scorecardresearch
Saturday, 22 June, 2024
होमदेशदुष्यंत चौटाला ने नूंह हिंसा को लेकर यात्रा निकालने वालों पर उठाए सवाल, कहा- होगी कड़ी कार्रवाई

दुष्यंत चौटाला ने नूंह हिंसा को लेकर यात्रा निकालने वालों पर उठाए सवाल, कहा- होगी कड़ी कार्रवाई

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री और जेजेपी प्रमुख चौटाला ने कहा कि यात्रा की पूरी जानकारी नहीं दी गई, जिस वजह से ये घटना हुई. जिम्मेदार लोगों पर कड़ी कार्रवाई होगी.

Text Size:

नई दिल्ली : हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने नूंह में साम्प्रदायिक घटना को लेकर यात्रा पर सवाल खड़ा किया है. उन्होंने कहा यात्रा निकालने वालों लोगों ने इसकी पूरी जानकारी नहीं दी, जिस वजह से यह घटना घटी. इस हिंसा के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. वहीं मौके पर आज रैपिड फोर्स ने गुरुग्राम में फ्लैग मार्च निकाला और अब स्थिति को सामान्य बताया है.

विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) और बजरंग दल ने हरियाणा हिंसा को लेकर आज देशव्यापी प्रदर्शन की बात कही है.

उपमुख्यमंत्री और जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) प्रमुख्य दुष्यंत चौटाल ने राज्य में हिंसा की घटनाओं पर कहा, “यात्रा आयोजित करने वाले लोगों ने इसकी पूरी जानकारी नहीं दी थी. इस वजह से यह घटना घटी…जो लोग इस घटना के लिए जिम्मेदार पाए जाएंगे उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी.”

VHP, बजरंग दल का आज देशव्यापी विरोध प्रदर्शन 

दिप्रिंट की उन्नति शर्मा के इनपुट्स के मुताबिक विश्व हिंदू परिषद (वीएचपी) और उसकी युवा शाखा बजरंग दल ने आज हरियाणा में हुई हिंसा के जवाब में देशव्यापी विरोध प्रदर्शन की योजना बनाई है. यह घोषणा तब हुई जब नूंह जिले में एक धार्मिक जुलूस के दौरान हिंसा भड़की, जिससे सांप्रदायिक तनाव गुरुग्राम सहित आसपास के क्षेत्रों में फैल गया.

मंगलवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में VHP के अंतरराष्ट्रीय संयुक्त महासचिव सुरेंद्र जैन ने हिंसा में मारे गए लोगों के लिए 1 करोड़ रुपये और घायलों के लिए 20 लाख रुपये के मुआवजे की मांग की.

प्रेस कॉन्फ्रेंस में वीएचपी के सुरेंद्र जैन ने कांग्रेस विधायक मम्मन खान और आफताब अहमद पर मुसलमानों को भड़काने का आरोप लगाया है. खान फिरोजपुर झिरका से विधायक हैं, जबकि अहमद हरियाणा विधानसभा में नूंह का प्रतिनिधित्व करते हैं.

उन्होंने आरोप लगाया, ”ये धर्मनिरपेक्ष और मुस्लिम नेता मुस्लिम आबादी को लगातार यह महसूस कराते रहते हैं कि वे खतरे में हैं, उनका सफाया हो जाएगा.” “इसके लिए ओवैसी (ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी) जैसे लोग भी जिम्मेदार हैं जो कहते हैं कि मुसलमानों को उकसाया गया था. अगर उन्हें उकसाया गया तो क्या वे किसी की भी हत्या कर सकते हैं?”

जैन के अनुसार, “सोमवार को लगभग 20,000-25,000 लोग (मंदिरों में) पहुंचे. यात्रा को 15 मिनट भी नहीं बीते थे कि उपद्रवियों ने पथराव और आगजनी शुरू कर दी. उन पर पेट्रोल बम फेंके गए और बड़ी मुश्किल से हम कुछ लोगों को बचाने और उन्हें नल्हड़ महादेव मंदिर (नूंह में) वापस लाने में सफल रहे.”

गुरुग्राम में रैपिड एकशन फोर्स ने निकाला फ्लैग मार्च

वहीं, रैपिड एक्शन फोर्स के कर्मियों ने बुधवार सुबह नूंह जिले में पैदा हुए तनाव को लेकर गुरुग्राम के बादशाहपुर में फ्लैग मार्च निकाला.

31 जुलाई को दो समूहों में हुई हिंसा के मद्देनजर नूंह से सटे फरीदाबाद, पलवल, और गुरुग्राम जिले में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी गई है. नूंह में सोमवार से 48 घंटे के लिए धारा-144 लगाई गई है और जिले में मोबाइल सेवाओं को अस्थाई रूप से सस्पेंड किया गया है.

