scorecardresearch
Thursday, 29 February, 2024
होमदेश‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने वालीं बॉक्सिंग चैंपियन स्वीटी बूरा हुईं BJP में शामिल

‘भारत जोड़ो यात्रा’ में शामिल होने वालीं बॉक्सिंग चैंपियन स्वीटी बूरा हुईं BJP में शामिल

बूरा के पति के अलावा कांग्रेस के दो पूर्व नेता भी भाजपा में शामिल हुए. विश्लेषकों का कहना है कि यह पूर्व सीएम भूपिंदर हुड्डा और बेटे दीपेंद्र के खिलाफ मजबूत नाम खोजने की बीजेपी की कोशिशों का हिस्सा है.

Text Size:

गुरुग्राम: कांग्रेस नेता राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा में शामिल होने के एक साल से थोड़े समय बाद और कई महीनों बाद उन्हें सम्मानित करने के लिए एक सार्वजनिक कार्यक्रम के दौरान लोगों से “हुड्डा साहब को सत्ता में लाने के लिए वोट करें” कहने के बाद, वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियन और हरियाणा की भीम पुरस्कार विजेता स्वीटी बूरा सोमवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की मौजूदगी में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में शामिल हो गईं.

पार्टी द्वारा रोहतक में अपने राज्य कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में भाजपा में शामिल होने वाले अन्य लोगों में बूरा के पति दीपक निवास हुड्डा, पूर्व भारतीय कबड्डी कप्तान और अर्जुन पुरस्कार विजेता, पूर्व मंत्री कृष्ण मूर्ति हुड्डा और विधानसभा के पूर्व उपाध्यक्ष आज़ाद मोहम्मद थे.

बूरा ने रविवार आधी रात के आसपास हरियाणा बीजेपी द्वारा एक्स पर पोस्ट किए गए एक वीडियो में कहा, “मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किए गए देशहित में किए गए कार्यों, और दुनिया में भारत की जो छवि बनी है, उससे बहुत ज्यादा प्रभावित हुईं हूं. उनके नेतृत्व में अगर मुझे मौका मिला तो मैं देश की सेवा में योगदान दूंगी. इसलिए मैं कल (12 फरवरी) को रोहतक में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की उपस्थिति में भाजपा में शामिल हो रही हूं.”

हरियाणा बीजेपी द्वारा एक्स पर पोस्ट किए गए एक अन्य वीडियो में अर्जुन अवॉर्डी कबड्डी खिलाड़ी दीपक निवास हुड्डा ने कहा, “मैं एक महत्वपूर्ण जानकारी देना चाहता हूं. मैं अपनी ज़िंदगी की नई शुरुआत करने जा रहा हूं. अनुच्छेद 370 को हटाने, राम मंदिर का निर्माण, किसानों के मसीहा चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने जैसे ऐतिहासिक निर्णयों और देश में खेलों को बढ़ावा देने के लिए लिए गए विभिन्न फैसलों से प्रेरित होकर, मैं भाजपा में शामिल हो रहा हूं.”

वीडियो में उन्होंने सीएम खट्टर की उनके नारे “हरियाणा एक, हरियाणवी एक” की भी प्रशंसा की.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

राजनीतिक पर्यवेक्षक हालिया शामिलियों को इस साल होने वाले हरियाणा के संसदीय चुनावों और विधानसभा चुनावों से पहले पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुडा और उनके बेटे दीपेंद्र हुडा को घेरने के भाजपा के प्रयासों के रूप में देखते हैं.

स्वीटी जहां हिसार के घिराय गांव से हैं, वहीं दीपक चमरिया गांव से हैं, जो हुड्डा के गढ़ी सांपला-किलोई विधानसभा क्षेत्र में आता है.

राजनीतिक विश्लेषक हेमंत अत्री ने कहा कि जब से पार्टी को फीडबैक मिला है कि यह उनके लिए कमजोर सीट है, तब से बीजेपी दीपेंद्र सिंह हुडा के खिलाफ रोहतक से किसी को मैदान में उतारने के लिए बेसब्री से तलाश कर रही है.

