scorecardresearch
Friday, 1 March, 2024
होमदेश'कहते थे UP का विकास नहीं हो सकता', इन्वेस्टर्स समिट में बोले PM- कानून व्यवस्था, शांति UP की पहचान

‘कहते थे UP का विकास नहीं हो सकता’, इन्वेस्टर्स समिट में बोले PM- कानून व्यवस्था, शांति UP की पहचान

उत्तरप्रदेश की राजधानी लखनऊ में आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 का उद्घाटन किया. उद्घाटन समारोह में रक्षामंत्री राजनाथ सिंह और योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहे. यह समिट 12 फरवरी तक चलेगा.

Text Size:

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज लखनऊ में तीन दिवसीय यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 का शुभारंभ किया. उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में प्रधानमंत्री ने कहा कि लोग पहले कहते थे कि यूपी का विकास नहीं हो सकता लेकिन आज उत्तरप्रदेश की पहचान पांच-पांच अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डे से है. प्रधानमंत्री ने कहा, ‘बहुत जल्द यूपी देश के उस इकलौते राज्य के तौर पर जाना जाएगा जहां 5 अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे हैं. डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर से यूपी सीधे समुद्र के रास्ते से गुजरात से जुड़ेगा.’

उन्होंने कहा, ‘आज उत्तर प्रदेश की पहचान बेहतर कानून व्यवस्था, शांति और स्थिरता से है. उत्तर प्रदेश के इंफ्रास्ट्रक्चर की पहल के परिणाम नजर आ रहे हैं. सिर्फ छह साल में उत्तरप्रदेश आशा और उम्मीद का किरण बन गया है.’

प्रधानमंत्री ने कहा, ‘भारत में निवेशकों के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा, हरित विकास और सामाजिक बुनियादी ढांचा बेहतरीन अवसर हैं. आज भारत मजबूरी में नहीं, दृढ़ विश्वास के कारण सुधार कर रहा है.’

मोदी ने अपने संबोधन में कहा, ‘आज भारत में सोशल, डिजिटल और इंफ्रास्ट्रक्चर पर जो काम हुआ है उसका बड़ा लाभ यूपी को भी मिला है. हमने दर्जनों पुराने कानूनों को खत्म किया है और आज भारत सही मायनों में स्पीड और स्केल के रास्ते पर चल पड़ा है.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

‘मुख्य अतिथि ही नहीं सांसद भी हूं’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत करते हुए कहा, ‘मैं मुख्य अतिथि तो हूं ही पर यूपी का सांसद भी हूं इसलिए मैं यहां आप सबका स्वागत करता हूं.’ उन्होंने प्रदेश में हुए बदलाव का जिक्र करते हुए कहा कि 2017 में प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद ही बिजली से लेकर कनेक्टिविटी और इंफ्रास्ट्रक्चर हर क्षेत्र में विकास हो रहा है. यह बदलाव सिर्फ छह साल में हुआ है.

उन्होंने कहा, ‘उत्तर प्रदेश के प्रति मेरा एक विशेष स्नेह है और यूपी के लोगों के प्रति मेरी एक विशेष जिम्मेदारी भी है. मैं आप सभी निवेशकों का यूपी में स्वागत करता हूं, यहां आने के लिए धन्यवाद करता हूं.’


यह भी पढ़ें: ‘दिसंबर 2023 तक UP के हर गांव, कस्बे तक 5G सेवा’- यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट में बोले मुकेश अंबानी


दुनिया की नजर भारत पर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन से पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि पूरी दुनिया की नजर आज भारत पर है. उन्होंने कहा, ‘दुनिया भारत को आशा और संभावना की दृष्टि से देखती है. भारत के बदलते परिदृश्य ने दुनिया का ध्यान अपनी ओर खींचा है.’

रक्षामंत्री ने कहा, ‘छद्म धर्मनिरपेक्षता के माध्यम से, न केवल उद्योगपतियों को आगे बढ़ने से रोका गया बल्कि स्थापित उद्योगों को भी बाधित किया गया. सरकार ने व्यापार समुदाय के लिए एक नई दृष्टि सामने रखी है. आज व्यापारिक समुदाय को सम्मान और विश्वास की दृष्टि से देखा जाता है. पिछले कुछ सालों में बिजनेस कम्युनिटी के प्रति सरकार ने नई अप्रोच रखी है. पुराने और अप्रभावी नियम कानून, जो इंडस्ट्री के लिए सरकार ने रेड टेप बने कानूनों को रेड कार्पेट में बदल दिया.’

उन्होंने आगे कहा कि पहले इन्वेस्ट को वेस्‍ट समझा जाता था. अब इसे बेस्ट समझा जाता है.

बढ़ रहा है विकास कार्य

उससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, ‘यूपी में विकास कार्य काफी तेजी से बढ़ रहा है. प्रदेश में अब तक 29 लाख करोड़ के एमओयू साइन हुए है. प्रदेश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के विजन के अनुरूप औद्योगिक विकास के क्षेत्र में उपलब्धियां हासिल कर रहा है. यही कारण है कि यूपी इन्वेस्टर्स समिट 2023 में प्रदेश में निवेश के लिए 18643 एमओयू साइन हुए हैं. इससे प्रदेश में 29 लाख 92 हजार करोड़ के निवेश का रास्ता खुला है और इसके कारण 92 लाख 50 हजार से अधिक नौकरी व रोजगार प्राप्त होंगे.’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘यूपी के इतिहास में यह पहला अवसर है कि जब एक साथ यूपी के सभी 75 जनपदों में निवेश कर रहा है. यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 प्रदेश को 1 ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनाने के साथ साथ देश को 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाने के लक्ष्य को पूरा करेगा.’

उद्योगपतियों ने योगी को सराहा

यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट-2023 में आए उद्योगपतियों ने योगी सरकार की जमकर सराहना की. आदित्य बिरला ग्रुप के चैयरमेन कुमार मंगलम बिरला ने अपने भाषण में कहा सरकार ने ईज आफ डूइंग बिजनेस के लेकर कई नए कदम उठाए हैं. इसके कारण यह राज्य निवेशकों की पहली पसंद बन गया है. 

उन्होंने दूसरे उद्योगपतियों से भी यूपी में निवेश करने की अपील की. 

वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुखिया मुकेश अंबानी ने कहा, ‘यूपी ग्लोबल इन्वेस्टर्स समिट विकास का महाकुंभ है. लखनऊ पुण्यनगरी है, लक्ष्मण की नगरी है. यूपी पुण्यभूमि है, भगवान रामचंद्र की भूमि है. गंगा-यमुना-सरस्वती के संगम की भूमि है.’

उन्होंने आगे कहा, ‘नरेंद्र मोदी जब से देश के प्रधानमंत्री बने है तो देश में काफी विकास हुआ  है.’

मुकेश अंबानी ने यूपी में 75 हजार करोड़ रुपए के निवेश की घोषणा की जिससे 1 लाख से अधिक रोजगार पैदा होंगे.


यह भी पढ़ें: छह मिनट तक पुराना बजट भाषण पढ़ते रहे, विपक्ष के विरोध के बाद CM अशोक गहलोत ने मांगी माफी


 

share & View comments