scorecardresearch
Wednesday, 21 February, 2024
होमदेशभारत की अध्यक्षता में G-20 विदेश मंत्रियों की बैठक 'सबसे बड़ी बैठकों में से एक' - फॉरेन सेक्रटरी

भारत की अध्यक्षता में G-20 विदेश मंत्रियों की बैठक ‘सबसे बड़ी बैठकों में से एक’ – फॉरेन सेक्रटरी

G20 विदेश मंत्रियों की बैठक, भारत की चल रही G20 अध्यक्षता के तहत, गुरुवार (2 मार्च) को आयोजित की जाएगी, लेकिन इसकी शुरुआत बुधवार की रात एक शानदार डिनर के साथ होगी.

Text Size:

नई दिल्ली: भारत की अध्यक्षता में दिल्ली में आयोजित G-20 विदेश मंत्रियों की बैठक अब तक किसी भी G-20 प्रेसीडेंसी द्वारा आयोजित विदेश मंत्रियों की सबसे बड़ी बैठक में से एक है.

G20 विदेश मंत्रियों की बैठक पर फॉरेन सेक्रेटरी विनय मोहन क्वात्रा ने कहा, ‘यह किसी भी G20 अध्यक्षता द्वारा आयोजित विदेश मंत्रियों की सबसे बड़ी बैठकों में से एक है.’

G20 एफएमएम को राष्ट्रपति भवन में आयोजित किया गया. इसमें कुल 40 प्रतिनिधिमंडलों – अर्जेंटीना, ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, चीन, यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी, मेजबान के रूप में भारत, तत्काल पूर्व राष्ट्रपति और आसियान अध्यक्ष दोनों के रूप में इंडोनेशिया, इटली, जापान, मैक्सिको, दक्षिण कोरिया, रूस, सऊदी अरब, दक्षिण अफ्रीका, तुर्की, यूके, यूएस, सभी G20 सदस्य देशों के बैठक में भाग लेने की उम्मीद है.

एफएम के स्तर पर भाग लेने वाले 9 अतिथि देशों में बांग्लादेश, मिस्र, मॉरीशस, नीदरलैंड, नाइजीरिया, ओमान, सिंगापुर, स्पेन और यूएई हैं.

सबसे बड़ी सभाओं में से एक

क्वात्रा ने कहा, ‘इन देशों की भागीदारी के अलावा, जिसके बारे में मैंने कहा था कि इसमें 40 से अधिक प्रतिनिधिमंडल शामिल हैं, इसमें 13 अंतर्राष्ट्रीय संगठन भी शामिल होंगे. निश्चित रूप से, यह किसी भी G20 प्रेसीडेंसी द्वारा आयोजित FMs की सबसे बड़ी सभाओं में से एक है जिसकी मेजबानी करना हमारे लिए सौभाग्य की बात होगी.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

G20 विदेश मंत्रियों की बैठक, भारत की चल रही G20 अध्यक्षता के तहत, गुरुवार (2 मार्च) को आयोजित की जाएगी, लेकिन इसकी शुरुआत बुधवार की रात एक शानदार डिनर के साथ होगी.

विदेश सचिव ने कहा, ‘यह हमारे विदेश मंत्री एस जयशंकर की अध्यक्षता में होगा. यह हमारी अध्यक्षता में होने वाली दूसरी मंत्रिस्तरीय बैठक होगी. पहली मंत्रिस्तरीय बैठक अभी बेंगलुरु में संपन्न हुई है, जो वित्त मंत्रियों और केंद्रीय बैंक के गवर्नरों की थी.’

क्वात्रा ने जापान के विदेश मंत्री योशिमासा हयाशी के बारे में भी बात की जो बैठक में शामिल नहीं होंगे.

उन्होंने कहा, ‘हम समझते हैं कि जापानी विदेश मंत्री अपनी घरेलू मजबूरियों के कारण नहीं आ पा रहे हैं, लेकिन हम आने वाले जापानी प्रतिनिधिमंडल के परामर्श से एक बहुत सक्रिय भागीदारी और सक्रिय समर्थन की उम्मीद कर रहे हैं.’

भारत के G-20 प्रेसीडेंसी का विषय ‘वसुधैव कुटुम्बकम’ या ‘वन अर्थ, वन फैमिली, वन फ्यूचर’ है.


यह भी पढ़ें: कांग्रेस महाधिवेशन के 3 दिन- राहुल की ‘मैं, मुझे, मेरा’, थरूर का पार्टी के असली संकट की ओर इशारा


share & View comments