Tuesday, 18 January, 2022
होमदेशअपराधसिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या निहंग ग्रुप ने की, संयुक्त किसान मोर्चा ने की घटना की निंदा

सिंघु बॉर्डर पर युवक की हत्या निहंग ग्रुप ने की, संयुक्त किसान मोर्चा ने की घटना की निंदा

संयुक्त किसान मोर्चा इस नृशंस हत्या की निंदा करते हुए कहा कि हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के खिलाफ हैं, लेकिन इस आधार पर किसी के भी कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं है.

Text Size:

नई दिल्ली: सिंघु बॉर्डर पर शुक्रवार को युवक की हत्या और अंग-भंग करने के मामले को लेकर संयुक्त किसान मोर्चा ने बयान जारी किया है. मोर्चा मुताबिक युवक की हत्या की जिम्मेदारी घटना स्थल पर मौजूद निहंग समूह ने ली है. और यह कहा है कि ऐसा उस व्यक्ति द्वारा सरबलोह ग्रंथ की बेअदबी करने की कोशिश के कारण किया गया. खबर है कि यह मृतक उसी समूह/ग्रुप के साथ पिछले कुछ समय से था.

गौरतलब है कि आज सुबह करीब 5 बजे किसानों का विरोध प्रदर्शन स्थल के पास (कुंडली, सोनीपत) एक अज्ञात व्यक्ति के हाथ, पैर कटा हुआ एक उलटे पुलिस बैरिकेड से बंधा मिला था.

संयुक्त किसान मोर्चा के संज्ञान में आया है कि आज सुबह सिंधु मोर्चा पर पंजाब के एक व्यक्ति (लखबीर सिंह, पुत्र दर्शन सिंह, गांव चीमा कला, थाना सराय अमानत खान, जिला तरनतारन) का अंग भंग कर उसकी हत्या कर दी गई. इस घटना के लिए घटनास्थल के एक निहंग समूह/ग्रुप ने जिम्मेवारी ले ली है, और यह कहा है कि ऐसा उस व्यक्ति द्वारा सरबलोह ग्रंथ की बेअदबी करने की कोशिश के कारण किया गया. खबर है कि यह मृतक उसी समूह/ग्रुप के साथ पिछले कुछ समय से था.

संयुक्त किसान मोर्चा इस नृशंस हत्या की निंदा करते हुए यह स्पष्ट कर देना चाहता है कि इस घटना के दोनों पक्षों, इस निहंग समूह/ग्रुप या मृतक व्यक्ति, का संयुक्त किसान मोर्चा से कोई संबंध नहीं है. हम किसी भी धार्मिक ग्रंथ या प्रतीक की बेअदबी के खिलाफ हैं, लेकिन इस आधार पर किसी भी व्यक्ति या समूह को कानून अपने हाथ में लेने की इजाजत नहीं है. हम यह मांग करते हैं कि इस हत्या और बेअदबी के षड़यंत्र के आरोप की जांच कर दोषियों को कानून के मुताबिक सजा दी जाए. संयुक्त किसान मोर्चा किसी भी कानून सम्मत कार्यवाही में पुलिस और प्रशासन का सहयोग करेगा.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

लोकतांत्रिक और शांतिमय तरीके से चला यह आंदोलन किसी भी हिंसा का विरोध करता है.

संयुक्त किसान मोर्चा की ओर से इस बयान को जारी करने वालों में बलबीर सिंह राजेवाल, डॉ दर्शन पाल, गुरनाम सिंह चढूनी, हन्नान मोल्ला, जगजीत सिंह डल्लेवाल, जोगिंदर सिंह उगराहां, शिवकुमार शर्मा (कक्का जी), युद्धवीर सिंह, योगेंद्र यादव शामिल हैं.

सिंघु बॉर्डर पर एक युवक की हत्या- हाथ, पैर काटकर बैरिकेड से लटकाया

गौरतलब हैकि आज सुबह करीब 5 बजे किसानों का विरोध प्रदर्शन स्थल के पास (कुंडली, सोनीपत) एक अज्ञात व्यक्ति के हाथ, पैर कटा हुआ एक उलटे पुलिस बैरिकेड से बंधा मिला था.

डीएसपी हंसराज ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, थाना कुंडली में सूचना मिली कि जहां किसान आंदोलन चल रहा है उसकी स्टेज के पास एक व्यक्ति के हाथ, पैर काटकर लटकाया हुआ है. उन्होंने बताया कि मृतक ने केवल पतलून पहन रखी थी.

पुलिस ने कहा था पुलिस मौके पर पहुंचकर लोगों से पूछताछ की परन्तु अभी कुछ खुलासा नहीं हो पाया है. मृतक की आयु 35 वर्ष के आसपास होगी. पहचान करने की कोशिश चल रही है. इनवेस्टिगेशन में जो सामने आयेगा वो जल्दी बताय जायगा.

उन्होंने कहा कि एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है और वायरल वीडियो की जांच की जा रही है. इसका कौन जिम्मेदार है, इसकी कोई जानकारी नहीं है. जांच जारी है.

रिपोर्ट के मुताबिक मृतक शव की पहचान लखबीर सिंह के रूप मे हुई है.

 

share & View comments