scorecardresearch
Sunday, 26 May, 2024
होमराजनीतिबढ़ती बिजली की मांग के बीच राहुल का केंद्र पर आरोप, कहा- 8 साल में PM ने भारत की अर्थव्यवस्था को बर्बाद किया

बढ़ती बिजली की मांग के बीच राहुल का केंद्र पर आरोप, कहा- 8 साल में PM ने भारत की अर्थव्यवस्था को बर्बाद किया

गांधी और उनकी कांग्रेस पार्टी ने बढ़ती महंगाई तथा बेरोजगारी को लेकर भारतीय जनता पार्टी नीत केन्द्र सरकार पर हमले तेज कर रखे हैं.

Text Size:

नई दिल्ली: बढ़ती महंगाई के बीच सोमवार को कांग्रेस के नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार पर साधा निशाना. उन्होंने आरोप लगया कि मोदी सरकार का शासन ‘कुशासन’ हैं.

बढ़ती बिजली की मांग के बीच राहुल गांधी ने यह ट्वीट किया, ‘बिजली संकट. रोजगार संकट. किसान संकट. मुद्रास्फीति संकट. प्रधानमंत्री मोदी का आठ साल का ‘कुशासन’ इस बात का एक उदाहरण हो सकता है कि कैसे दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती अर्थव्यवस्थाओं में से एक को बर्बाद किया जाए.’

गांधी और उनकी कांग्रेस पार्टी ने बढ़ती महंगाई तथा बेरोजगारी को लेकर भारतीय जनता पार्टी नीत केन्द्र सरकार पर हमले तेज कर रखे हैं.

बिजली संकट पर सवाल 

इसे पहले भी राहुल गांधी ने बिजली संकट और बढ़ते ईंधनो की कीमतों पर भी सवाल उठाया था. उन्होंने कहा था कि प्रधानमंत्री जी के ‘वादों’ और ‘इरादों’ के बीच का तार तो हमेशा से ही कटा था. मोदी जी, इस बिजली संकट में आप अपनी नाकामी के लिए किसे दोष देंगे? नेहरू जी को? राज्य सरकारों को? या फिर जनता को ही?

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इसे पहले उन्होंने ट्वीट कर लिखा था, ‘उच्च ईंधन की कीमतें – राज्य का दोष, कोयले की कमी – राज्य का दोष, ऑक्सीजन की कमी – राज्य का दोष. सभी ईंधन करों का 68% केंद्र द्वारा लिया जाता है. फिर भी, पीएम जिम्मेदारी से बचते हैं. मोदी का संघवाद सहयोगी नहीं है. यह जबरदस्ती है.’


यह भी पढ़े: सारे फैसले मोदी-शाह के लेने से BJP की निर्णायक इकाई निष्क्रिय, योगी को शामिल करने पर कोई सुगबुगाहट नहीं


 

share & View comments