scorecardresearch
Friday, 14 June, 2024
होमविदेशक्या उड़ रहा है अमेरिकी हवाई क्षेत्र में, अमेरिकी सांसद ने क्यों कहा- चीन की पोल खुली, झूठ पकड़ा गया

क्या उड़ रहा है अमेरिकी हवाई क्षेत्र में, अमेरिकी सांसद ने क्यों कहा- चीन की पोल खुली, झूठ पकड़ा गया

पेंटागन के अधिकारी ने कहा कि इस संदिग्ध वस्तु को मार गिराने के लिये ऐसी जगह को चुना गया जिससे जमीन पर लोगों को कोई नुकसान न पहुंचे और इसके मलबे को इकट्ठा करने में भी मुश्किल न हो.

Text Size:

नई दिल्ली: अमेरिकी सेना ने रविवार को हूरोन झील के ऊपर नज़र आ रहे एक संदिग्ध वस्तु को मार गिराया. इससे एक दिन पहले ही कनाडा के ऊपर नजर आये इसी तरह के एक ‘बेलनाकार’ वस्तु को भी मार गिराया गया था.

अमेरिका के एक शीर्ष सांसद ने संदिग्ध जासूसी बैलून के अमेरिका द्वारा मार गिराए जाने के बाद रविवार को चीन पर बरसते हुए कहा कि इस घटना के बाद बीजिंग की ‘पोल खुल गई है’ और ‘उसका झूठ पकड़ा गया है.’

शीर्ष सांसद ने हालांकि जो बाइडन प्रशासन से अनुरोध किया कि वह चीन के साथ संबंध जारी रखे.

शूमर ने कहा, ‘हम उनके साथ शीतयुद्ध नहीं कर सकते हैं. हमें उनके साथ संबंध बनाए रखना होगा, लेकिन चीन ने बार-बार हमारा फायदा उठाया है और यह प्रशासन किसी अन्य की तुलना में अधिक सख्त है.’

इस बीच, मिशिगन की डेमोक्रेटिक-रिपब्लिकन सांसद एलिसा स्लोटकिन ने ट्वीट किया कि उन्हें रक्षा विभाग से एक फोन आया है जिसमें कहा गया है कि हूरोन झील के ऊपर नज़र आ रहे एक वस्तु पर अमेरिकी सेना ने ‘बेहद करीबी नजर’ रखी हुई है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने आगे कहा कि ‘वस्तु को अमेरिकी वायु सेना और नेशनल गार्ड के पायलटों द्वारा गिराया गया है. इस मिशन को अंजाम देने वाले सभी लोगों ने शानदार काम किया. हम सभी यह जानना चाहते हैं कि यह वस्तु क्या थी और इसका उद्देश्य क्या था.’

अमेरिकी रक्षा मंत्रालय के मुख्यालय पेंटागन के प्रेस सचिव ब्रिगेडियर जनरल पैट राइडर ने कहा कि राष्ट्रपति जो बाइडन के निर्देश पर एक एफ-16 लड़ाकू विमान ने मिशिगन राज्य में हूरोन झील के ऊपर अमेरिकी हवाई क्षेत्र में लगभग 20,000 फुट की ऊंचाई पर उड़ रही वस्तु को मार गिराने के लिये ‘एआईएम9एक्स’ से हमला किया.

ऑपरेशन लगातार तीन दिन चलने के बाद अमेरिकी हवाई क्षेत्र में नज़र आये अज्ञात वस्तु को गोली मार दी गई. उत्तरी कनाडा में भी शनिवार को एक अज्ञात वस्तु को मार गिराया गया और शुक्रवार को अलास्का हवाई क्षेत्र में एक अज्ञात वस्तु को यूएस एफ-22 द्वारा मार गिराया गया था.

बता दें कि पिछले सप्ताह, एक संदिग्ध चीनी जासूसी गुब्बारे को दक्षिण कैरोलिना के तट से F-22s द्वारा नीचे गिराया गया था.

राष्ट्रपति बाइडन ने रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन की सिफारिश पर रविवार को हवा में उड़ रही संदिग्ध वस्तु को मार गिराने का आदेश दिया था. यह जिस मार्ग और ऊंचाई पर उड़ रहा था उसे लेकर चिंता जताई जा रही थी और यह आशंका भी थी कि यह नागरिक उड्डयन के लिये खतरा बन सकता है.

पेंटागन के अधिकारी ने कहा कि इस संदिग्ध वस्तु को मार गिराने के लिये ऐसी जगह को चुना गया जिससे जमीन पर लोगों को कोई नुकसान न पहुंचे और इसके मलबे को इकट्ठा करने में भी मुश्किल न हो.


यह भी पढ़ें: ‘भारत की ताकत’, बेंगलुरु में Aero India 2023 के उद्घाटन पर बोले PM मोदी- नई ऊंचाई, नए भारत की सच्चाई


share & View comments