scorecardresearch
Thursday, 25 April, 2024
होमदेशहमारे आरोपों की पुष्टि हुई ईंधन की कीमतें भारी टैक्स की वजह से बढ़ी: पी चिदंबरम

हमारे आरोपों की पुष्टि हुई ईंधन की कीमतें भारी टैक्स की वजह से बढ़ी: पी चिदंबरम

पी चिदंबरम ने लिखा कि उपचुनावों के नतीजों का यह नतीजा है. केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में कटौती की है.

Text Size:

नई दिल्ली: गुरुवार को कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने केंद्र सरकार पर तंज़ कसते हुए कहा कि हालिया उपचुनावों के नतीजों के कारण पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में कमी की गई.

पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने ट्वीट किया, ‘30 विधानसभा सीटों और तीन लोकसभा सीटों के उपचुनावों के नतीजों का यह नतीजा है. केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में कटौती की है.’

उन्होंने कहा, ‘इससे हमारे इस आरोप की पुष्टि होती है कि ईंधन की कीमतें भारी टैक्स की वजह से बढ़ी हुई हैं. हमारा आरोप है कि ये भारी टैक्स केंद्र सरकार की लालच की वजह से हैं.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

गौरतलब है कि सरकार ने आम लोगों को महंगाई से कुछ राहत देने के लिए बुधवार को महत्वपूर्ण कदम उठाया. ईंधन के दाम रिकॉर्ड स्तर पर पहुंचने के बाद केंद्र ने पेट्रोल पर पांच रुपए और डीजल पर 10 रुपए की एक्साइज ड्यूटी में कटौती की गई थी.

उधर, केंद्र सरकार के ईंधन की कीमतों पर एक्साइज ड्यूटी में कटौती किए जाने के एक दिन बाद मिजोरम सरकार ने गुरूवार को पेट्रोल और डीजल की कीमत सात रुपए प्रति लीटर घटा दी. मिजोरम के मुख्यमंत्री जोरामथंगा ने ट्वीट कर यह जानकारी दी.

उन्होंने लिखा कि ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘प्रगतिशील निर्णय’ लिया है और केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने राज्य सरकार को इसकी जानकारी दी. यह बताते हुए खुशी हो रही है कि मिजोरम सरकार ने पेट्रोल और डीजल पर वैट सात रुपए प्रति लीटर घटाने का निर्णय लिया है और यह आज से लागू होगा.’

बता दें कि मिजोरम के अलावा असम, त्रिपुरा, मणिपुर, कर्नाटक, गोवा, उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, बिहार, ओडिशा, सिक्किम और जम्मू-कश्मीर ने भी वैट कटौती की घोषणा की है.


यह भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती से राजकोष पर पड़ेगा 45 हजार करोड़ रुपये का असर: रिपोर्ट


 

share & View comments