Thursday, 20 January, 2022
होमराजनीतिस्वच्छ भारत, बेटी बचाओ- पैग़म्बर मोहम्मद के संदेश पर अमल कर रहे हैं मोदी: BJP अल्पसंख्यक मोर्चा प्रमुख

स्वच्छ भारत, बेटी बचाओ- पैग़म्बर मोहम्मद के संदेश पर अमल कर रहे हैं मोदी: BJP अल्पसंख्यक मोर्चा प्रमुख

BJP अल्पसंख्यक मोर्चा अध्यक्ष जमाल सिद्दीक़ी का कहना है, कि मोदी सरकार की स्कीमें स्वच्छता, शिक्षा, और अन्य सामाजिक मुद्दों पर, इस्लामी शिक्षा के अनुरूप हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पैग़म्बर मोहम्मद के संदेश पर अमल कर रहे हैं, और वो चीज़ें कर रहे हैं जिनका इस्लाम समर्थन करता है- ये कहना है बीजेपी के अल्पसंख्यक मोर्चा प्रमुख जमाल सिद्दीक़ी का.

सिद्दीक़ ने दिप्रिंट से कहा कि स्वच्छ भारत अभियान, ‘बेटी बटाओ, बेटी पढ़ाओ’ और स्टार्टअप इंडिया, सब इस्लामी शिक्षा के अनुरूप हैं.

स्वच्छ भारत अभियान के बारे में बोलते हुए उन्होंने कहा, ‘सफाई इस्लाम में अनिवार्य है. अपनी एक हदीस (कथन) में पवित्र नबी ने सफाई को ‘आधा ईमान’ बताया है. लेकिन इतने सालों तक सफाई के लिए राष्ट्रीय मुहिम नहीं चलाई गई. ये पीएम मोदी हैं जिन्होंने इसे शुरू किया, और अब देखिए कि वो कितना बदलाव लेकर आए हैं. पीएम मोदी वो तमाम चीज़ें कर रहे हैं, जिनका इस्लाम समर्थन करता है’.

उन्होंने ये भी कहा कि पैग़म्बर के ज़माने में, बेटियों को पैदा होते ही ज़मीन में ज़िंदा गाड़ दिया जाता था.

उन्होंने कहा, ‘लोग बेटियों को गर्भ में ही मार दिया करते थे. उस ज़माने में पैग़म्बर ने इस दुनिया में लड़कियों को पढ़ाने का संदेश दिया था. क़ुरान भी कन्या भ्रूण हत्या के ख़िलाफ बात करता है’. सिद्दीक़ी ने आगे कहा, ‘ये हमारे प्रधानमंत्री ही हैं जिन्होंने ‘बेटी बटाओ, बेटी पढ़ाओ’ के नाम से मुहिम शुरू की, जिसमें न सिर्फ कन्या को बचाने, बल्कि उसे पढ़ाने पर भी ज़ोर दिया गया है’.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

उन्होंने आगे कहा कि क़ुरान में पहली आयत इक़रा (पढ़ो) थी. सिद्दीक़ी ने कहा, ‘ये है वो अहमियत जो इस्लाम शिक्षा को देता है. लेकिन मुसलमान बस मज़हबी तालीम पर रुक गए. पीएम मोदी के नेतृत्व में शिक्षा, वो भी ख़ासकर लड़कियों की पढ़ाई पर बल दिया गया. अगर आप मदरसा शिक्षा को देखें, तो उसे भी आधुनिक बनाया जा रहा है’.


यह भी पढ़ें: यूपी की रैली में अमित शाह ने अखिलेश पर साधा निशाना, योगी ने कहा-बदलेंगे आज़मगढ़ का नाम


‘कांग्रेस ने तुष्टीकरण की राजनीति की’

बीजेपी नेता ने कहा कि कांग्रेस मुसलमानों के तुष्टिकरण में लगी रही है, लेकिन उसने समुदाय के लिए कुछ नहीं किया है.

उन्होंने कहा, ‘वो हमारे वोट चाहते हैं; वो हमसे एक वोट बैंक की तरह बर्ताव करते हैं. लेकिन जब हमारे कल्याण के लिए कुछ करने की बात आती है, तो वो कहीं नज़र नहीं आते. उन्होंने हमें पढ़ाई से दूर रखा, और इसके नतीजे में पंचायत से लेकर संसद तक, हमारी संख्या घटती जा रही है’.

सिद्दीक़ी ने आगे कहा कि हालांकि कांग्रेस नेता टोपी पहनते हैं, लेकिन ये बीजेपी है जो मुस्लिम समुदाय के लिए स्कीमें लेकर आती रही है.

उन्होंने कहा, ‘बीजेपी नेता टोपी पहनने में विश्वास नहीं करते, बल्कि वो मुस्लिम समुदाय के कल्याण के लिए काम करने में भरोसा रखते हैं. इस्लाम में कारेबार को तरजीह दी गई है, और पीएम मोदी ने नौकरी देने वाले बनने पर ज़ोर दिया है. सरकार की स्टार्ट-अप पॉलिसी में भी ये साफ नज़र आता है’.

सिद्दीक़ी ने ये भी कहा कि एक राष्ट्रीय मुहिम शुरू की गई है, जिसमें मुस्लिम समुदाय को उनकी भलाई के लिए, मोदी सरकार की ओर से उठाए जा रहे क़दमों के प्रति जागरूक किया जा रहा है.

सिद्दीक़ी ने कहा, ‘हमारे नेता, ब्लॉक और ज़िला स्तर से लेकर मंत्रियों तक, मुस्लिम आबादी के साथ अनौपचारिक बातचीत शुरू करेंगे, और उन्हें उन स्कीमों और परियोजनाओं से अवगत कराएंगे, जो समुदाय के लिए शुरू की गईं हैं’.


यह भी पढ़ें: सत्यपाल मलिक—पार्टी बदलने वाले, लोहियावादी, अरुण जेटली के दोस्त और ऐसे राज्यपाल जो शांत नहीं बैठते


 

share & View comments