scorecardresearch
Saturday, 25 May, 2024
होमराजनीति'अगर कोई दुनिया की भलाई के लिए काम कर रहा है, तो वह मोदी हैं', PM मोदी की शिवराज ने जमकर प्रशंसा की

‘अगर कोई दुनिया की भलाई के लिए काम कर रहा है, तो वह मोदी हैं’, PM मोदी की शिवराज ने जमकर प्रशंसा की

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, जिन्हें बीजेपी ने अभी तक मध्य प्रदेश के लिए अपना मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बनाया है, ने सागर जिले में एक कार्यक्रम के दौरान पीएम मोदी की जमकर प्रशंसा की.

Text Size:

भोपाल: अगर “दुनिया के कल्याण” के लिए कोई काम कर रहा है, तो वह हैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी. ये बातें मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कहीं. उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की और कहा कि वह “भारत के लोगों के लिए जीते हैं”. साथ ही सीएम ने कहा कि पीएम के नेतृत्व में भारत का वैश्विक कद काफी बढ़ा है.

चौहान चुनावी राज्य के सागर जिले के बीना में एक समारोह में बोल रहे थे, जहां मोदी गुरुवार को भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन रिफाइनरी के एक पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स की आधारशिला रखने और कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन करने पहुंचे थे.

चौहान ने 17 सितंबर को मोदी को उनके जन्मदिन की शुभकामनाएं देते हुए कहा, “हर कोई अपने लिए जीता है. वह जीवन ही क्या जो अपने लिए जीया जाए? यहां तक ​​कि कीड़े, पक्षी और जानवर भी अपने लिए जीते हैं. लेकिन जो लोग दूसरों के लिए जीते हैं, वही सच्चा जीवन जीते हैं. हमारे प्रधानमंत्री इस देश की जनता के लिए जीते हैं और उनका हर क्षण देश की जनता के लिए समर्पित है. भारत माता की जय. नरेंद्र मोदी जिंदाबाद.”

उन्होंने चंद्रयान-3 मिशन की सफलता के लिए मोदी और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों को धन्यवाद दिया और कहा कि भारत अब एक कदम आगे बढ़कर सूर्य की ओर जा रहा है.

चौहान ने कहा, “अरे, बचपन में हम कहते थे, रूस अपना मिशन भेज रहा है, अमेरिका अपना मिशन भेज रहा है, लेकिन वैज्ञानिकों को प्रणाम और मोदी जी का नंदन और अभिनंदन कि चंद्रमा पर भारत का चंद्रयान पहुंच गया है. अब हम सूरज की तरफ़ भी बढ़ रहे हैं, और मंगल पर भी जा रहे हैं.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

मोदी की भरपूर प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा, “अगर कोई न केवल भारत के लिए बल्कि दुनिया की समृद्धि के लिए काम कर रहा है, तो वह व्यक्ति हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं. पूरी दुनिया में भारत की जय-जयकार हो रही है. चारों ओर मोदी मंत्र गूंज रहा है. हमारे देशवासियों का सम्मान पीएम नरेंद्र मोदी ने दुनिया में बढ़ाया है.”

मध्यप्रदेश में विधानसभा चुनावों से पहले चौहान काफी मुश्किल में फंसे दिख रहे हैं. 2020 में बीजेपी ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के नेतृत्व में कांग्रेस विधायकों के विद्रोह के बाद सत्ता में वापसी की, जिसके कारण कमल नाथ सरकार गिर गई थी.

पार्टी आलाकमान ने अब तक चौहान को चुनाव के लिए अपना सीएम चेहरा घोषित करने से इनकार कर दिया है. पार्टी का मानना है कि चुनाव सामूहिक नेतृत्व में लड़ा जाएगा.


यह भी पढ़ें: सब्सिडी के आरोप पर असम के CM हिमंत की पत्नी ने तोड़ी चुप्पी, गोगोई पर करेंगी मानहानि का केस


परियोजनाओं की भरमार

सभा में बोलते हुए चौहान ने बताया कि पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स से न केवल बीना और सागर को फायदा होगा, बल्कि विदिशा, अशोक नगर, गुना और पूरे बुंदेलखंड क्षेत्र को भी फायदा होगा. उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस ने इस क्षेत्र में कोई विकास नहीं किया और इसे अविकसित छोड़ दिया था.

चौहान ने कहा, “इस पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स में 50,000 करोड़ रुपये का सीधा निवेश है, जो पूरे क्षेत्र और यहां रहने वालों की किस्मत बदल देगा. आज, कई व्यवसायी सहायक इकाइयां स्थापित करने के लिए आए हैं. एक बार पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स पूरा हो जाने पर यह 40,000 अन्य इकाइयों के लिए रोजगार पैदा करेगा.”

उन्होंने कहा कि मोदी नर्मदापुरम में 3,300 करोड़ रुपये के नवीकरणीय ऊर्जा गलियारे, इंदौर में 5,500 करोड़ रुपये के दो आईटी पार्क, 65,400 करोड़ रुपये के मेगा औद्योगिक पार्क और शाजापुर, गुना, मऊगंज, आगर मालवा और नर्मदापुरम में 16,500 करोड़ रुपये के छह औद्योगिक गलियारे का भी उद्घाटन करेंगे.

यह आरोप लगाते हुए कि कांग्रेस के शासन में बुंदेलखंड में विकास की कमी के कारण क्षेत्र सूखे की चपेट में है, उन्होंने कहा: “केन और बेतवा नदियों को जोड़ने वाली एक परियोजना को मंजूरी दे दी गई है और सभी आवश्यक कागजी कार्रवाई पूरी कर ली गई है. इससे 20 लाख एकड़ भूमि की सिंचाई होगी और बुन्देलखण्ड में बदलाव आएगा. बीना नदी परिसर 3,300 करोड़ रुपये की एक और सिंचाई परियोजना है.

उन्होंने जोड़ा, “मुझे यह कहते हुए गर्व हो रहा है कि कांग्रेस ने राजाओं और नवाबों के साथ मिलकर केवल 7.7 लाख हेक्टेयर भूमि की सिंचाई की व्यवस्था की थी, लेकिन अब इसे बढ़ाकर 47 लाख हेक्टेयर कर दिया गया है.  और आगे प्रधानमंत्री मोदी के आशीर्वाद से इसे और बढ़ाकर 65 लाख हेक्टेयर किया जाएगा.”

(संपादन: ऋषभ राज)

(इस ख़बर को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)


यह भी पढ़ें: सीनियर स्टालिन को उदयनिधि से चुप रहने के लिए कहना चाहिए. हालांकि इसपर चल रहा विवाद पाखंड ही है


 

share & View comments