scorecardresearch
Thursday, 18 July, 2024
होमदेशअर्थजगतबाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 1,223 अंक चढ़ा, निफ्टी 332 अंक मजबूत

बाजार में लगातार दूसरे दिन तेजी, सेंसेक्स 1,223 अंक चढ़ा, निफ्टी 332 अंक मजबूत

Text Size:

मुंबई, नौ मार्च (भाषा) यूक्रेन संकट दूर करने के लिए कूटनीतिक प्रयासों से उम्मीद लगाए बैठे निवेशकों के अनुकूल रुख से घरेलू शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला बुधवार को भी जारी रहा। पेट्रोलियम एवं ऊर्जा, वित्तीय और आईटी कंपनियों को मिले समर्थन से दोनों मानक सूचकांक दो प्रतिशत से भी ज्यादा चढ़ गए।

बीएसई के तीस शेयरों वाले मानक सूचकांक सेंसेक्स की शुरुआत सकारात्मक हुई और निवेशकों के समर्थन से एक समय यह 1,469.64 अंक तक की बढ़त लेने में सफल रहा। हालांकि, बाद में मुनाफावसूली से इसका लाभ कुछ कम हुआ। कारोबार के अंत में यह 1,223.24 अंक यानी 2.29 प्रतिशत की बढ़त के साथ 54,647.33 अंक पर बंद हुआ।

इसी तरह नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के निफ्टी में भी 331.90 अंक यानी 2.07 प्रतिशत तक की तेजी दर्ज की गई। कारोबार के अंत में यह 16,345.35 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स में शामिल कंपनियों में से एशियन पेंट्स, रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड, बजाज फाइनेंस, महिंद्रा एंड महिंद्रा, इंडसइंड बैंक, बजाज फिनसर्व, मारुति सुजुकी, एचडीएफसी बैंक और अल्ट्राटेक सीमेंट फायदे में रहीं।

एशियन पेंट्स सर्वाधिक 5.56 प्रतिशत के लाभ में रही। इसके बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 5.24 प्रतिशत की बढ़त लेने में सफल रहा। बजाज फिनसर्व में पांच प्रतिशत और एचडीएफसी बैंक में 3.29 प्रतिशत का लाभ रहा।

आईटी क्षेत्र की कंपनियों में टेक महिंद्रा का शेयर 2.85 प्रतिशत, इन्फोसिस 1.97 प्रतिशत और टीसीएस एक प्रतिशत तक की बढ़त दर्ज करने में सफल रहे।

वहीं बैंकिंग क्षेत्र में इंडसइंड बैंक के शेयर चार प्रतिशत तक उछल गए।

इसकी तुलना में पावरग्रिड कॉरपोरेशन, एनटीपीसी, टाटा स्टील, नेस्ले इंडिया और विप्रो के शेयर नुकसान में रहे।

एलकेपी सिक्योरिटीज के शोध प्रमुख एस रंगनाथन ने कहा, ‘‘यूक्रेनी राष्ट्रपति के नाटो की सदस्यता से पीछे हटने वाले बयान से दलाल स्ट्रीट के तेजडि़यों को समर्थन मिला और वे कारोबार पर हावी हो गए।’’ इस मसले पर यूक्रेन और रूस के शीर्ष राजनयिकों के बीच बृहस्पतिवार को मुलाकात होने वाली है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के शोध प्रमुख विनोद नायर ने कहा, ‘‘घरेलू सूचकांकों ने मंगलवार को बाजार में आई तेजी का सिलसिला आज भी कायम रखा। यूरोपीय बाजारों एवं अमेरिकी वायदा कारोबार में सुस्ती के बीच निवेशकों को भारतीय बाजार अपना मौजूदा मूल्यांकन बेहतर लग रहा है।’’

नायर ने कहा कि घरेलू बाजार विधानसभा चुनावों पर आए एग्जिट पोल पर सकारात्मक रुख दिखा रहा है। उन्होंने कहा कि पांच राज्यों के चुनाव नतीजों के सकारात्मक या नकारात्मक रहने के आधार पर बाजार का अगला रुख निर्भर करेगा।

बुधवार के कारोबार की एक खास बात यह रही कि विमानन क्षेत्र की कंपनियों को तगड़ा समर्थन मिला। दो साल के लंबे अंतराल के बाद अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने की सरकार की घोषणा से विमानन क्षेत्र के शेयरों की मांग बढ़ गई। इंटरग्लोब एविएशन का शेयर 6.94 प्रतिशत और स्पाइसजेट का शेयर 6.05 प्रतिशत चढ़ गया।

स्वस्तिका इन्वेस्टमार्ट लिमिटेड के शोध प्रमुख संतोष मीणा का मानना है कि घरेलू बाजार में अगले एक-दिन तक विधानसभा चुनावों के नतीजों का असर देखने को मिल सकता है।

एशिया के अन्य बाजारों में हांगकांग, शंघाई और तोक्यो में गिरावट रही। अमेरिका के शेयर बाजार मंगलवार को नकारात्मक स्तर पर बंद हुए थे।

वहीं यूरोपीय बाजारों में कारोबार की शुरुआत मजबूती के साथ हुई।

इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 1.22 प्रतिशत की गिरावट के साथ 126.4 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।

भारतीय बाजार में विदेशी निवेशकों की बिकवाली का सिलसिला कायम है। उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक, विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 8,142.60 करोड़ रुपये के शेयर बेचे।

भाषा

प्रेम अजय

अजय

यह खबर ‘भाषा’ न्यूज़ एजेंसी से ‘ऑटो-फीड’ द्वारा ली गई है. इसके कंटेट के लिए दिप्रिंट जिम्मेदार नहीं है.

share & View comments