Wednesday, 23 January, 2019
होम लेखक द्वारा पोस्ट नंदिता सिंह

नंदिता सिंह

नंदिता सिंह
27 पोस्ट 0 टिप्पणी
नंदिता सिंह 'दिप्रिंट' में पत्रकार हैं. इन्होंने लेडी श्रीराम कॉलेज से अंग्रेजी साहित्य में बीए किया है और यंग इंडिया की फेलो हैं. इन्हें समाजविज्ञान और इससे जुड़े मसलों से गहरा लगाव है. अपने ब्लॉग, भाषणों, कार्यशालाओं और पेनल विचार-विमर्श के जरिए ये दुनिया को ज्यादा सूचना संपन्न, उदार और सहिष्णु बनाने की कोशिश में जुटी रहती हैं. नीतिगत निर्णयों का नागरिक समाज पर आर्थिक, सामाजिक तथा राजनीतिक तौर पर क्या प्रभाव पड़ता है, ऐसे सवालों में इनकी खास दिलचस्पी है. राजनीति व्यंग्य तथा संस्कृति में विशेषज्ञता रखने के साथ ये इर्दगिर्द की संस्थाओं के साथ लोगों के संबंधों की पड़ताल करती हैं. इनसे संपर्क करें- nandita.singh@theprint.in इनका ट्वीटर है- @nandita_singh1

मत-विमत

News on Subhas Chandra Bose

नेता जी सुभाषचन्द्र बोस: स्वतंत्रता संग्राम के इकलौते ऐसे महानायक, जो मिथ बन गये!

हाल के दशकों तक नेता जी के कहीं रहस्यमय ढंग से रहने या ‘प्रगट’ होने की ‘खबर’ मिलते ही अनेक श्रद्धाविह्वल लोग उन्हें निकट से निहारने की लालसा लिये वहां पहुंच जाते रहे हैं.

राजनीति

देश

news on politics

मोदी ने कहा- कांग्रेस ने केवल माना भ्रष्टाचार, कभी भी इसे खत्म नहीं करना चाहा

राजीव गांधी का नाम लिए बिना कहा कि पूर्व पीएम ने कहा था कि अगर 100 रुपये केंद्र से भेजा जाता है तो लाभार्थी तक केवल 15 रुपये ही पहुंचता है.

लास्ट लाफ

Sandeep-Adhwaryu-The-Times-of-India

राजद्रोह पर कपिल सिब्बल का दोहरापन, और कर्नाटक के विधायकों का दर्द

चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं जैसे प्रिंट, ऑनलाइन या सोशल मीडिया पर और इन्हें उचित श्रेय भी मिला है.