scorecardresearch
Thursday, 8 June, 2023
होमBudget'वित्तमंत्री बेरोजगारी, गरीबी, असमानता पर नहीं बोलीं', चिदंबरम ने बजट 2023 पर खड़ा किया सवाल

‘वित्तमंत्री बेरोजगारी, गरीबी, असमानता पर नहीं बोलीं’, चिदंबरम ने बजट 2023 पर खड़ा किया सवाल

पूर्व वित्त मंत्री चिदंबरम ने कहा कि इस बजट से किसे फायदा हुआ है? निश्चित रूप से गरीब को नहीं, नौकरी की तलाश में भटक रहे युवा को नहीं, नौकरी से निकाले गए युवा को नहीं, बड़ी संख्या में करदाता को नहीं और गृहिणी को नहीं.

Text Size:

नई दिल्ली: यूपीए सरकार में पूर्व वित्तमंत्री और कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को निर्मला सीतारमण द्वारा पेश बजट पर सवाल खड़ा किया. उन्होंने लाइव प्रेस कॉन्फ्रेंस में मोदी सरकार पर बेरोजगारों, युवाओं, मजदूरों, किसानों की परवाह न करने का आरोप लगाया है.

उन्होंने कहा, ‘बजट से पता चलता है कि सरकार लोगों और उनके जीवन व आजीविका के बारे में उनकी चिंताओं, अमीर और गरीब के बीच बढ़ती असमानता के बारे में कोई परवाह नहीं है. वित्तमंत्री ने अपने भाषण में कहीं भी बेरोजगारी, गरीबी या असमानता जैसे शब्दों का जिक्र नहीं किया.’

उन्होंने कहा कि 1% लोगों के हाथों में धन जमा हो रहा है.

पूर्व वित्त मंत्री और कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम ने कहा कि इस बजट से किसे फायदा हुआ है? निश्चित रूप से गरीब को नहीं, नौकरी की तलाश में भटक रहे युवा को नहीं, नौकरी से निकाले गए युवा को नहीं, बड़ी संख्या में करदाता को नहीं और गृहिणी को नहीं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

वहीं प्रेस कॉन्फ्रेंस में मौजूद कांग्रेस के प्रवक्ता गौरव बल्लभ ने कहा कि ‘ताज्जुब है कि सरकार स्कीमों में जितना खर्च करने का सोचती है, उतना खर्च नहीं कर पाती. कृषि पर सरकार ने 83,521 करोड़ खर्च करने का सोचा, उसे संशोधित कर 76,279 करोड़ कर दिया. PM किसान पर 68,000 करोड़ खर्च करने का अनुमान था, खर्च हुए 60,000 करोड़.’

उन्होंने कहा कि यह बजट अहमदाबाद की ‘GIFT City’ को फोकस कर रहा है. उसको एक मेजर बिजनेस हब के तौर पर बढ़ाना चाहता है और उसे फाइनेंशियल सेंटर के रूप में डेवलप करना चाहता है.


यह भी पढ़ें : Budget 2023: अफगानिस्तान को विकास के लिए मिलेगा पूरा फंड, श्रीलंका, म्यांमार के लिए कटौती


 

share & View comments