Monday, 8 August, 2022
होमलास्ट लाफफ्रिंज एलिमेंट्स का राष्ट्रीय मोर्चा और MVA से अभी भी क्या बंधा हुआ है

फ्रिंज एलिमेंट्स का राष्ट्रीय मोर्चा और MVA से अभी भी क्या बंधा हुआ है

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चुने गए पूरे दिन के सबसे अच्छे कार्टून.

Text Size:

दिप्रिंट के संपादकों द्वारा चयनित कार्टून पहले अन्य प्रकाशनों में प्रकाशित किए जा चुके हैं. जैसे- प्रिंट मीडिया, ऑनलाइन या फिर सोशल मीडिया पर.

आज के चित्रित कार्टून में, आर प्रसाद ने मंगलवार को उदयपुर में एक दर्जी कन्हैया लाल तेली की नृशंस हत्या का उल्लेख किया है, जिसने कथित तौर पर एक सोशल मीडिया पोस्ट पर जिसे उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा के समर्थन में साझा किया था. शर्मा, जिनकी पैगंबर मोहम्मद पर विवादास्पद टिप्पणी से पूरे मध्य पूर्व में  आक्रोश फैल गया था, को उनकी पार्टी ने इस महीने की शुरुआत में निलंबित कर दिया था और विदेश मंत्रालय द्वारा ‘फ्रिंज तत्व’ के रूप में लेबल किया गया था. इस बीच, कन्हैया लाल की हत्या में गिरफ्तार किए गए संदिग्धों को इस्लामी कट्टरपंथी झुकाव वाला माना जाता है.

Manjul | Twitter/@MANJULtoons | News9Live.com

न्यूज9 लाइवडॉट.कॉम में भी उदयपुर में हुई हत्या के संदर्भ में, मंजुल उन समाचार चैनलों पर तंज कसते हैं जिन पर अक्सर ‘हिंदू-मुस्लिम’ बहसों का ध्रुवीकरण करने वाले ऊंची आवाज में एंकर शोर मचाते रहते हैं.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

दि इंडियन एक्सप्रेस के ई.पी. उन्नी ने महाराष्ट्र में चल रहे राजनीतिक उथल-पुथल पर कटाक्ष किया है. शिवसेना के विधायकों द्वारा अपनी ही पार्टी के खिलाफ विद्रोह के बाद शिवसेना प्रमुख और सीएम उद्धव ठाकरे के इस्तीफे और महा विकास अघाड़ी गठबंधन सरकार के पतन के बाद, भाजपा के देवेंद्र फडणवीस सीएम के रूप में वापसी करने के लिए तैयार दिखे. हालांकि, फडणवीस ने गुरुवार को एक आश्चर्यजनक कदम में घोषणा की कि शिवसेना के बागी नेता एकनाथ शिंदे मुख्यमंत्री बनेंगे, जिसमें भाजपा बाहर से उनकी सरकार का समर्थन करेगी.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की जिनकी पिछले साल रीढ़ की सर्जरी हुई थी, उसको लेकर बालासाहेब को उनकी तारीफ करते हुए आलोक निरंतर ने पेश किया है, जिसमें कहा है कि इतने हमलों के बाद भी वह झुके नहीं.

सतीश आचार्य ने राजभवन में फ्लोर टेस्ट को लेकर जो कि एकनाथ शिंदे के साथ बागी विधायकों की वजह से उद्धव सरकार गिर गई है. कार्टूनिस्ट ने बालासाहेब ठाकरे द्वारा उद्धव ठाकरे को तलवार देते हुए दिखाया गया जिससे को वह बागियों फ्लोर टेस्ट के लिए लड़ सकें.

(इन कार्टून्स को अंग्रेजी में देखने के लिए यहां क्लिक करें)

share & View comments