अत्री ने दिप्रिंट से कहा, “भाजपा के एक आंतरिक सर्वे के अनुसार, रोहतक और सिरसा ऐसी दो सीटें थीं जहां पार्टी को कमजोर माना जाता था. वे पहले ही सिरसा के पूर्व सांसद अशोक तंवर को अपने साथ जोड़ चुके हैं और अब भाजपा स्वीटी बूरा और उनके पति दीपक निवास हुड्डा को पार्टी में ला रही है. पार्टी आखिरकार तंवर को सिरसा से मैदान में उतारती है या बूरा या फिर रोहतक से हुड्डा को, यह इस बात पर निर्भर करेगा कि टिकट वितरण के समय भाजपा क्या सोचती है, लेकिन उनके पार्टी में शामिल होने का समय और उन्होंने अपने वीडियो संदेशों में जो कहा है, उससे ऐसा पता चलता है.”

हालांकि, भाजपा हरियाणा के प्रवक्ता संजय शर्मा ने कहा कि पार्टी किसी को भी शामिल होने से पहले किए गए वादों के साथ अपने पाले में नहीं लाती है.

शर्मा ने दिप्रिंट से कहा, “मैं किसी भी बात से इनकार नहीं कर रहा हूं. कल पार्टी किसी अन्य पार्टी कार्यकर्ता की तरह स्वीटी बूरा या दीपक निवास हुडा को चुनाव मैदान में उतारने का फैसला कर सकती है, लेकिन शामिल होने के समय कोई वादा नहीं किया गया था.”

दिप्रिंट से बात करते हुए बूरा ने अपना रुख बरकरार रखते हुए कहा कि वे पीएम मोदी की नीतियों से प्रभावित होकर बीजेपी में शामिल हुई हैं. उन्होंने कहा, “यह तय करना पार्टी पर निर्भर है कि वे हमारी सेवाओं का उपयोग कैसे करना चाहते हैं. बूरा ने कहा कि यह देखते हुए कि वह अभी भी खेलों में सक्रिय हैं, अगर पार्टी उन्हें या उनके पति को रोहतक से उम्मीदवारी के लिए विचार करती है, तो परिवार को लगा कि दीपक अधिक उपयुक्त विकल्प होंगे.”

यह पूछे जाने पर कि क्या उन्होंने आयकर अधिकारी के रूप में अपनी नौकरी से इस्तीफा देने की योजना बनाई है, बूरा ने कहा कि ऐसा तब होगा जब, वे चुनाव लड़ेंगी, नहीं तो वे नौकरी करती रहेंगी.

कांग्रेस से भाजपा में अपनी राजनीतिक निष्ठा बदलने के मामले पर उन्होंने कहा, कांग्रेस से जुड़े एक परिचित के कहने पर उन्होंने भारत जोड़ो यात्रा में हिस्सा लिया था और लोगों से भूपिंदर सिंह हुड्डा के लिए वोट करने की अपील की थी.

उन्होंने कहा, “मैं उस समय सक्रिय राजनीति में नहीं थी. अब जब हम भाजपा में शामिल हो गए हैं, तो हम पार्टी के लिए पूरे दिल से काम करेंगे.”

हालांकि, बूरा ने कहा कि वे अभी भी पहलवान साक्षी मलिक, विनेश फोगाट और बजरंग पूनिया के साथ खड़ी हैं, जिन्होंने भाजपा नेता और भारतीय कुश्ती महासंघ (डब्ल्यूएफआई) के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया है. उन्होंने कहा, “राजनीति में शामिल होने का मेरा मुख्य उद्देश्य हमारे खिलाड़ियों के कल्याण के लिए काम करना है.”


