Saturday, 20 August, 2022
होमविदेशपाकिस्तान ने बाबर क्रूज मिसाइल के दोगुने रेंज तक मार करने वाले फॉर्मेट का किया सफल टेस्ट

पाकिस्तान ने बाबर क्रूज मिसाइल के दोगुने रेंज तक मार करने वाले फॉर्मेट का किया सफल टेस्ट

फरवरी में, पाकिस्तान ने इसके 450 किमी तक लक्ष्य को भेदने वाला परीक्षण किया था और अब यह 900 किमी मार करने वाली हो गई है.

Text Size:

इस्लामाबाद: पाकिस्तान ने स्वदेश निर्मित सतह से सतह पर मार करने वाली बाबर क्रूज मिसाइल की ‘बढ़ाई हुई रेंज के प्रारूप’ का मंगलवार को सफल परीक्षण किया. यह मिसाइल 900 किमी की दूरी तक लक्ष्य को भेद सकती है, जो इसी मॉडल की एक पूर्ववर्ती मिसाइल की तुलना में दुगुनी दूरी है.

पाकिस्तानी थल सेना ने मंगलवार को एक बयान में कहा, ‘पाकिस्तान ने स्वदेश विकसित बाबर क्रूज मिसाइल 1बी की बढ़ाई हुई रेंज प्रारूप का आज सफल परीक्षण किया.’

फरवरी में, पाकिस्तान ने बाबर क्रूज मिसाइल के पूर्ववर्ती संस्करण का सफल प्रशिक्षण परीक्षण किया था. उसकी क्षमता 450 किमी तक लक्ष्य को भेदने तक सीमित थी.

पाकिस्तानी थल सेना ने एक बयान में कहा, ‘बाबर मिसाइल जमीन पर और समुद्र में अधिक सटीकता से लक्ष्य को भेदने में सक्षम है.’

सेना के मुताबिक बाबर क्रूज मिसाइल 1बी के परीक्षण को सामरिक योजना प्रभाग के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल जकी मांज सहित वरिष्ठ सैन्य अधिकारियों ने देखा.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

बयान में कहा गया है कि सामरिक योजना प्रभाग के महानिदेशक ने कूज मिसाइल प्रौद्योगिकी में उत्कृष्टता हासिल करने पर वैज्ञानिकों और इंजीनियर को बधाई दी. साथ ही, अपना पूरा भरोसा जताया कि यह परीक्षण पाकिस्तान के सामरिक प्रतिरोध को और मजबूत करेगा.

मिसाइल के सफल परीक्षण पर राष्ट्रपति डॉ आरिफ अल्वी, प्रधानमंत्री इमरान खान, ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ कमेटी के अध्यक्ष और तीनों सेनाओं के प्रमुखों ने वैज्ञानिकों तथा इंजीनियर को बधाई दी.

उल्लेखनीय है कि पाकिस्तान ने अगस्त में पारंपरिक आयुध ले जा सकने वाली स्वदेश निर्मित रॉकेट प्रणाली फतह-1 का सफल परीक्षण किया था.

share & View comments