scorecardresearch
Monday, 24 June, 2024
होमदेशचाईबासा में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में झारखंड जगुआर के दो जवान शहीद

चाईबासा में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में झारखंड जगुआर के दो जवान शहीद

चाईबासा पुलिस के अनुसार, जिले के चाईबासा शहर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के बाद झारखंड जगुआर यूनिट के एक सब-इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल की जान चली गई.

Text Size:

नई दिल्ली: झारखंड पुलिस विभाग की विशेष इकाई झारखंड जगुआर (जेजे) के दो जवान मंगलवार को चाईबासा में पुलिस की नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में शहीद हो गए.

चाईबासा पुलिस के अनुसार, “कल रात (14 अगस्त) जिले के चाईबासा शहर में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के बाद झारखंड जगुआर यूनिट के एक सब-इंस्पेक्टर और एक कांस्टेबल की जान चली गई.”

यह घटना उसी इलाके में माओवादियों के साथ मुठभेड़ में एक सीआरपीएफ जवान के मारे जाने और एक अन्य के घायल होने के कुछ दिनों बाद हुई. इलाके में तलाशी अभियान चल रहा है.

इससे पहले शुक्रवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने चाईबासा में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ के दौरान जान गंवाने वाले केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कांस्टेबल सुशांत कुमार खुंटिया को श्रद्धांजलि दी थी.

इस महीने की शुरुआत में, झारखंड के कोल्हान क्षेत्र में नक्सलियों के साथ मुठभेड़ में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के कांस्टेबल सुशांत कुमार खुंटिया की जान चली गई, जबकि एक अन्य कांस्टेबल मुन्ना लाल यादव घायल हो गए थे.

वी होमकर, आईजी ऑपरेशंस ने कहा, “अभियान के दौरान जब टीम आगे बढ़ रही थी, तो उनकी नक्सलियों से मुठभेड़ हो गई.”

उन्होंने आगे कहा कि इसमें सीआरपीएफ कांस्टेबल, सुशांत कुमार खुंटिया और मुन्ना लाल यादव घायल हो गए. हमने उन्हें निकाला लेकिन दुख की बात है कि सुशांत कुमार की जान चली गई. फिलहाल मुन्ना लाल खतरे से बाहर हैं.


यह भी पढ़ें: ‘सुरक्षा कारणों से खरगे नहीं गए लाल किला’ स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम में नहीं शामिल हुए कांग्रेस नेता


 

share & View comments