Saturday, 4 December, 2021
होमदेशअर्थजगतरुपये की गिरावट जारी- अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 16 पैसे टूटा, सेंसेक्स 700 अंक नीचे पहुंचा

रुपये की गिरावट जारी- अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 16 पैसे टूटा, सेंसेक्स 700 अंक नीचे पहुंचा

अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 74.55 पर आ गया, 30-शेयर वाला सूचकांक 264.20 अंक या 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 58,201.69 पर पहुंच गया.

Text Size:

मुंबई: घरेलू शेयर बाजार में नरम रुख और मजबूत अमेरिकी डॉलर के कारण निवेशकों की धारणा प्रभावित होने की वजह से भारतीय रुपया मंगलवार को शुरुआती कारोबार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 16 पैसे गिरकर 74.55 पर आ गया.

अंतर बैंक विदेशी मुद्रा विनिमय में, रुपया कमजोर नोट पर 74.48 पर खुला, फिर और गिरकर अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.55 पर आ गया, जिसमें पिछले बंद से 16 पैसे की गिरावट दर्ज की गई.

सोमवार को रुपया अमेरिकी डॉलर के मुकाबले 74.39 पर बंद हुआ था.

डॉलर सूचकांक 0.01 प्रतिशत बढ़कर 96.55 पर पहुंच गया.

शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 700 अंक से अधिक गिरा; निफ्टी 264 अंक गिरा

लगातार विदेशी फंडों के बहिर्वाह के बीच प्रमुख कंपनियों इंफोसिस, आईसीआईसीआई बैंक और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयर गिरने के बीच सेंसेक्स मंगलवार को शुरुआती कारोबार में 700 अंक से अधिक गिर गया.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

शुरुआती कारोबार में 57,718.34 के निचले स्तर को छूने के बाद, 30-शेयर वाला सूचकांक 264.20 अंक या 0.45 प्रतिशत की गिरावट के साथ 58,201.69 पर आ गया.

इसी तरह निफ्टी 89.05 अंक या 0.51 फीसदी की गिरावट के साथ 17,327.50 पर कारोबार कर रहा था. शुरुआती कारोबार में यह 17,216.10 तक गिर गया था.

सेंसेक्स पैक में सबसे अधिक शेयर इंफोसिस के गिरे, जिसके शेयर में लगभग दो प्रतिशत की गिरावट आई, इसके बाद आईसीआईसीआई बैंक, एचयूएल, बजाज ऑटो, रिलायंस इंडस्ट्रीज और टीसीएस का स्थान रहा.

दूसरी ओर, टाटा स्टील, पावरग्रिड, बजाज फाइनेंस और आईटीसी के शेयर ऊपर चढ़े.

पिछले सत्र में सेंसेक्स 1,170.12 अंक या 1.96 प्रतिशत गिरकर 58,465.89 पर और निफ्टी 348.25 अंक या 1.96 प्रतिशत गिरकर 17,416.55 पर बंद हुआ था.

विदेशी संस्थागत निवेशक (एफआईआई) पूंजी बाजार में शुद्ध विक्रेता थे, क्योंकि उन्होंने शेयर बाजार के आंकड़ों के अनुसार सोमवार को 3,438.76 करोड़ रुपये के शेयर बेचे.

एशिया में अन्य जगहों की बात करें तो, हांगकांग और सियोल के शेयर बाजार मध्य सत्र में घाटे के साथ कारोबार कर रहे थे, जबकि शंघाई और टोक्यो के शेयर बाजार अच्छा कारोबार कर रहे थे.

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल बेंचमार्क ब्रेंट क्रूड 0.45 प्रतिशत गिरकर 79.34 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया.

share & View comments