Thursday, 26 May, 2022
होमदेशवैष्णो देवी मंदिर की भगदड़ में 12 की मौत, हादसे की वजह से लेकर हेल्पलाइन तक, यहां जानें हर अपडेट

वैष्णो देवी मंदिर की भगदड़ में 12 की मौत, हादसे की वजह से लेकर हेल्पलाइन तक, यहां जानें हर अपडेट

वैष्णो देवी माता मंदिर में हुई भगदड़ के बाद लोग अपने परिजनों का हाल जानने के लिए प्रशासन को संपर्क कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है

Text Size:

नई दिल्ली: माता वैष्णो देवी के भवन में मची भगदड़ में कुल 15 लोगों की मौत की पुष्टि हो चुकी है. जम्मू-कश्मीर के डीजीपी ने बताया कि गेट नंबर तीन पर कुछ नौजवानों में कुछ बहस हुई थी और फिर इनमें से किसी को धक्का दिया गया और इस दौरान लोग भागने लगे. इस विवाद के चलते भगदड़ की स्थिति पैदा हो गई. डीजीपी ने बताया कि अब तक 12 लोगों की मौत हो गई है.

देशभर से लोग अपने परिजनों का हाल जानने को कर रहे फोन

वैष्णो देवी माता मंदिर में हुई भगदड़ के बाद लोग अपने परिजनों का हाल जानने के लिए प्रशासन को संपर्क कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर प्रशासन की तरफ से हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जिस पर कॉल करके लोग परिवार वालों का हाल ले रहे हैं. मदद के लिए भी लोग कॉल कर रहे हैं.

इसके अलावा घायल लोगों का अस्पताल में इलाज चल रहा है.

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने इस पूरे हादसे पर कहा, ‘यहां भर्ती हुए लोगों की हालत स्थिर है. हम यात्रा के लिए कुछ तकनीकी समाधान जोड़ सकते हैं. पहले लोग त्योहारों के दौरान मंदिर पर जाते थे, आजकल युवा साल के पहले दिन भी मंदिर जाना चाहते हैं. पीएम मोदी स्थिति की निगरानी कर रहे हैं’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

श्री माता वैष्णो देवी नारायण सुपरस्पेशलिटी अस्पताल के न्यरूरोसर्जन डॉ जेपी सिंह ने बताया, 15 घायलों को अस्पताल लाया गया था. इनमें से 4 आईसीयू में भर्ती हैं. 11 लोग स्थिर थे, जिनमें से 3-4 लोगों को प्राथमिक उपचार के बाद छुट्टी दे दी गई. लगभग 5 का अभी भी इलाज चल रहा है.”

श्राइन बोर्ड ने दिए जांच के आदेश

श्राइन बोर्ड ने बयान जारी कर बताया कि रात करीब 2.15 बजे वैष्णो देवी भवन के गेट नंबर तीन के पास भगदड़ मची थी. हादसे में 12 श्रद्धालुओं की मौत हुई और 15 श्रद्धालु घायल हो गए हैं.  सरकार ने तीन सदस्यों की टीम को उच्च स्तरीय जांच के आदेश दिए हैं, जिसकी अध्यक्षता प्रिंसिपल सेक्रेटरी होम करेंगे और उनके साथ एडीजीपी जम्मू जोन और डिविजनल कमिश्नर जम्मू भी इस टीम के सदस्य होंगे.

पीएमओ की तरफ मुआवजे का ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने स्थिति का जायजा लेने के लिए जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल सिन्हा और केंद्रीय मंत्रियों-जितेंद्र सिंह तथा नित्यानंद राय से बात की है.

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए मुआवजे की घोषणा की. पीएमओ ने प्रधानमंत्री मोदी के हवाले से एक ट्वीट में कहा कि माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने घटना पर शोक जताते हुए कहा कि उन्होंने स्थिति का जायजा लेने के लिए जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल सिन्हा और केंद्रीय मंत्रियों-जितेंद्र सिंह तथा नित्यानंद राय से बात की है.

बता दें कि हादसे में जान गंवाने वाले 12 लोगों में से 11 की पहचान हो पाई है. जिनका ब्यौरा इस प्रकार है:

1. गाजियाबाद की श्वेता सिंह, इनकी उम्र 35 साल थी और पति का नाम है विक्रांत सिंह.

2. गोरखपुर के डॉ अरुण प्रताप सिंह, इनकी उम्र 30 साल थी, इनके पिता का नाम सत प्रकाश सिंह है

3.सहारनपुर के धरमवीर सिंह, इनकी उम्र 35 साल है.

4. सहारनपुर के वनीत कुमार की 38 साल है, इनके पिता का नाम वीरमपाल सिंह है.

5. दिल्ली, भादेरपुर के विनयकुमार इनकी उम्र 25 साल है, इनके पिता का नाम महेश चंद्र है.

6. दिल्ली, भादेरपुर के सोन पांडेय की उम्र 24 साल है और इनके पिता नाम नरिंदर पांडेय है.

7. हरियाणा के बीरी झज्जर की ममता की उम्र 38 साल है और इनके पति का नाम सुरिंदर है.

8. जम्मू कश्मीर, राजौरी के धीरज कुमार की उम्र 26 साल है, इनके पिता का नाम

9. गौतमबुद्धनगर, यूपी के सोनू शर्मा की उम्र 32 साल है. इनके पिता का नाम फेरूमल है.

10. कानपुर, यूपी के महिंदर कौर की उम्र 26 साल है, इनके पिता का नाम शिव कुसम है.

11. कानपुर, यूपी के सुहाब की उम्र 40 साल है इनके पिता नाम सुहाब है.

इन नंबरों से ले सकते हैं मदद

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने मृतकों के परिजनों और घायलों के लिए मुआवजे की घोषणा की. पीएमओ ने प्रधानमंत्री मोदी के हवाले से एक ट्वीट में कहा कि माता वैष्णो देवी भवन में भगदड़ में जान गंवाने वालों के परिजनों को प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि दी जाएगी. घायलों को 50-50 हजार रुपये दिए जाएंगे.


यह भी पढ़ें-वैष्णो देवी तीर्थ क्षेत्र में कुछ युवाओं के बीच मामूली विवाद के कारण भगदड़ हुई: दिलबाग सिंह


share & View comments