scorecardresearch
Thursday, 18 July, 2024
होमदेशहंदवाड़ा मुठभेड़ में मारे गए जवानों को पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि, कहा- नहीं भूलेंगे बलिदान

हंदवाड़ा मुठभेड़ में मारे गए जवानों को पीएम मोदी ने दी श्रद्धांजलि, कहा- नहीं भूलेंगे बलिदान

सेना के अधिकारियों ने कहा आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद के अलावा नायक राजेश कुमार, लांस नायक दिनेश और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी भी मारे गए है.

Text Size:

नई दिल्ली: उत्तरी कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंक-रोधी अभियान के दौरान दो अधिकारियों समेत पांच जवानों के मारे जाने  पर रविवार को पीएम नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने शोक जताया है.

पीएम नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर लिखा, ‘हंदवाड़ा में शहीद हुए हमारे साहसी सिपाहियों और सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि. उनके साहस और पराक्रम को कभी भुलाया नहीं ला सकेगा. उन्होंने देश की सेवा पूरी निष्ठा के साथ की और नागरिकों की सुरक्षा में जी जान लगा दी.’

पीएम मोदी ने उनके परिवार के प्रति शोक व्यक्ति किया. रक्षा मंत्री सिह ने भी शोक व्यक्त करते हुए इसे ‘बेहद परेशान करने वाला और दर्द भरा’ करार दिया. सिंह ने कहा कि जवानों ने आतंकवादियों के खिलाफ लड़ाई में साहस की मिसाल पेश की और उनकी बहादुरी और संघर्ष को हमेशा याद किया जाएगा.

वहीं, प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए कहा कि हंदवाड़ा में हुई मुठभेड़ कश्मीर के लोगों की जिंदगियों को सुरक्षित रखने के सुरक्षा बलों के दृढ निश्चय को दर्शाती है.


यह भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ मुठभेड़ में कमांडिंग ऑफिसर आशुतोष शर्मा सहित पांच जवानों ने गंवाई जान


सेना के अधिकारियों ने कहा आतंकवादियों के साथ हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद के अलावा नायक राजेश कुमार, लांस नायक दिनेश और जम्मू-कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी भी शहीद हो गए.

कर्नल शर्मा 21 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर थे तथा उन्हें कश्मीर में दो बार वीरता पदक से सम्मानित किया जा चुका था. जनरल रावत ने कहा, ‘आतंकवादियों के खात्मे को लेकर सुरक्षा बलों को उनकी वीरता पर गर्व है. हम इन वीर जवानों को सलाम करते हैं और शोकाकुल परिवारों के प्रति गहरी संवेदना प्रकट करते हैं.’

रक्षा मंत्री ने ट्वीट किया, ‘हंदवाड़ा में हमारे जवानों और सुरक्षाकर्मियों की क्षति बेहद परेशान करने वाली और दर्द भरी है. इन्होंने आंतकवादियों के खिलाफ अदम्य साहस दिखाया और देश सेवा में बड़ा बलिदान दिया. हम इनकी बहादुरी और संघर्ष को कभी भुला नहीं पाएंगे.’

 

सिंह ने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की. उन्होंने यह भी कहा कि भारत वीर शहीदों के परिवारों के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है.

वहीं, सेना ने एक ट्वीट में कहा कि सेना प्रमुख एमएम नरवणे और बल के सभी रैंक के अधिकारियों ने सेना और पुलिस के जवानों को आतंकवादियों से लड़ते हुए शहीद होने पर श्रद्धांजलि अर्पित की है.

बंधक बनाए गए नागरिकों को बचाने के लिए घर में घुसे थे जवान

उत्तरी कश्मीर में हंदवाड़ा क्षेत्र के एक गांव में आतंकवादियों के साथ मुठभेड़ में एक कर्नल और एक मेजर समेत पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए तथा दो आतंकवादी भी मारे गए.

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने रविवार को कहा, ‘यह सूचित करते हुए दुख हो रहा है कि कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद और जम्मू कश्मीर पुलिस के उपनिरीक्षक शकील काजी समेत पांच बहादुर सुरक्षाकर्मी कर्तव्य पालन करते हुए शहीद हो गए.’

उन्होंने बताया कि कर्नल और उनकी टीम ने आतंकवादियों द्वारा बंधक बनाए गए नागरिकों को बहादुरी से मुक्त करा लिया. मुठभेड़ में दो आतंकवादी भी मारे गए.

सेना ने बताया कि कुपवाड़ा जिले में हंदवाड़ा के चंगीमुल्ला इलाके में एक मकान में आतंकवादियों द्वारा कुछ नागरिकों को बंधक बनाए जाने की खुफिया सूचना मिलने के बाद सेना तथा जम्मू कश्मीर पुलिस ने एक संयुक्त अभियान चलाया था.

इसने बताया कि पांच सैन्य और पुलिस कर्मियों की टीम नागरिकों को छुड़ाने के लिए आतंकवादियों के कब्जे वाले इलाके में घुसी और नागरिकों को सफलतापूर्वक बचा लिया.

सेना ने बताया कि हालांकि इस प्रक्रिया के दौरान आतंकवादियों ने टीम पर भारी गोलीबारी की और इसके बाद हुई मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए तथा पांच सुरक्षाकर्मी शहीद हो गए.

अधिकारियों ने बताया कि ऐसा माना जा रहा है कि आतंकवादी पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर से घुसपैठ करने वाले एक समूह को लेने के लिए हंदवाड़ा पहुंचे थे.

कर्नल आशुतोष शर्मा और मेजर अनुज सूद के अलावा मुठभेड़ में नायक राजेश और लांस नायक दिनेश भी शहीद हो गए.

कर्नल शर्मा 21 राष्ट्रीय राइफल्स के कमांडिंग ऑफिसर थे तथा उन्हें कश्मीर में दो बार वीरता पदक से सम्मानित किया जा चुका था.

अधिकारियों ने बताया कि यहां एक श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया जाएगा जिसके बाद कर्नल शर्मा के पार्थिव शरीर को उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर ले जाया जाएगा तथा मेजर सूद के पार्थिव शरीर को चंडीगढ़ ले जाया जाएगा.

share & View comments