Friday, 27 May, 2022
होमदेशहनुमान चालीसा का पाठ करने और लाउडस्पीकर बंद करने से नहीं हल होगी कश्मीरी पंडितों की समस्याः संजय राउत

हनुमान चालीसा का पाठ करने और लाउडस्पीकर बंद करने से नहीं हल होगी कश्मीरी पंडितों की समस्याः संजय राउत

शिव सेना नेता संजय राउत ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि उनको घाटी में वापस भेजने के बारे में बातें की जा रही थीं लेकिन मुझे नहीं पता कि पिछले सात सालों में कितने लोगों को वापस भेजा गया है.

Text Size:

मुंबईः शिव सेना सांसद संजय राउत ने शुक्रवार को कहा कि हनुमान चालीसा का पाठ करने और लाउडस्पीकर बंद करने से कश्मीरी पंडितों की समस्या का अंत नहीं होगा इसलिए सरकार को अस्थायित्व का माहौल खत्म करने के लिए कड़े निर्णय लेने चाहिए.

राउत का बयान एक कश्मीर पंडित राहुल भट्ट की बडगाम में आतंकियों द्वारा हत्या कर दिए जाने के एक दिन बाद आया है. रिपोर्टर्स से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘बार-बार पाकिस्तान पर उंगली मत उठाइए. हम कश्मीरी पंडितों के लिए क्या कर रहे हैं? यहां तक कि अनुच्छेद 370 के खत्म होने पर भी वे सुरक्षित नहीं हैं. अब आम आदमी सुरक्षित नहीं है. यह सिर्फ पंडितों तक ही सीमित नहीं है.’

शिव सेना नेता ने कहा, ‘कश्मीर में जो अस्थायित्व का माहौल एक बार फिर बनाया गया है उसे कठोर फैसलों से खत्म किया जा सकता है. हनुमान चालीसा और लाउडस्पीकर जैसे विवाद न ही कश्मीरी पंडितों की समस्या का समाधान करेंगे और न ही कश्मीर का.’

उन्होंने कहा, ‘कश्मीरी पंडित सरकारी कर्मचारी था. यह बार-बार हो रहा है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह कश्मीरी पंडितों को लेकर काफी भावुक हैं. उनको घाटी में वापस भेजने के बारे में बातें की जा रही थीं लेकिन मुझे नहीं पता कि पिछले सात सालों में कितने लोगों को वापस भेजा गया है. लेकिन जो लोग वहां पर हैं उन्हें ही नहीं जीने दिया जा रहा है और उनकी हत्या की जा रही है. गृह मंत्री को इस बारे में काफी गंभीरता से विचार करने की जरूरत है. नौजवान कश्मीरी पंडित की हत्या किया जाना काफी दुखद है.’


यह भी पढ़ेंः राणा दंपती बनाम उद्धव ठाकरे : संजय राउत ने कहा कि शिवसेना के धैर्य की परीक्षा ना लें


 

share & View comments