scorecardresearch
Wednesday, 24 July, 2024
होमराजनीतिपंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा, कहा- जनता का फैसला स्वीकार

पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी ने राज्यपाल को सौंपा इस्तीफा, कहा- जनता का फैसला स्वीकार

पंजाब में कांग्रेस को कुल 18 सीटें ही मिली हैं. चन्नी खुद चुनाव नहीं जीत पाए हैं. आम आदमी पार्टी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है.

Text Size:

चंडीगढ़ः पंजाब में कांग्रेस पार्टी की हार के बाद चरणजीत सिंह चन्नी ने पूरी कैबिनेट के साथ अपना इस्तीफा राज्यपाल बनवारी लाल पुरोहित को सौंप दिया है. उन्होंने कहा कि, ‘मुझे जनता का फैसला स्वीकार है. मैंने अपना इस्तीफा दे दिया है. राज्यपाल ने कहा है कि नई सरकार के शपथ लेने तक मुख्यमंत्री बने रहें.’

उन्होंने कहा, ‘हम लोग पंजाब के लोगों की सेवा करते रहेंगे. हम अपनी ड्यूटी करते रहेगे और उनके बीच में रहेंगे. मैं नई सरकार से निवेदन करता हूं कि पिछले 111 दिनों में हमने जिन कार्यक्रमों को शुरू किया था उनके साथ वे अन्य लोक कल्याण के प्रोजेक्ट पर काम करते रहें.’

इस बीच आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के चेहरे भगवंत मान ने दिल्ली में पार्टी मुखिया से मुलाकात की है. बता दें कि पंजाब विधानसभा चुनावों में आप को कुल 117 सीटों में से 92 सीटें मिली हैं.

आप के बाद दूसरे नंबर पर सबसे ज्यादा 18 सीटें कांग्रेस को बीजेपी को 2, शिरोमणि अकाली दल को 3 और बहुजन समाज पार्टी को एक सीट मिली है.

पंजाब में कई दिग्गज नेता अपनी खुद की सीट नहीं जीत पाए. इनमें पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह, एसएस ढींढसा, चरणजीत सिंह चन्नी, प्रकाश सिंह बादल, सुखबीर सिंह बादल और नवजोत सिंह सिद्धू शामिल हैं.

साल 2017 के पंजाब विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को 77 जबकि शिरोमणि अकाली दल को 15 सीटें मिली थीं. पिछली बार आप 20 सीटें जीतकर दूसरी सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी थी.


यह भी पढ़ेंः विधानसभा चुनाव के नतीजों से 5 सबक, AAP का राष्ट्रीय दांव और BSP की जिंदा रहने की चुनौती


 

share & View comments