कतर पहुंचे हैं. यह एक ऐतिहासिक पल भारत और कतर के बीच बहुत करीबी संबंधों को दर्शाता है.’

अपनी यात्रा के दौरान, 20 नवंबर को उद्घाटन समारोह में हिस्सा लेने के अलावा, उपराष्ट्रपति भारतीय समुदाय के सदस्यों के साथ बातचीत भी करेंगे.

चार साल में एक बार होने वाले इस विश्व कप में 32 टीमों की निगाहें ट्रॉफी पर होंगी. जिसमें मेजबान कतर समेत इक्वाडोर, सेनेगल, नीदरलैंड, इंग्लैंड, ईरान, यूएसए, वेल्स, अर्जेंटीना, सऊदी अरब, मैक्सिको, पोलैंड, फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया, डेनमार्क, ट्यूनीशिया, स्पेन, कोस्टा रिका, जर्मनी, जापान, बेल्जियम, कनाडा, मोरक्को, क्रोएशिया, ब्राजील, सर्बिया, स्विट्जरलैंड, कैमरून, पुर्तगाल, घाना, उरुग्वे और दक्षिण कोरिया शामिल है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

फ्रांस डिफेंडिंग चैंपियन है, जिसने फाइनल में क्रोएशिया को हराकर 2018 में अपना दूसरा खिताब जीता था.

यह पहली बार है जब मध्य पूर्व इस फीफा की मेजबानी कर रहा है. कतर में रेगिस्तानी गर्मी से बचने के लिए यह पहली बार है जब विश्व कप सामान्य जून-जुलाई में आयोजित नहीं किया जा रहा है.

कतर के आठ स्टेडियम इस टूर्नामेंट के 64 मैचों की मेजबानी करेंगे.


यह भी पढ़ें: मोहन भागवत की जाति को भूलने की ‘मासूम’ सलाह जातीय वर्चस्व को बनाए रखने की कोशिश है


share & View comments