scorecardresearch
Thursday, 18 July, 2024
होमविदेशनवाज शरीफ ने की भारत की तारीफ, कहा- हमारे पड़ोसी चांद पर पहुंच गए और हम जमीन से भी नहीं उठ पाए

नवाज शरीफ ने की भारत की तारीफ, कहा- हमारे पड़ोसी चांद पर पहुंच गए और हम जमीन से भी नहीं उठ पाए

नवाज़ शरीफ ने कहा, "हम अपने पतन के लिए स्वयं जिम्मेदार हैं, नहीं तो यह देश एक अलग जगह पर पहुंच गया होता."

Text Size:

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने एक बार फिर भारत की सराहना की है और कहा है कि आसपास के देश चंद्रमा पर पहुंच गए हैं लेकिन पाकिस्तान अभी भी धरती से ‘उठ नहीं’ पाया है. पाकिस्तान के पूर्व पीएम बुधवार को इस्लामाबाद में पीएमएल-एन कैडर को संबोधित कर रहे थे.

देश की गंभीर आर्थिक स्थिति की ओर इशारा करते हुए, पाकिस्तान मुस्लिम लीग_नवाज (पीएमएल-एन) सुप्रीमो ने कहा कि पाकिस्तान अपने पतन के लिए खुद जिम्मेदार है.

शरीफ ने कहा, “हमारे पड़ोसी चांद पर पहुंच गए हैं लेकिन हम अभी तक जमीन से ऊपर भी नहीं उठ पाए हैं. यह ऐसे ही जारी नहीं रह सकता.”

उन्होंने कहा, “हम अपने पतन के लिए स्वयं जिम्मेदार हैं, अन्यथा यह देश एक अलग स्थान पर पहुंच गया होता.”

चौथी बार प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल नवाज शरीफ ने बुधवार को अपने संबोधन में कहा, ”2013 में, हम बिजली की भारी कटौती का सामना कर रहे थे, हमने आकर इसे खत्म किया, पूरे देश से आतंकवाद खत्म किया, शांति बहाल की कराची में राजमार्ग बनाए गए, सीपीईसी आया और विकास और समृद्धि का एक नया युग शुरू हुआ.”

एआरवाई न्यूज के अनुसार, नवाज शरीफ ने बताया कि उन्हें तीन बार सत्ता से बेदखल किया गया: 1993, 1999 और 2017 में.

शरीफ ने पूछा कि पाकिस्तान में मौजूदा संकट के लिए अब किसे जिम्मेदार ठहराया जाए, “हमने अपने पैर पर कुल्हाड़ी मार ली है.”

पीएमएल-एन सुप्रीमो ने कहा कि 2014 में उनकी सरकार के दौरान मुद्रास्फीति कम थी और इस्लामाबाद के आबपारा में एक रोटी 2 पाकिस्तानी रुपये (पीकेआर) में मिलती थी, जो अब 30 पीकेआर तक पहुंच गई है.

उन्होंने दावा किया कि उनके, मरियम और अन्य पीएमएल-एन नेताओं के खिलाफ ‘फर्जी मामले’ दर्ज किए गए थे. इस्लामाबाद उच्च न्यायालय द्वारा केवल तीन सुनवाई में दो मामलों में दोषसिद्धि को रद्द कर दिया गया था.

शरीफ ने पाकिस्तान से यह भी आह्वान किया कि अगर देश विकसित होना चाहता है तो वह महिलाओं के विकास को प्राथमिकता दे. “हर देश जो विकसित हुआ है, उसने विकास में महिलाओं को प्राथमिकता दी है, वे देश महिलाओं को विकास के लिए आगे लाए हैं. मुझे लगता है कि महिलाओं को विकास में समान भागीदार बनना होगा, महिलाओं को पुरुषों के साथ-साथ आगे बढ़कर इस देश की सेवा में भी काम करना होगा.”

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, हाल ही में नवाज शरीफ ने उन्हें 2017 में देश के प्रधानमंत्री पद से हटाने के लिए जिम्मेदार लोगों के लिए जवाबदेही की मांग दोहराई.

लाहौर में पीएमएल-एन की संसदीय बोर्ड की बैठक में बोलते हुए, नवाज ने कहा कि उन्हें बदला लेने में कोई दिलचस्पी नहीं है, लेकिन उन्होंने अपने निष्कासन के लिए जिम्मेदार लोगों को जवाबदेह ठहराए जाने की आवश्यकता पर प्रकाश डाला.

द न्यूज इंटरनेशनल की रिपोर्ट के अनुसार, उन्होंने साजिशकर्ताओं के नाम सामने लाने का आह्वान करते हुए कहा, “मुझे उन लोगों को माफ करने का कोई अधिकार नहीं है जो लोगों के दुश्मन हैं.”


यह भी पढ़ेंः पाकिस्तान के पूर्व प्रधान न्यायाधीश साकिब निसार के आवास पर ग्रेनेड से हमला, दो पुलिसकर्मी घायल


 

share & View comments