scorecardresearch
Sunday, 26 May, 2024
होमदेशयूपी के लखनऊ कोर्ट में हुए फायरिंग में गैंगस्टर संजीव के मारे जाने के बाद कानपुर में धारा 144 लागू

यूपी के लखनऊ कोर्ट में हुए फायरिंग में गैंगस्टर संजीव के मारे जाने के बाद कानपुर में धारा 144 लागू

गैंगस्टर संजीव उर्फ ​​जीवा को बुधवार को सुनवाई के लिए लाए जाने के बाद कोर्ट परिसर में ही उसे गोली मार दी गई थी.

Text Size:

नई दिल्ली: सुनवाई से पहले गैंगस्टर संजीव उर्फ ​​जीवा को लखनऊ कोर्ट परिसर में गोली मारने की घटना के बाद कानपुर में धारा 144 लागू कर दी गई है.

कानपुर के अतिरिक्त पुलिस आयुक्त आनंद प्रकाश तिवारी ने बुधवार को कहा, “कानपुर शहर में धारा 144 लागू की गई है जिसका उद्देश्य कानून व्यवस्था बनाए रखना है.”

गैंगस्टर संजीव उर्फ ​​जीवा को बुधवार को सुनवाई के लिए लाए जाने के बाद कोर्ट परिसर में ही उसे गोली मार दी गई थी.

बाद में, पुलिस ने पुष्टि की कि गैंगस्टर ने दम तोड़ दिया.

उत्तर प्रदेश के विशेष पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बुधवार को आदेश जारी कर सभी जिला पुलिस अधीक्षकों को गोलीबारी की घटना के बाद तत्काल सभी जिला अदालतों में सुरक्षा बढ़ाने का निर्देश दिया.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

कुमार के हवाले से एक आधिकारिक बयान में कहा गया है कि कोर्ट परिसर में मेटल डिटेक्टर और अन्य उपकरण भी लगाए जाएंगे.

प्रशांत कुमार ने अपने आदेश में कहा कि, “जिला न्यायाधीश/जिला दंडाधिकारी एवं बार एसोसिएशन के पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित कर सभी न्यायालय परिसर में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं.” उन्होंने आगे कहा, “जिले और कमिश्नरेट में अदालतों की सुरक्षा की समीक्षा की जानी चाहिए. अदालतों में पेश होने वाले अभियुक्तों के लिए सुरक्षा व्यवस्था को मजबूत किया जाना चाहिए. खुफिया और सोशल मीडिया सेल को भी इस संबंध में सक्रिय और सतर्क किया जाना चाहिए.”

हालांकि, मुख्यमंत्री कार्यालय के एक आधिकारिक बयान के अनुसार, मोहित अग्रवाल, एडीजी तकनीकी सहित तीन सदस्यीय एसआईटी; घटना की जांच के लिए लखनऊ के ज्वाइंट सीपी नीलाब्जा चौधरी और अयोध्या के आईजी प्रवीण कुमार का गठन किया गया है.

लखनऊ के पुलिस उपायुक्त (डीसीपी), राहुल राज ने कहा, “संजीव जीवा को आज गोली मारी गई और उसकी मौत हो गई. हमारे दो कांस्टेबलों को भी चोटें आईं, लेकिन वे खतरे से बाहर हैं. फिलहाल उनका इलाज चल रहा है.”

गौरतलब है कि, भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के मंत्री ब्रह्मदत्त द्विवेदी के हत्यारे और गैंगस्टर मुख्तार अंसारी का शूटर संजीव माहेश्वरी उर्फ जीवा की गुरुवार को लखनऊ में स्थानीय अदालत परिसर में गोली मार कर हत्या कर दी गई.

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक, हमलावर वकील के भेष में कोर्ट पहुंचे थे और उसने कोर्ट परिसर में जीवा की गोली मार कर हत्या कर दी.

पुलिस ने एक शूटर को गिरफ्तार भी किया है, जिसका नाम विजय यादव बताया जा रहा है.


यह भी पढ़ें: अब 23 जून को तय हुई पटना में विपक्षी दलों की मीटिंग, सभी पार्टियों के प्रमुख लेंगे हिस्सा


share & View comments