यह भी पढ़ें: हरियाणा विधानसभा में ‘कफन’ पहनकर क्यों आना चाहते हैं कांग्रेस विधायक नीरज शर्मा


स्वीटी की यात्रा

हिसार में राष्ट्रीय स्तर पर बास्केटबॉल खेलने वाले किसान महेंद्र सिंह के घर जन्मीं स्वीटी बूरा (31) विश्व चैंपिनयनशिप के साथ-साथ एशियाई चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक विजेता हैं और उन्हें भीम पुरस्कार भी दिया गया है, जो कि हरियाणा सरकार में सर्वोच्च खेल पुरस्कार है. वे आयकर विभाग में अधिकारी हैं.

2009 में बॉक्सिंग में आने से पहले बकुरा राज्य स्तरीय कबड्डी खिलाड़ी थीं. उनकी छोटी बहन सिवी भी एक अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाज हैं.

25 मार्च, 2023 को बूरा चीन की वांग लीना को हराकर लाइट हैवीवेट वर्ग में विश्व चैंपियन बनीं थीं.

मोदी ने उनकी जीत के बाद एक एक्स पोस्ट में कहा था, “@saweetyboora द्वारा असाधारण प्रदर्शन! महिला मुक्केबाजी विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतने पर उन पर गर्व है. उनकी सफलता कई आगामी एथलीटों को प्रेरित करेगी.”

एक्स पर उनके लिए बधाई संदेश पोस्ट करने वालों में राहुल गांधी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा अध्यक्ष जे.पी.नड्डा, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खरगे, खट्टर और भूपिंदर सिंह हुड्डा समेत अन्य नेता शामिल हैं.

आयकर विभाग ने भी बूरा के लिए एक बधाई संदेश पोस्ट किया, जो उस समय इंस्पेक्टर थीं. पिछले साल जून में उन्हें इनकम टैक्स ऑफिसर के पद पर प्रमोट किया गया था.

26 जून, 2023 को आईटी विभाग ने एक्स पर स्वीटी बूरा को पदोन्नति पत्र देते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की एक तस्वीर पोस्ट की थी.

बूरा के विश्व कुश्ती चैंपियनशिप जीतने के कुछ दिनों बाद, 30 मार्च को सीएम खट्टर ने उन्हें 40 लाख रुपये का चेक और ग्रुप बी की नौकरी का प्रस्ताव दिया.

हालांकि, पिछले साल 9 अप्रैल को हिसार में अपने पैतृक गांव घिराय में उन्हें सम्मानित करने के लिए आयोजित एक कार्यक्रम में उन्होंने लोगों से हुड्डा के लिए वोट करने को कहा था.

पिछले साल 28 अप्रैल को, उन्होंने एक्स पर मोदी, मंत्रियों किरेन रिजिजू, अनुराग ठाकुर और पहलवान विनेश फोगाट और बजरंग पुनिया को टैग करते हुए एक संदेश पोस्ट किया था कि देश के लिए पदक जीतने वालों की दुर्दशा पर उनका दिल दुखता है.

बूरा की यात्रा पर छोरी मुक्केबाज़ नामक एक डॉक्यूमेंट्री, हरियाणवी और राजस्थानी बोलियों के ओटीटी मंच, स्टेज पर रिलीज़ की गई थी.

बूरा ने 2014 में जेलू सिटी (कोरिया) में विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप में रजत, 2022 में अम्मान (जॉर्डन) में एशियाई चैम्पियनशिप में रजत, 2015 में वुलानचाबू (चीन) में रजत और 2021 में दुबई में कांस्य पदक जीता था.

उनके पति दीपक 2016 दक्षिण एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतने वाली भारतीय टीम का हिस्सा थे. उन्होंने प्रो कबड्डी लीग के सभी सीज़न में भी भाग लिया है.

(संपादन : फाल्गुनी शर्मा)

(इस खबर को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ें: पंजाब-हरियाणा के किसान संगठन दिल्ली तक ट्रैक्टर मार्च की तैयारी में, संयुक्त किसान मोर्चा शामिल नहीं


 

share & View comments