scorecardresearch
Wednesday, 12 June, 2024
होमचुनावअखिलेश ने कांग्रेस की सत्ता में जाति जनगणना नहीं करवाने पर उठाया सवाल, पूछा- आज ऐसा क्यों करना चाहते हैं?

अखिलेश ने कांग्रेस की सत्ता में जाति जनगणना नहीं करवाने पर उठाया सवाल, पूछा- आज ऐसा क्यों करना चाहते हैं?

कांग्रेस केंद्र से जातीय जनगणना कराने की मांग कर रही है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी उनकी मांग नहीं मानने पर पीएम मोदी के नेतृत्व वाले केंद्र पर हमला बोला.

Text Size:

नई दिल्ली: समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव ने जाति जनगणना को लेकर अपने सहयोगी दल कांग्रेस पर हमला बोला और उन्हें याद दिलाया कि जब वह सत्ता में थी तो पार्टी ने जाति जनगणना नहीं कराई थी.

अखिलेश यादव ने चुनावी राज्य मध्य प्रदेश के सतना में मीडिया से कहा कि, “कांग्रेस वह पार्टी है जिसने आजादी के बाद जाति जनगणना नहीं कराई. जब लोकसभा में सभी पार्टियां जाति जनगणना की मांग कर रही थीं, तब उन्होंने जाति जनगणना नहीं कराई थी

उन्होंने आगे कहा कि, “वे आज ऐसा क्यों करना चाहते हैं? क्योंकि वे जानते हैं कि उनका पारंपरिक वोट बैंक उनके साथ नहीं है.”

कांग्रेस केंद्र से जातीय जनगणना कराने की मांग कर रही है. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने भी उनकी मांग नहीं मानने पर पीएम मोदी के नेतृत्व वाले केंद्र पर हमला बोला.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इस बीच, अन्य भारतीय गठबंधन दलों ने भी जाति जनगणना की मांग तेज कर दी है, जिसे केवल केंद्र सरकार ही कानून के अनुसार करा सकती है.

बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार ने एक जाति सर्वेक्षण किया है, और विपक्षी दलों के नेतृत्व वाली कई अन्य राज्य सरकारों ने भी इसी तरह की कवायद की घोषणा की है

INDIA ब्लॉक पूरे देश के लिए जाति जनगणना की मांग कर रहा है, यह दावा करते हुए कि यह समाज में विभिन्न समूहों के लिए उनकी आबादी के अनुसार नीति-निर्माण के लिए अनुकूल होगा

दूसरी ओर, भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार दावा करती रही है कि जाति जनगणना समाज में “विभाजन” पैदा करेगी.

इस बीच, छत्तीसगढ़ में भूपेश बघेल के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार ने सत्ता में आने पर राज्य में जाति जनगणना कराने की घोषणा की है.

राहुल गांधी ने जाति जनगणना कराने की अपनी पार्टी की प्रतिबद्धता दोहराई. कांग्रेस सांसद ने प्रधानमंत्री पर भी निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पीएम जाति जनगणना के बारे में एक शब्द भी नहीं कहते हैं.


यह भी पढ़ें: नहीं देख रहे हैं कोई भी स्वास्थ्य विभाग की फाइल, हरियाणा में खट्टर और विज एक बार फिर आए आमने- सामने


share & View comments