Monday, 8 August, 2022
होमदेशअपराधउदयपुर से मंगलुरू तक हेट क्राइम की जांच में हुआ भेदभाव, 2014 से अभी तक के 12 मामले यही बताते हैं

उदयपुर से मंगलुरू तक हेट क्राइम की जांच में हुआ भेदभाव, 2014 से अभी तक के 12 मामले यही बताते हैं

दिप्रिंट ने 2014 से अब तक हुए 12 हेट क्राइम्स की जांच की है, जिसमें हिंदू और मुस्लिम मारे गए थे. हम उन आरोपों, गिरफ्तारी और कोर्ट ट्रायल्स में अभी तक क्या क्या हुआ आपको बता रहे हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: उदयपुर में एक दर्जी कन्हैया लाल तेली का दो मुस्लिम पुरुषों द्वारा आईएसआईएस-शैली में सिर कलम करने से भारत में सांप्रदायिक रूप से बढ़ रही घृणा का पर्दाफाश हुआ. यद्यपि सभी धर्मों के लोगों ने इस नृशंस हत्या की निंदा की, यहां पर हिंदुओं  के लिए सहानुभूति पैदा करने वाला  माहौल बना.

लोगों का एक बड़ा वर्ग सिस्टम पर मुसलमानों का पक्ष लेने का आरोप लगाता है. जैसा कि पिछले हफ्ते से कर्नाटक के मंगलौर में तीन धार्मिक हत्याओं पर पूरे देश की नज़रें लग गई हैं, दिप्रिंट ने आपराधिक अभियोजन और न्याय में पूर्वाग्रहों के दावों की जांच की. हमने 2014 के बाद से 12 व्यापक रूप से रिपोर्ट की गई हेट किलिंग को ट्रैक किया.

 


अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

 



 




 


 

 


 

स्टोरी एलीमेंट्स और ग्राफिक्स- दिप्रिंट टीम

 

share & View comments