scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमदेशमैतेइ व्यक्ति की मौत के एक दिन बाद, मणिपुर के MP राजकुमार रंजन सिंह के घर पर उपद्रवियों ने किया हमला

मैतेइ व्यक्ति की मौत के एक दिन बाद, मणिपुर के MP राजकुमार रंजन सिंह के घर पर उपद्रवियों ने किया हमला

देर शाम को हुए इस घटनाक्रम में मैतेई समुदाय के लोगों ने सांसद के आवास पर पथराव शुरू कर दिया, जो उसी समुदाय से हैं.

Text Size:

इंफाल: मणिपुर के बिष्णुपुर जिले में हिंसा के ताज़ा घटनाक्रम में मैतेई समुदाय के 40-वर्षीय एक व्यक्ति के मारे जाने के एक दिन बाद गुरुवार देर रात उपद्रवियों की भीड़ ने सांसद राजकुमार रंजन सिंह के घर पर हमला बोल दिया.

रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) और भारतीय सेना की जाट रेजिमेंट के कर्मी सिंह जो कि विदेश और शिक्षा राज्य मंत्री भी हैं, के घर के बाहर जमा भीड़ को रोकने की कोशिश कर रहे थे.

25 मई 2023 को इंफाल में मणिपुर के मंत्री राजकुमार रंजन सिंह के आवास के पास सुरक्षाकर्मी | फोटोः सूरज सिंह बिष्ट/दिप्रिंट
25 मई 2023 को इंफाल में मणिपुर के मंत्री राजकुमार रंजन सिंह के आवास के पास सुरक्षाकर्मी | फोटोः सूरज सिंह बिष्ट/दिप्रिंट

इन उपद्रवियों में मैतेइ पुरुष और महिलाएं शामिल थे, जिन्होंने मणिपुर हिंसा में हाल के हफ्तों में हुई दर्जनों मौतों को लेकर सांसद के घर पर हमला किया, जो उसी समुदाय से हैं.

मामले की जानकारी रखने वाले एक व्यक्ति ने बताया कि जिस समय लोगों ने उनके घर को जलाने की कोशिश की, सिंह अपने परिवार के तीन अन्य सदस्य समेत इमारत में मौजूद थे.

अधिकारियों ने बताया कि जैसे ही उपद्रवियों ने सांसद के घर पर पथराव शुरू किया, सुरक्षा बलों ने आंसू गैस के गोले दाग दिए.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

घटनाक्रम का आंखों-देखा हाल सुनाने वाली एक महिला ने बताया कि कुछ लोगों ने रात करीब 8 बजे चौकी पर हमला करना शुरू कर दिया और आस-पड़ोस के सभी लोगों को बाहर आने के लिए कहा.

उन्होंने कहा,“हम डिनर करने वाले थे. ये सभी आसपास के इलाकों के लोग थे जो जमा हुए थे. ऐसा लगता था कि वे घर जलाने की तैयारी करके आए हैं. वे कल बिष्णुपुर में एक मैतेइ व्यक्ति की मौत से नाराज़ हैं और हमारे सांसद और विधायक कुछ नहीं कर रहे हैं. झड़पें 20 दिनों से अधिक समय से चल रही हैं और यह बंद नहीं हो रही हैं.”

25 मई 2023 को इंफाल में मणिपुर के मंत्री राजकुमार रंजन सिंह के आवास के पास पुरुषों का एक समूह | फोटोः सूरज सिंह बिष्ट/दिप्रिंट
25 मई 2023 को इंफाल में मणिपुर के मंत्री राजकुमार रंजन सिंह के आवास के पास पुरुषों का एक समूह | फोटोः सूरज सिंह बिष्ट/दिप्रिंट

यह घटना मणिपुर के मंत्री कोन्थौजम गोविंददास के बिष्णुपुर स्थित घर पर मैतेई और कुकी समुदायों के बीच चल रही जातीय हिंसा के दौरान हमला किए जाने के बाद की है, जिसमें पहले ही लगभग 75 लोगों की जान जा चुकी है.

देर रात का घटनाक्रम केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा मणिपुर में शांति की अपील करने के बाद आया, जिसमें उन्होंने कहा था कि वे जल्द ही पूर्वोत्तर राज्य का दौरा करेंगे और हिंसा में शामिल दोनों समुदायों के लोगों से बात करेंगे.

(संपादनः फाल्गुनी शर्मा)

(इस खबर को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ेंः ‘मैं मैतेई या कुकी नहीं हूं, फिर भी हिंसा का शिकार’, मणिपुर के गांवों से घर छोड़ भाग रहे पड़ोसी


 

share & View comments