Monday, 8 August, 2022
होमराजनीतिCM उद्धव ठाकरे को कल 11 बजे तक सदन में देना होगा फ्लोर टेस्ट, शिवसेना SC पहुंची

CM उद्धव ठाकरे को कल 11 बजे तक सदन में देना होगा फ्लोर टेस्ट, शिवसेना SC पहुंची

राज्यपाल ने सीएम ठाकरे के खिलाफ विश्वास मत के एकमात्र एजेंडे के साथ राज्य विधानसभा का विशेष सत्र कल बुलाने के लिए राज्य विधानसभा सचिव को पत्र लिखा है.

Text Size:

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने राज्य की उद्धव ठाकरे सरकार से 30 जून को सदन में बहुमत साबित करने को कहा है, कोश्यारी ने महाराष्ट्र के विधानभवन के सचिव को बृहस्पतिवार सुबह 11 बजे मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे नीत महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार का शक्ति परीक्षण कराने को कहा है. हालांकि शिवसेना इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है.

इस मामले पर आज शाम 5 बजे सुनवाई होनी है. शिवसेना के वकीलों ने राज्यपाल के फैसले पर तत्काल रोक लगाने की जरूरत है और शीर्ष अदालत इस मामले में दखल दे

राज्यपाल ने सीएम ठाकरे के खिलाफ विश्वास मत के एकमात्र एजेंडे के साथ राज्य विधानसभा का विशेष सत्र कल बुलाने के लिए राज्य विधानसभा सचिव को पत्र लिखा है.

अधिसूचना के अनुसार, सत्र सुबह 11 बजे शुरू होगा जिसका सीधा प्रसारण भी किया जाएगा.यह ध्यान देने वाली बात है कि ये सूचना विपक्ष के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के दिल्ली से लौटने के बाद मंगलवार रात राज्यपाल से मिलने के बाद आई है, और उन्हें एक पत्र सौंपा जिसमें तत्काल फ्लोर टेस्ट की मांग की गई.

राज्यपाल द्वारा अधिसूचना में कहा गया है, ‘विपक्ष के नेता, महाराष्ट्र विधानसभा ने 28 जून, 2022 को व्यक्तिगत रूप से राजभवन में मुझसे मुलाकात की. मुझे राज्य की राजनीतिक स्थिति के बारे में बताया गया और उसके बाद विपक्ष के नेता ने एक पत्र प्रस्तुत किया जिसमें कहा गया था कि मुख्यमंत्री विधानसभा में बहुमत खो चुके हैं. सभा. विपक्ष के नेता द्वारा प्रस्तुत पत्र में जल्द से जल्द एक फ्लोर टेस्ट आयोजित करने का अनुरोध किया गया है ताकि महाराष्ट्र राज्य में अलोकतांत्रिक तरीकों से किसी भी राजनीतिक सौदेबाजी से बचा जा सके.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

सूत्रों के अनुसार, कुछ निर्दलीय विधायकों ने भी महाराष्ट्र के राज्यपाल के पंजीकृत ईमेल पते पर एक ईमेल भेजकर तत्काल शक्ति परीक्षण की मांग की थी.

कोश्यारी द्वारा मंगलवार देर रात जारी पत्र की प्रति ‘पीटीआई-भाषा’ के पास उपलब्ध है.

यह पत्र वरिष्ठ मंत्री एकनाथ शिंदे द्वारा सत्तारूढ़ शिवसेना से बगावत के बीच आया है. शिंदे पार्टी के ज्यादातर विधायकों और कई निर्दलीय विधायकों के साथ पिछले सप्ताह से गुवाहाटी के एक होटल में डेरा डाले हुए हैं, जिससे ठाकरे की अगुवाई वाली सरकार संकट में घिर गयी है.

महाराष्ट्र विधानभवन के प्रधान सचिव राजेंद्र भागवत को लिखे पत्र में कोश्यारी ने कहा, ‘‘महाराष्ट्र विधानसभा का एक विशेष सत्र 30 जून (बृहस्पतिवार) को पूर्वाह्न 11 बजे बुलाया जाएगा, जिसमें मुख्यमंत्री के खिलाफ विश्वास प्रस्ताव पर मतदान एकमात्र एजेंडा होगा और किसी भी सूरत में सदन की कार्यवाही शाम पांच बजे तक पूरी करनी होगी.’

पत्र में कहा गया है, ‘सदन की कार्यवाही का सजीव प्रसारण किया जाएगा और इसके लिए उचित प्रबंध किए जाएंगे.’

शिवसेना के नेता एवं मंत्री एकनाथ शिंदे की बगावत से महाराष्ट्र में उत्पन्न राजनीतिक स्थिति के बीच भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार रात को राजभवन में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की.

फडणवीस ने कोश्यारी से अनुरोध किया कि वह उद्धव ठाकरे सरकार को विधानसभा में बहुमत साबित करने के लिए कहें.

फडणवीस ने दावा किया कि शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस गठबंधन सरकार अल्पमत में प्रतीत हो रही है क्योंकि शिंदे गुट के 39 शिवसेना विधायकों ने कहा है कि वे सरकार का समर्थन नहीं करते हैं.


यह भी पढ़ें-नेता लोग तो नहीं, भारतीय सेना बेहतर प्रबंधन करके ‘अग्निवीरों’ को जरूर बचा सकती है


share & View comments