scorecardresearch
Wednesday, 19 June, 2024
होमदेशअपराधमन्दिर क्षति मामले में गृहमंत्री ने दिल्ली पुलिस आयुक्त से ली जानकारी, हौज काज़ी में स्थिति सामान्य

मन्दिर क्षति मामले में गृहमंत्री ने दिल्ली पुलिस आयुक्त से ली जानकारी, हौज काज़ी में स्थिति सामान्य

हार्डवेयर और बेकरी के थोक सामानों के लिए प्रसिद्ध हौज काज़ी क्षेत्र में दुकानें खुलनी शुरू हो गई हैं. एहतियात के तौर पर पुलिस और सीआरपीएफ मौजूद है.

Text Size:

नई दिल्ली: पुरानी दिल्ली के हौज काज़ी में पार्किंग विवाद और मन्दिर में हुई तोड़फोड़ पर बुधवार को गृहमंत्री अमित शाह ने दिल्ली के पुलिस आयुक्त अमूल्य पटनायक को तलब है किया है. चांदनी चौक की इस घटना को लेकर शाह ने पटनायक को फटकार लगाई है.

मीडिया से बात करते हुए दिल्ली पुलिस आयुक्त ने कहा कि गृहमंत्री अमित शाह से मिलकर उन्हें हालात के बारे में जानकारी दी है. हौज काज़ीं में स्थिति सामान्य हैं. चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

दिल्ली पुलिस के अनुसार 30 जून को मन्दिर में तोड़फोड़ करने के मामले में गिरफ्तार दो लोगों में मोहम्मद अनस और मोहम्मद जुबैर का नाम शामिल हैं. अनस पर पहले से ही स्नैचिंग और आर्म्स एक्ट के दो मामले दर्ज हैं. मामले में एक किशोर सहित कुल चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है.

वहीं पुरानी दिल्ली के हौज काज़ी क्षेत्र में मन्दिर में हुई तोड़फोड़ के बाद अब स्थिति सामान्य हो गई है. बुधवार सुबह से ही मार्केट में लोगों का आना-जाना शुरू हो गया है. हार्डवेयर और बेकरी के थोक सामानों के लिए प्रसिद्ध हौज काज़ी क्षेत्र में दुकानें खुलनी शुरू हो गई हैं. एहतियात के तौर पर पुलिस और सीआरपीएफ अभी भी इलाके में मौजूद है.

कोई बैर नहीं

क्षेत्र के लाल कुआं स्थित दुर्गा मंदिर में रविवार रात हुई तोड़फोड़ के बाद सोशल मीडिया में ढेरों वीडियो वायरल होने लगे थे. इलाके में तनाव की स्थिति उत्पन्न हो गई थी लेकिन बुधवार सुबह से मार्केट की पुरानी रंगत फिर से लौटनी शुरू हो गई है.

नमकीन की दुकान चलाने वाले चंद्र कुमार पौडवाल बताते हैं, अगर इक्का दुक्का छिटपुट घटनाओं को छोड़ दें तो यहां की स्थिति हमेशा से ही सामान्य रहती है. हम सब मेल-जोल से रहते हैं. हम लोग एक दूसरे के त्यौहारों में शामिल होते हैं. समाज में कुछ शरारती तत्व होते हैं जो कुछ उल्टा-सीधा करते रहते हैं, माहौल बिगाड़ने की कोशिश करते हैं. लेकिन ये तो हमारी आपकी समझ पर है कि उनसे कैसे निपटा जाए.’

दरअसल, रविवार को पार्किंग को लेकर दो समुदायों के बीच हुए विवाद के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया था जिसके कुछ देर बाद मन्दिर में तोड़फोड़ भी हुई थी. पुलिस ने तीन लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया था.

पुलिस की हो रही तारीफ

मन्दिर में हुई तोड़फोड़ के बाद सोशल मीडिया पर शेयर हुए वीडियो ने इलाक़े को तनावपूर्ण बना दिया था. पुलिस ने स्थिति पर काबू पाने के लिए एहतियात बरतने शुरू कर दिए थे. लोग उनके काम की तारीफ भी कर रहे हैं.

हार्डवेयर की दुकान चलाने वाले आसिफ कहते हैं, माहौल बहुत खराब था. वो तो पुलिस ने संभाल लिया वरना दंगा भी हो सकता था. पुलिस ने समझदारी तो दिखाई है.

बता दें, पिछले दो दिनों से लगभग 15 जिलों की पुलिस इलाक़े में तैनात है. इसके अलावा सीआरपीएफ भी यहां गश्त लगा रही है.

मन्दिर का पुनर्निर्माण कराएंगे

मंगलवार शाम को इस मामले में समझौता हो गया. अमन कमेटी की बैठक के बाद मुस्लिम वर्ग के प्रतिनिधि ने कहा कि वे मंदिर के पुनर्निर्माण में मदद करेंगे. कमेटी के सदस्य जमशेद अली सिद्दीकी ने कहा कि पुलिस की भूमिका सराहनीय है. घटना बेहद दुखद है और वे मन्दिर के पुनर्निर्माण में मदद करेंगे. उन्होंने आगे कहा, सालों से यहां आपसी सौहार्द कायम था. हिन्दू-मुस्लिम मेल जोल से रहते हैं. यहां से राम बारात भी निकलती है.

कमेटी के एक अन्य सदस्य तारा चंद सक्सेना ने भी पुलिस की तारीफ की. ‘पुलिस ने सकारात्मक भूमिका निभाई है और हमारा समर्थन किया है. आश्वासन भी दिया कि दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.’

शांति की अपील

इलाके में पिछले दो दिनों से बढ़े तनाव को कम करने के लिए पुलिस से लेकर नेता तक शांति की अपील कर रहे हैं. डीसीपी (सेंट्रल दिल्ली) एमएस रंधावा ने कहा, ‘सभी लोग शांति से रहेंगे यह निर्णय लिया गया है कि बुधवार को बाजार खुलेंगे, हमने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की है. तीन एफआईआर दर्ज की गई हैं.’

इसके अलावा केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन ने भी इलाक़े का दौरा कर स्थानीय लोगों और पुलिस अधिकारियों से स्थिति की जानकारी ली. उन्होंने दोनों समुदाय के लोगों से आपसी सौहार्द बनाए रखने की अपील की.

मनीष सिसोदिया ने भी किया ट्वीट

आम आदमी पार्टी ने भी लोगों को अफवाह से बचने की सलाह दी. दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, ‘ये हमारी सांझी विरासत, आपसी प्यार, भाईचारे का इम्तहान है. कुछ लोग हमारे आपसी विश्वास को चोट पहुंचा कर साम्प्रदायिक तनाव और नफरत फैलाना चाहते हैं. मेरी सबसे हाथ जोड़कर अपील है कि अफवाहों पर ध्यान न दें. शांति और आपसी विश्वास बनाये रखें. दिल्ली जीतेगी, नफरत हारेगी. जय हिंद.’

share & View comments