scorecardresearch
Wednesday, 21 February, 2024
होमएजुकेशनUPSC 2022 में DU का बोलबाला, टॉप 4 में नारी शक्ति, टॉपर इशिता बोलीं- परिवार के सपोर्ट से मिली सफलता

UPSC 2022 में DU का बोलबाला, टॉप 4 में नारी शक्ति, टॉपर इशिता बोलीं- परिवार के सपोर्ट से मिली सफलता

इशिता किशोर, गरिमा लोहिया, उमा हरथी एन और स्मृति मिश्रा ने आज घोषित UPSC 2022 के परिणामों में टॉप चार की रैंक हासिल की हैं. असम के मयूर हजारिका ने रैंक 5 हासिल की. ​

Text Size:

नई दिल्ली: संघ लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) की परीक्षा में लगातार दूसरे साल महिलाओं ने टॉप किया और मंगलवार को घोषित नतीजों में पहली पांच में से चार रैंक महिलाओं ने हासिल की हैं.

इशिता किशोर, गरिमा लोहिया, उमा हरथी एन और स्मृति मिश्रा ने आज घोषित UPSC 2022 के परिणामों में क्रमशः शीर्ष चार रैंक हासिल की हैं. असम के मयूर हजारिका ने रैंक 5 हासिल की. ​

रैंक धारकों को बधाई देते हुए, केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने ट्विटर पर कहा, “नारी शक्ति अपने चरम पर! इशिता किशोर, गरिमा लोहिया और उमा हरीति एन को बधाई, UPSC में पहले 3 टॉपर्स.”

UPSC 2022 में टॉप करने वाली ग्रेटर नोएडा की इशिता किशोर ने कहा, “मेरे परिवार ने मेरा बहुत सपोर्ट किया, भले ही मैंने प्रीलिम्स को दो बार पास नहीं किया लेकिन उन्हें मुझ पर पूरा भरोसा था. जिस तरह से उन्होंने मुझे आगे बढ़ाया और मेरे लिए चीजों को आसान बनाया, मैं उसके लिए उनकी आभारी रहूंगी.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इशिता ने आगे कहा कि इस परीक्षा में सफल होने के लिए “अपनी रणनीति का लगातार पुनर्मूल्यांकन करना” बहुत जरुरी है और तैयारी करते वक्त आपका ईमानदारी से पढ़ना बहुत जरुरी हैं. इशिता ने अपने ऑप्शनल सब्जेक्ट के रूप में पॉलिटिकल साइंस और इंटरनेशनल रिलेशन को चुना है.

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने परीक्षा में पांचवां स्थान हासिल करने के लिए मयूर हजारिका को बधाई देते हुए ट्वीट कर कहा, “2022 के UPSC सिविल सेवा परीक्षा परिणामों में आपके बेहतरीन प्रदर्शन के लिए हार्दिक बधाई. आपने पांचवा रैंक हासिल करके हमें बहुत गौरवान्वित किया है. आपकी ये उपलब्धि बहुत सारे युवाओं को प्रेरणा देगी.”

अपना अनुभव सांझा करते हुए दूसरी रैंक हासिल करने वाली गरिमा लोहिया कहती हैं कि मैंने घर पर रहकर पढ़ाई की. मैं रात में 9 बजे से सुबह 9 बजे तक पढ़ती थी क्योंकि उस समय घर में शांति रहती थी.

विभाग के आधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, विभिन्न सेवाओं में नियुक्ति के लिए आयोग द्वारा कुल 933 उम्मीदवारों- 613 पुरुषों और 320 महिलाओं की सिफारिश की गई थी.

इतने अच्छे नतीजे की उम्मीद नहीं थी

इंडियन फॉरेन सर्विस में काम करने की इच्छा व्यक्त करते हुए UPSC में पांचवीं रैंक हासिल वाले असम के मयूर हजारिका ने कहा, “मुझे इतने अच्छे नतीजे की उम्मीद नहीं थी, मैं इससे संतुष्ट हूं. मेरी पहली प्राथमिकता भारतीय विदेश सेवा (इंडियन फॉरेन सर्विस) है.”

इशिता किशोर, दिल्ली विश्वविद्यालय के श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स से अर्थशास्त्र में स्नातक हैं. गरिमा लोहिया किरोड़ीमल कॉलेज डीयू से कॉमर्स में ग्रेजुएट हैं.

उमा हरथी एन बीटेक कर चुकी हैं और आईआईटी, हैदराबाद से सिविल इंजीनियरिंग में ग्रेजुएट हैं. चौथी टॉपर स्मृति मिश्रा बीएससी हैं, वह मिरांडा हाउस कॉलेज, दिल्ली विश्वविद्यालय से ग्रेजुएट हैं.

पिछले साल, श्रुति शर्मा ने UPSC CSE 2021 परीक्षा में ऑल इंडिया रैंक 1 हासिल की थी. सभी शीर्ष तीन स्थान महिलाओं द्वारा हासिल किए गए थे – अंकिता अग्रवाल ने एआईआर 2 हासिल किया था और चंडीगढ़ की गामिनी सिंगला ने रैंक 3 हासिल की थी.

(एएनआई के इनपुट्स के साथ)


यह भी पढ़ें: सरकारी स्कूलों की निगरानी के लिए 14 राज्यों, 1 केंद्रशासित प्रदेश में खुलेंगे ‘विद्या समीक्षा केंद्र’


share & View comments