Thursday, 26 May, 2022
होमदेशशुरू हुई सरयू नहर परियोजना: डालें एक नज़र कि यह पूर्वी यूपी से कैसे गुजर रही है

शुरू हुई सरयू नहर परियोजना: डालें एक नज़र कि यह पूर्वी यूपी से कैसे गुजर रही है

दिप्रिंट के राष्ट्रीय फोटो संपादक प्रवीण जैन आपके लिए लगभग 10,000 करोड़ रुपये की उस परियोजना की तस्वीरें लेकर आए हैं जो चार दशकों से अधिक समय से बन रही थी.

Text Size:

बहराइच / श्रावस्ती / बलरामपुर / बस्ती: पूर्वी उत्तर प्रदेश में गन्ना और सरसों के खेतों से गुजरती हुए, 6,623 किलोमीटर लंबी सरयू नहर सिंचाई परियोजना आखिरकार इस महीने से शुरू हो गई है, जिसकी वजह से इससे लाभान्वित होने वाले लगभग 29 लाख किसानों में राहत और खुशी की लहर दौड़ गई.

लगभग 10,000 करोड़ रुपये की इस परियोजना पर लगभग चार दशकों से ज्यादा समय से काम किया जा रहा था. साल 1970 में शुरू हुई इस परियोजना में जटिल भूमि अधिग्रहण और कथित तौर पर धन के वितरण से लेकर कई अन्य कारणों से लगातार रुकावटें आती रहीं.

नहरो के इस जाल के ज़रिए पूर्वी यूपी की पांच नदियों – घाघरा, सरयू, राप्ती, बाणगंगा और रोहिन – को जोड़ा गया है. इस नेटवर्क के माध्यम से 6,200 गांवों के 1.4 लाख हेक्टेयर भूमि की सिचाई की जा सकेगी. यह पूर्वी उत्तर प्रदेश के नौ जिलों – बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, गोण्डा, संत कबीर नगर, महाराजगंज और गोरखपुर से होकर गुजरती है.

बहराइच, जहां से यह परियोजना शुरू होती है, वहां से शुरू करके दिप्रिंट ने पिछले सप्ताह दो दिनों तक नहर के मार्ग के साथ-साथ पांच जिलों को पार करते हुए लगभग 400 किमी की यात्रा की. पेश हैं उस यात्रा की कुछ झलकियां.

Minor Head Regulator supply water main canal to small canal at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
सरयू नाहर परियोजना में लघु शीर्ष नियामक मुख्य नहर से छोटी नहर में पानी की आपूर्ति करता है | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Local villagers carrying water pipe to supply water in their field at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
स्थानीय ग्रामीण अपने खेत में पानी की आपूर्ति करने के लिए पानी का पाइप ले जाते हुए | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Local villager pumping water through river at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
सरयू नाहर परियोजना में नदी के माध्यम से पानी पंप करते स्थानीय ग्रामीण | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Locals villagers suppling water to their field from the river at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
नहर में नदी से अपने खेत में पानी लाते स्थानीय ग्रामीण | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Cattles drinking water from the river at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
सरयू नाहर परियोजना में नदी का पानी पीने वाले मवेशी | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Children's playing near Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
सरयू नहर परियोजना के पास खेल रहे बच्चे| फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Construction workers going to their work in Bhabhar Nala at Saryu Nahar Pariyojna | Photo: Praveen Jain| ThePrint
भाभर नाला में काम करने जा रहे निर्माण मजदूर | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Ajay Kumar Executive Engineer(middle) UP irrigation department with his team at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
अजय कुमार (मध्य), कार्यपालन यंत्री, उ0प्र0 सिंचाई विभाग अपनी टीम के साथ | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Local villagers crossing the Drainage syphon in Kharjhar Nala at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
खारझार नाला, सरयू नाहर परियोजना में ड्रेनेज साइफन पार करते स्थानीय ग्रामीण | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
First point of Rapti Main Canal at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
राप्ती मुख्य नहर का प्रथम बिंदु| फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Tail end of Rapti Main Canal at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
राप्ती मुख्य नहर का अंतिम छोर | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
A view of Ban Ganga River at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
बाण गंगा नदी का एक दृश्य | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
Railway Bridge over the river in Bhathar Chowraha at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
भाथर चौराहा में नदी पर एक रेलवे पुल | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट
A view of Bhabhar Nala at Saryu Nahar Pariyojna Project | Photo: Praveen Jain| ThePrint
भाभर नाला का एक दृश्य | फोटो: प्रवीण जैन| दिप्रिंट

(इसको अंग्रेज़ी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments