न्यूजीलैंड के मस्जिद में बंदूकधारियों के हमले के बाद मुस्तैद पुलिस/ सोशल मीडिया
Text Size:

नई दिल्ली: न्यूज़ीलैंड की एक मस्जिद में नमाज पढ़ने के दौरान बंदूकधारियों ने अंधाधुंध गोलियां बरसाईं जिसमें करीब 40 लोगों के मारे जाने की खबर है.अंतराष्ट्रीय मीडिया में आ रही खबरों के मुताबिक अभी तक स्वार्म सेंट्रल क्राइस्ट चर्च इलाके में स्थित दो मस्जिदों में गोलियां चलाई हैं. न्यूज़ीलैंड पुलिस ने शहरवासियों से कहा है कि अभी हमलावर शहर में सक्रिय हैं इसलिए घर से निकलने से बचे. प्रशासन ने लोगों से अगले आदेश तक मस्जिदों में न जाने की सलाह दी है. यहां के सभी स्कूल बंद कर दिए गए हैं.

पुलिस ने इस मामले में चार लोगों को गिरफ्तार किया है. सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार, पुलिस कमिश्नर माइक बुश ने मामले के संबंध में तीन पुरुष और एक महिला को गिरफ्तार किया है. बुश ने यहां मीडिया से कहा, ‘हमें और लोगों की जानकारी नहीं है लेकिन यह कहना मुश्किल है कि इसमें बड़े पैमाने पर लोग शामिल नहीं हैं.’

‘द न्यूजीलैंड हेराल्ड’ की रिपोर्ट के अनुसार, गोलीबारी अल नूर मस्जिद और लिनवुड मस्जिद में हुई. बुश ने बताया कि ऑस्ट्रेलियाई माने जा रहे एक हमलावर ने मस्जिद में लोगों को गोली मारते समय उसका वीडियो भी बनाया.

उन्होंने कहा कि हमले में शामिल वाहनों में कई इंप्रोवाइज्ड विस्फोटक उपकरण लगे हुए थे. इससे पता चलता है कि स्थिति गंभीर है.’ पुलिस का मानना है कि अभी भी कई बंदूकधारी शहर में छुपे हो सकते हैं. अभी खतरा टला नहीं है.

न्यूज़ीलैंड की प्रधानमंत्री जसिंडा एर्डर्न ने इसे ‘हिंसा की अप्रत्याशित घटना’ बताया. उन्होंने कहा कि इन हमलों में अधिकतर शरणार्थियों के चपेट में आने की संभावना है इसलिए पीएम ने शहरवासियों को घर में रहने की सलाह दी है. जसिंडा ने कहा कि यह न्यूजीलैंड के लिए काले दिन जैसा है. पुलिस ने एक शख्स को गिरफ्तार किया है लेकिन मुझे उसके बारे में ज्यादा जानकारी नहीं है.’ उन्होंने कहा, ‘हमलावरों ने न्यूज़ीलैंड में रह रहे शरणार्थियों को चुना है लेकिन मैं उनसे यह कहना चाहती हूं कि ये उनका घर ही है और वे हम में से एक ही हैं.

बता दें कि इन दिनों बांग्लादेश की क्रिकेट टीम भी इसी शहर में है और जिस समय यह घटना हुई उस समय क्रिकेट टीम भी वहीं पर मौजूद थी. मस्जिद में जब बंदूकधारी हमला किया उस समय सुरक्षाअधिकारियों ने खिलाड़ियों सहित बाकी लोगों को मस्जिद से बाह निकाला गया. सभी को भारी सुरक्षा के बीच ओवल मैदान की तरफ लाया गया. इस घटना को लेकर बांग्लादेश क्रिकेट टीम के एक खिलाड़ी मोहम्मद इस्लाम ने ट्वीट किया है वहीं टीम के कोच ने भी यह जानकारी सीएनएन को बताया. ट्विटर पर एक वीडियो में दिख रहा है कि क्रिकेट टीम उस मस्जिद के एक और जा रही है और दूसरी दिशा में पुलिस की गाड़िया सायरन बजाती हुई निकल रही है. बंगलादेश का आने वाले सप्ताह न्यूज़ीलैंड के खिलाफ मैच खेलना था. समाचार एजेंसी एएनआई ने बताया कि यह मैच कैंसल कर दिया गया है.


Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here