मंगलवार को, गुरुग्राम के बादशाहपुर में सोहना रोड पर हिंसा की ताजा घटना रिपोर्ट की गई. सहायक पुलिस आयुक्त वरुण दहिया (अपराध), गुरुग्राम ने आज कहा, “सभी स्कूल, कालेज, और कार्य स्थल सामान्य तौर से चालू हो गए हैं. ट्रैफिक के आवागमन पर कोई प्रतिबंध नहीं है. इंटरनेट भी संचालित है. मैं सभी से अपील करूंगा कि वे सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही अफवाहों पर ध्यान न दें. अगर कोई किसी तरह की रिपोर्ट कराना चाहता है, तो वे हेल्पलाइन नंबर 112 पर संपर्क कर सकते हैं.”

सीएम खट्टर ने घटना के पीछे साजिश का आरोप लगाया

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कल कहा था कि सोमवार को हुई झड़प के पीछे ‘षड़यंत्र’ लग रहा है. खट्टर ने घटना को ‘दुर्भाग्यपूर्ण’ बताया और कहा कि झड़पें कई जगहों पर हुईं और इस हिंसा के पीछे बड़ी साजिश प्रतीत हो रही है.

खट्टर ने कहा, “यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है. एक यात्रा का आयोजन किया जा रहा था, जिस दौरान कुछ लोगों ने यात्रियों और पुलिस पर हमले की साजिश रची. हिंसा की घटनाएं कई जगहों पर रिपोर्ट की गई हैं. इसके पीछे एक बड़ी साजिश प्रतीत होती है.”

हालांकि, हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला ने कहा कि नूंह जिले में हिंसा को रोका जा सकता था अगर यात्रा के आयोजक इसके बारे में जिला प्रशासन को पूरी जानकारी दिए होते.

जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के नेता चौटाला ने राज्य में हिंसा की घटना पर कहा, “जो लोग जिम्मेदार पाए जाएंगे उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.”

सोमवार को नूंह में हुई झड़प में गोली मारे जाने से दो होमगार्ड समेत कुल पांच लोगों की मौत हुई है. मृतक होमगार्ड की पहचान नीरज और गुरुसेवक के रूप में हुई है जो खेदाली दौला पुलिस स्टेशन पर तैनात थे.

नूंह जिले में और आसपास भारी संख्या में पुलिस बल को तैनात किया गया है. नूंह में कर्फ्यू भी लगाया गया है और कुछ जगहों पर धारा 144 लगाई गई है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बताया कि लगभग 44 एफआईआर दर्ज की गई हैं और 70 लोगों को हिरासत में लिया गया है. खट्टर ने स्थानीय लोगों से शांति की अपील भी की है.

नूंह में केंद्रीय बलों की 16 कंपनियां और हरियाणा पुलिस की 20 कंपनियां तैनात की गई हैं.

डिप्टी कमिश्नर निशांत यादव ने मंगलवार को कहा कि हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं और सामान्य स्थिति बहाल हो गई है व बाजारों को खोल दिया गया है.

डिप्टी कमिश्नर यादव ने कहा, “गुरुग्राम में हालात पूरी तरह नियंत्रण में हैं, सोहना हमारा मुख्य फोकस एरिया है, वहां शांति समिति की एक बैठक की गई, सामान्य स्थिति बहाल हो गई है और बाजार खुल गए हैं. हमने फ्लैग मार्च भी कराया है.” उन्होंने कहा, “गुरुग्रमा के सेक्टर 57 मस्जिद में एक मौत की घटना रिपोर्ट की गई है, सोहना में 5 वाहनों को आग लगाई गई और 2 से 3 दुकानें तहस-नहस की गई हैं.”

होमगार्डों के परिजनों को 57-57 लाख मुआवजे की घोषणा

वहीं एक दिन पहले हरियाणा पुलिस ने नूंह में हुई हिंसा में जान गंवाने वाले दो होमगार्ड के परिवारों को 57-57 लाख रुपये का मुआवजा देने की मंगलवार को घोषणा की है.

गौरतलब है कि नूंह में दो होमगार्ड सहित चार लोगों की मौत हुई है और कई अन्य घायल हुए हैं, जहां भीड़ ने विश्व हिंदू परिषद के जुलूस को रोकने की कोशिश की थी, जबकि गुरुग्राम में एक मस्जिद में एक नायब इमाम की हत्या कर दी गई थी.

एक बयान में कहा गया है, “हरियाणा पुलिस दुख की इस घड़ी में शोक संतप्त परिवारों के साथ खड़ी है. कोई भी राशि किसी प्रियजन को खोने से हुए नुकसान की भरपाई नहीं कर सकती, लेकिन फिर भी हरियाणा पुलिस की ओर से शोकाकुल परिवारों को 57-57 लाख रुपये और हर प्रकार की मदद प्रदान की जाएगी.”


यह भी पढ़ें : VHP, बजरंग दल ने हरियाणा हिंसा के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन की घोषणा की, बोले- ये सब बर्दाश्त नहीं


 

share & View comments