scorecardresearch
Wednesday, 19 June, 2024
होमलास्ट लाफनोटबंदी पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला और वाह बेरोजगारी जी वाह!

नोटबंदी पर सुप्रीम कोर्ट का फैसला और वाह बेरोजगारी जी वाह!

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के इस कार्टून में, सतीश आचार्य ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा केंद्र सरकार के नोटबंदी के फैसले को आरबीआई एक्ट का उल्लंघन नहीं बताने पर कटाक्ष किया है.
EP Unny | The Indian Express
ई.पी. उन्नी | द इंडियन एक्सप्रेस

ई.पी. उन्नी ने सुप्रीम कोर्ट के 4:1 के उस फैसले का हवाला दिया, जिसमें उन्होंने केंद्र सरकार के 2016 के नोटबंदी के फैसले को सही करार दिया है.

Alok Nirantar | Twitter/@Caricatured
आलोक निरंतर | ट्विटर /@Caricatured

आलोक निरंतर ने नोटबंदी के फैसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले की पृष्ठभूमि में ‘व्हाट्सएप अंकल‘ का मज़ाक उड़ाया, जिसके बारे में विशेषज्ञों का मानना है कि इससे भारत की आर्थिक वृद्धि की कहानी को नुकसान पहुंचा है.

Kirtish Bhatt | @BBCHindi
कीर्तिश भट्ट | @BBCHindi

कीर्तिश भट्ट ने दिसंबर महीने में भारत की बेरोजगारी दर के 8.31 प्रतिशत और 16 महीने के उच्चतम स्तर पर पहुंच जाने पर कटाक्ष किया है.

Sorit | Twitter/@down2earthindia
सोरित | ट्विटर/@down2earthindia

सोरित गुप्तो ने एलियन्स की मौजूदगी पर चुटकी ली कि अगर वह मौजूद होते तो पृथ्वी के निवासियों को नए साल का जश्न मनाते देखकर हैरान हो जाते.

(इन कार्टून्स को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments