scorecardresearch
Friday, 21 June, 2024
होमदेशसंसद सुरक्षा उल्लंघन में शामिल आरोपियों के फोन के जले हुए हिस्से राजस्थान से बरामद, झा ने नष्ट किए थे फोन

संसद सुरक्षा उल्लंघन में शामिल आरोपियों के फोन के जले हुए हिस्से राजस्थान से बरामद, झा ने नष्ट किए थे फोन

सुरक्षा उल्लंघन से पहले, चारों आरोपियों ने अपनी गिरफ्तारी की आशंका के कारण महत्वपूर्ण जांच विवरण पुलिस तक पहुंचने से रोकने के लिए अपने फोन ललित झा को सौंप दिए थे.

Text Size:

नई दिल्ली: पुलिस सूत्रों ने रविवार को बताया कि संसद सुरक्षा उल्लंघन की घटना में शामिल आरोपियों के फोन के हिस्से राजस्थान से बरामद किए गए हैं. फोन के सभी पार्ट्स जली हुई हालत में मिले. हालांकि दिल्ली पुलिस अभी तक ललित झा का फोन बरामद नहीं कर पाई है.

दिल्ली पुलिस के सूत्रों ने पहले खुलासा किया था कि संसद सुरक्षा उल्लंघन मामले के आरोपी ललित झा ने दिल्ली पहुंचने से पहले पांच मोबाइल फोन नष्ट कर दिए थे और जांच टीम को गुमराह कर रहे थे.

सुरक्षा उल्लंघन से पहले, चारों आरोपियों ने अपनी गिरफ्तारी की आशंका के कारण महत्वपूर्ण जांच विवरण पुलिस तक पहुंचने से रोकने के लिए अपने फोन झा को सौंप दिए थे.

पुलिस सूत्रों ने कहा, “ललित झा ने राजस्थान के कुचामन में भागने के बाद चार नहीं बल्कि पांच मोबाइल फोन नष्ट कर दिए.”

इससे पहले, पटियाला हाउस कोर्ट ने शनिवार को संसद सुरक्षा उल्लंघन मामले में छठे आरोपी महेश कुमावत को सात दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया था.

दिल्ली पुलिस ने आरोपी महेश कुमावत की 15 दिन की कस्टडी रिमांड मांगी. वह इस मामले में गिरफ्तार छठा आरोपी है.

ललित झा समेत अन्य पांच आरोपियों को पहले ही पुलिस हिरासत में लिया जा चुका है.

पटियाला हाउस कोर्ट ने शुक्रवार को संसद सुरक्षा उल्लंघन मामले में आरोपी ललित झा को सात दिन की हिरासत में दे दिया. सुरक्षा उल्लंघन 13 दिसंबर, 2001 को संसद पर हुए आतंकी हमले की बरसी पर हुआ.

दो लोग-सागर शर्मा और मनोरंजन डी शून्यकाल के दौरान सार्वजनिक गैलरी से लोकसभा कक्ष में कूद गए, संसद के अंदर कनस्तरों से पीली गैस छोड़ी और सांसदों द्वारा काबू किए जाने से पहले सत्ता विरोधी नारे लगाए.

संसद के बाहर एक अन्य घटना में, दो प्रदर्शनकारियों – नीलम (42) और अमोल (25) ने ऐसे ही गैस कनस्तरों के साथ बाहर विरोध प्रदर्शन किया. हालांकि, चारों को गुरुवार को दिल्ली पुलिस स्पेशल सेल की सात दिन की हिरासत में भेज दिया गया था.


यह भी पढ़ें: ‘भगत सिंह का फैन’, संसद सुरक्षा उल्लंघन के आरोपी सागर शर्मा में ‘देश के लिए मर-मिटने का जुनून’ था


 

share & View comments