News on illegal liquor
अवैध शराब की फाइल फोटो/ प्रतिकात्मक तस्वीर
Text Size:
  • 66
    Shares

गुवाहाटी: असम में जहरीली शराब से दो और लोगों की मौत होने के साथ ही इससे मरने वालों की संख्या 80 हो गई है. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. स्वास्थ्य मंत्री हिमांता बिस्वा सरमा ने शनिवार को गोलाघाट सिविल अस्पताल का दौरा किया. यहां शुक्रवार से 35 लोगों की मौत हो चुकी है. शेष 45 लोगों की मौत जोरहाट मेडिकल कॉलेज में हुई.

मंत्री के अनुसार, जोरहाट मेडिकल कॉलेज में अभी भी 221 लोग भर्ती हैं, वहीं गोलाघाट में 93 लोगों का इलाज चल रहा है.प्रशासन ने कहा कि मृतकों की संख्या बढ़ने की संभावना है क्योंकि दूरस्थ गावों में भी कई लोगों की मौत हो चुकी है जिनके बारे में अभी विस्तृत रिपोर्ट नहीं मिली है.

मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने स्थिति की समीक्षा करने के लिए प्रदेश के मुख्य सचिव आलोक कुमार और पुलिस महानिदेशक कुलधर सैकिया के साथ एक आपातकालीन बैठक की.

सोनोवाल ने अधिकारियों को अवैध शराब की बिक्री रोकने के लिए कठोर कदम उठाने के निर्देश दिए.

गुरुवार रात दो घटनाओं के बाद ये सिलसिला शुरू हुआ. जहां एक मामला यहां से लगभग 300 किलोमीटर दूर स्थित गोलाघाट के सालमोरा चाय बागान का है वहीं दूसरा मामला जोरहाट जिला के तीताबोर उपमंडल के दो सुदूर गांवों का है.

स्थानीय लोगों के अनुसार, चाय के बागान में गुरुवार रात कई लोगों ने एक ही दुकानदार से शराब खरीदकर पी थी। उनमें से कई तो तुरंत बीमार हो गए और कई लोगों को तो अस्पताल तक नहीं पहुंचाया जा सका.

राज्य के आबकारी मंत्री परिमल शुक्लावैद्य ने मामले की जांच का आदेश दिया है.


  • 66
    Shares
Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here