प्रतीकात्मक तस्वीर : मनीषा मोंडल / दिप्रिंट
Text Size:
  • 94
    Shares

नई दिल्ली: भारतीय पॉर्न देखना बहुत पसंद करते हैं. 2018 में पॉर्नहब से पोर्न देखने वाले देशों में तीसरे पायदान पर भारतीयों का नंबर आता है .

पॉर्नहब के छठे सालना सर्वे रिपोर्ट में कहा है कि अमरीका और युनाईटेड किंगडम के बाद भारत तीसरे नंबर पर आता है. पॉर्नहब एक बड़ी कैनेडियन पोर्न साइट है.

दुनिया के 20 देश इस साइट के 80 प्रतिशत ट्रैफिक लाते हैं.

2018 में पॉर्नहब में 33.5 बिलियन उपभोक्ताओं ने इस्तेमाल किया,जो कि पिछले वर्ष की तुलना में 5 बिलियन ज़्यादा है. अगर आप संदर्भ देखे तो दुनिया की आबादी 7.53 बिलियन है.

पॉर्नहब की सालाना रिपोर्ट से यह बात सामने आती है कि साईट पर हर दिन 92 मिलियन ट्रैफिक आता है. अगर उस हिसाब से देखें तो यह ऑस्ट्रेलिया ,पोलैंड और कनाडा की कुल जनसंख्या के बराबर है.

दुनियाभर में करीब 30 प्रतिशत भारतीय महिलाएं इस साइट पर आती है.

दो महीने पहले, उत्तराखंड उच्च न्यायालय के आदेश का पालन करते हुए टेलीकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने इंटरनेट प्रदान करने वाली कंपनियों से 827 साइट को ब्लॉक करने को कहा था, जिसमें वयस्क सामग्री दिखाई जा रही थी.

ऐसा ही एक आदेश 2015 में भी दिया गया था, लेकिन उसमें बदलाव लाकर पाबंदी केवल उन साइट्स तक सीमित कर दी गई, जिसमें बाल पोर्नोग्राफी दिखाई जाती थी.

घर से उपजा पॉर्न

एक बात जो पॉर्न उपभोक्ता व्यवहार के सर्वेक्षण से निकल कर आई वो ये थी कि भारतीयों को भारतीयों का पोर्न देख कर जितनी उत्तेजना होती है वो किसी और का देखकर नहीं होती.

भारत का देसी पॉर्न स्टार्स को देखने का चस्का लगातार दूसरे साल जारी रहा और इंटरनेट पर जो शब्द सबसे ज्यादा खोजे गए वो थे ‘भारतीय’ और ‘हिंदी.’

पिछले साल की तुलना में एक ट्रेंड जो बदला है वो ये कि ‘भारतीय पत्नी’ पिछले साल सबसे ज्यादा खोजा गया था. इस बार ‘इंडियन’, ‘इंडियन कॉलेज गर्ल्स’ दूसरा सबसे खोजे जाने वाल शब्द था. और ‘हॉट सेक्सी टीचर’ की खोज 423 प्रतिशत बढ़ी है.

2017 में ‘भारतीय भाभी देवर’ तीसरा सबसे ज़यादा खोजे जाना वाला शब्द था.

लगातार दूसरे साल सबसे ज्यादा खोजे जाने वाले पोर्न स्टार थे सन्नी लियोने, मिया खलीफा. जबकि ‘मिल्फ’ और ‘लेसबियन’ दोनों पोर्न केटेगरीज़ में सबसे उपर रहे हैं.

रिपोर्ट के अनुसार औसतन रूप से बाकी दुनिया की तुलना में भारतीय दर्शक ‘पर्दे के पीछे वीडियो’ 315 प्रतिशत ज्यादा देखना पसंद करते हैं. और 152 प्रतिशत ‘अरब’ और 128 प्रतिशत ‘कॉलेज’ की खोज करते पाए जाते है.

एचडी क्वालिटी पॉर्न की मांग

इसमें कोई आश्चर्य नहीं है कि ज्यादातर भारतीय स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं और मोबाइल डाटा का प्रयोग करते हैं. भारतीयों द्वारा 95 प्रतिशत पॉर्न मोबाइल फ़ोन पर देखें जाते हैं.

वैश्विक रुझानों को ध्यान में रखते हुए इस रिपोर्ट से पता चलता है कि 2018 में मोबाइल पर पॉर्न देखने वालों कि संख्या में काफी इजाफ़ा हुआ है. विश्व में 80 प्रतिशत पॉर्न मोबाइल और टेबलेट पर देखे जा रहे हैं.

2017 में स्मार्टफ़ोन पर पॉर्न देखने वालों कि संख्या में 8 प्रतिशत का इजाफ़ा हुआ था.

अच्छी गुणवत्ता वाले वीडियो की मांग है. रिपोर्ट से पता चलता है कि 4K वीडियो को सर्च करने वालों कि संख्या में काफी बढ़ोतरी हुई है. भारतीय भी इन ‘indian HD sex’, ‘hindi sexy video HD’, and ‘hd xxx hindi video’ वेबसाइट पर सर्च करते है. एचडी 2017 में टॉप सर्च से बाहर था.

युवाओं की गतिविधि

भारतीय जनसांख्यिकीय से पता चलता है कि 50 प्रतिशत 25 वर्ष से कम आयु का युवा है.जोकि रिपोर्ट में दर्शाया गया है.

हालांकि पॉर्नहब पर सर्च करने वालों की औसत उम्र आधा साल बढ़ कर 35.5 साल हो गई है.साइट पर विजिट करने वाले 85 प्रतिशत भारतीयों की औसत आयु 29 वर्ष है. इनमें ज्यादातर युवा शामिल है.

तुलनात्मक रूप से अमेरिका में पॉर्नहब दर्शकों की संख्या दो साल में औसत 36 से बढ़कर 38 प्रतिशत हो गयी है. यूके में भी इसी तरह का संख्या में इजाफ़ा देखा गया है.

एक और दिलचस्प चीज देखने को मिलती है कि त्योहारों के दौरान भारत से पॉर्नहब पर ट्रैफिक गिर जाता है, होली के दौरान 15 प्रतिशत की गिरावट दर्ज कि गयी थी.

(इस खबर को अंग्रेजी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.)


  • 94
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here