scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमदेशबिहार के भागलपुर में निर्माणाधीन पुल गिरा, JDU के MLA बोले- इस साल उद्घाटन की उम्मीद कर रहे थे

बिहार के भागलपुर में निर्माणाधीन पुल गिरा, JDU के MLA बोले- इस साल उद्घाटन की उम्मीद कर रहे थे

पुल गिरने के घटना पर सुल्तानगंज जदयू विधायक ललित नारायण मंडल ने कहा कि हम उम्मीद कर रहे थे कि पुल का उद्घाटन इस साल के अंत में नवंबर-दिसंबर तक हो जाएगा. लेकिन जिस तरह से गिरा वह दुर्भाग्यपूर्ण है. घटना की जांच होनी चाहिए.

Text Size:

नई दिल्ली: बिहार के भागलपुर में अगुवानी-सुल्तानगंज का निर्माणाधीन पुल रविवार को गिर कर पूरी तरह नष्ट हो गया.

डीडीसी भागलपुर कुमार अनुराग ने घटना की जानकारी मिलने का बाद कहा कि “निर्माणाधीन पुल गिरने की घटना शाम करीब छह बजे हुई. अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है. स्थानीय प्रशासन ने मौके पर पुल निर्माण निगम से रिपोर्ट मांगी है.”

स्थानीय लोगों ने टूटते हुए पुल का वीडियो भी बनाया जो अब सोशल मीडिया पर वायरल हो रह हैं. पुल गिरने की ऐसी ही घटना पिछले साल भी हुई थी.

पुल गिरने के घटना पर सुल्तानगंज जदयू विधायक ललित नारायण मंडल ने कहा, “हम उम्मीद कर रहे थे कि पुल का उद्घाटन इस साल के अंत में नवंबर-दिसंबर तक हो जाएगा. लेकिन जिस तरह से गिरा वह दुर्भाग्यपूर्ण है. घटना की जांच होनी चाहिए, कुछ तो गलती है.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बिहार के बेगूसराय जिले के साहेबपुर कमाल में बूढ़ी गंडक नदी पर बने पुल का एक हिस्सा गिरकर नदी में गिर गया, लेकिन किसी के हताहत होने की खबर नहीं है.

बता दें कि घटना पर लोगों ने कही राज्य सरकार पर घोटाले का आरोप लगाया तो कही केंद्र सरकार के काम पर ऊगली उठाया. एक ट्विटर यूजर लिखती हैं, “बिहार सुल्तानगंज में भरभराकर गिरा निर्माणाधीन ब्रिज…नदी में मलबा समा रहा है या जनता का पैसा…एक ही पुल दूसरी बार कैसे ढह गया?”

जानकारी के अनुसार, 206 मीटर लंबे पुल में दरारें आ गई थीं. पिलर नंबर 2 और 3 के बीच पुल का अगला हिस्सा ढह गया.

एक अन्य ट्विटर यूजर ने कहा कि मुख्यमंत्री जी भागलपुर के निर्माणाधीन पुल के ध्वस्त होने के संबंध में आप क्या कहना चाहेंगे, संबंधित मंत्री को इस्तीफा देना चाहिए या गठबंधन धर्म का पालन करते हुए करप्शन को बढ़ावा देना चाहिए.


यह भी पढ़ें: ‘घटना से दुखी हूं’, ट्रेन हादसे में माता-पिता खोने वाले बच्चों की शिक्षा का खर्चा उठाएगा अडाणी ग्रुप


share & View comments