Monday, 17 January, 2022
होमराजनीतिPM मोदी की मीटिंग में शामिल होंगे कश्मीर के बड़े नेता, आर्टिकिल 370, 35A पर बना रहेगा सख्त रुख

PM मोदी की मीटिंग में शामिल होंगे कश्मीर के बड़े नेता, आर्टिकिल 370, 35A पर बना रहेगा सख्त रुख

जम्मू कश्मीर बीजेपी प्रमुख रविंदर रैना ने इस फैसले का स्वागत किया और कहा कि जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद की वजह से काफी लोगों ने अपनी जान गंवाई.

Text Size:

श्रीनगरः गुपकर जन घोषणापत्र गठबंधन (पीएजीडी) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने मंगलवार को बताया कि गठबंधन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुलाई गई सर्वदलीय बैठक में शामिल होगा.

यह घोषणा यहां अब्दुल्ला के गुपकर रोड स्थित आवास पर केंद्र के निमंत्रण को लेकर चर्चा करने के लिए बुलाई गई पीएजीडी नेताओं की बैठक के बाद की गई.

पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) नेता एमवाई तारिगामी सहित घटक दलों के नेता नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष अब्दुल्ला के आवास पर पूर्वाह्न 11 बजे पहुंचे. जम्मू-कश्मीर के राजनीतिक दलों ने पिछले दो दिन बैठक करके विचार-विमर्श किया.

हालांकि, उन्होंने कहा कि वे आर्टिकिल 370 और 35 ए के मुद्दे पर बने रहेंगे. बता दें कि नेशनल कॉन्फ्रेंस, पीडीपी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस और सीपीआई(एम) व मुज़फ्फर शाह की आवामी नेशनल कॉन्फ्रेंस ने मिलकर यह पार्टी बनाई है. फारुख अब्दुल्ला इसके अध्यक्ष और महबूबा मुफ्ती इसकी उपाध्यक्ष चुनी गई हैं. पिछले साल 24 अक्टूबर को फारुख अब्दुल्ला ने कहा था कि इसे इसलिए बनाया गया है ताकि जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों के अधिकारों की रक्षा की जा सके.

इस बीच जम्मू कश्मीर बीजेपी प्रमुख रविंदर रैना ने इस फैसले का स्वागत किया और कहा कि जम्मू कश्मीर में पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद की वजह से काफी लोगों ने अपनी जान गंवाई. मीटिंग में इस पर चर्चा की जाएगी.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

शुक्रवार को गृह मंत्री अमित शाह, नेशनल सिक्युरिटी एडवाइज़र अजित डोवाल और टॉप सिक्युरिटी अधिकारियों ने दिल्ली में लेफ्टिनेंट गवर्नर मनोज सिन्हा और अन्य सीनियर अधिकारियों के साथ जम्मू कश्मीर की स्थिति पर बात करने के लिए मुलाकात की थी.


यह भी पढ़ेंः सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में एक वांटेड समेत लश्कर के 3 आतंकियों को ढेर किया


 

share & View comments