scorecardresearch
Friday, 23 February, 2024
होमदेशकेन्द्रीय मंत्री प्रधान ने भुवनेश्वर में रोजगार मेले में बांटे 384 नियुक्ति पत्र

केन्द्रीय मंत्री प्रधान ने भुवनेश्वर में रोजगार मेले में बांटे 384 नियुक्ति पत्र

Text Size:

भुवनेश्वर ,12 फरवरी (भाषा) केन्द्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा शुरू किए गए रोजगार मेले के हिस्से के तहत सोमवार को ओडिशा में विभिन्न विभागों में भर्ती किये गये 384 लोगों को नियुक्ति पत्र दिए।

प्रधान ने कड़ी मेहनत के बाद सफलता हासिल करने वालों को बधाई दी।

उन्होंने कहा कि रोजगार मेले की शुरुआत प्रधानमंत्री मोदी के मार्गदर्शन में हुई और इसका मकसद युवाओं को देश के विकास में सीधे तौर पर शामिल करने के वास्ते अवसर प्रदान करना है। प्रधान ने कहा कि नयी नियुक्ति पाए लोगों की कड़ी मेहनत देश को आगे ले जाएगी।

प्रधान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व से भारत की अर्थव्यवस्था मजबूत है। उन्होंने कहा, ‘‘भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया है और अगले तीन वर्षों में तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।’’

केन्द्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा, ‘‘2047 तक भारत एक विकसित राष्ट्र के लक्ष्य की ओर बढ़ रहा होगा ऐसे में नयी भर्ती पाए लोगों को अगले 25 वर्ष के लिए अपने कौशल को बढ़ाने के वास्ते आज से ही प्रयास करने की आवश्यकता है।’’

वहीं केन्द्रीय मंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने गुवाहाटी में 158 नियुक्ति पत्र वितरित किए।

सोनोवाल ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत 2030 तक दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने की ओर अग्रसर है।

उन्होंने रोजगार मेले को संबोधित करते हुए कहा कि भारत ने ‘स्टार्ट-अप इंडिया’ जैसी पहल से दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप परिवेश तैयार किया है जिसके परिणामस्वरूप देश में युवाओं के लिए असंख्य अवसर पैदा हुए हैं।

केन्द्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री का दृष्टिकोण भारत को अमृत काल के अंत तक पूरी तरह से ‘आत्मनिर्भर’ और सबसे शक्तिशाली राष्ट्र बनाने का है।

रोजगार मेला देश भर में 47 स्थानों पर आयोजित किया गया और यह देश में रोजगार सृजन को सर्वोच्च प्राथमिकता देने की प्रधानमंत्री की प्रतिबद्धता को पूरा करने की दिशा में एक कदम है।

भाषा शोभना वैभव

वैभव

यह खबर ‘भाषा’ न्यूज़ एजेंसी से ‘ऑटो-फीड’ द्वारा ली गई है. इसके कंटेंट के लिए दिप्रिंट जिम्मेदार नहीं है.

share & View comments