Thursday, 11 August, 2022
होमदेशयूक्रेन से देर रात भारत लौटे 240 छात्र, बोले- बिगड़ते हालात में अपने घर आकर खुश हैं

यूक्रेन से देर रात भारत लौटे 240 छात्र, बोले- बिगड़ते हालात में अपने घर आकर खुश हैं

एअर इंडिया का एक विमान पूर्वी यूरोपीय देश से करीब 240 भारतीयों को लेकर मंगलवार रात दिल्ली हवाई अड्डे पर उतरा.

Text Size:

नई दिल्ली: यूक्रेन में पढ़ रहे भारतीय छात्रों ने मंगलवार रात यहां पहुंचने के बाद कहा कि वे रूस और पूर्वी यूरोपीय देश के बीच बढ़ रहे तनाव के चलते अपने देश लौटकर खुश हैं.

इनमें से अधिकतर छात्र यूक्रेन में एमबीबीसी की पढ़ाई कर रहे हैं.

एअर इंडिया का एक विमान पूर्वी यूरोपीय देश से करीब 240 भारतीयों को लेकर मंगलवार रात दिल्ली हवाई अड्डे पर उतरा. उड़ान संख्या एआई 1946 देर रात करीब 11 बजकर 40 मिनट पर यहां इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर उतरी. इसने कीव में बोरिस्पिल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे से शाम करीब छह बजे (भारतीय समयानुसार) उड़ान भरी थी. विमानन कंपनी ने भारतीयों को लाने के लिए एक बोइंग 787 विमान का परिचालन किया, जिसने सुबह यूक्रेन के लिए उड़ान भरी थी.

अधिकारियों ने बताया कि विमान में करीब 240 यात्री सवार थे.

यूक्रेन से यहां हवाई अड्डे पर उतरने के बाद एमबीबीएस के 22 वर्षीय छात्र अनिल राप्रिया ने कहा, ‘मुझे अपने देश में लौटकर खुशी हो रही है.’

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

यूक्रेन से इस दल का हिस्सा रहीं रिया ने बताया, ‘दूतावास के कहने पर हम वापस लौट आए हैं, फिलहाल के लिए शायद ऑनलाइन पढ़ाई हो सकती है.’

हवाई अड्डे पर उतरने के बाद ‘पीटीआई-भाषा’ से फोन पर कहा, ‘यूक्रेन में बदलते हालात के बीच भारतीय दूतावास ने हमें देश छोड़ने को कहा था, जिसके बाद मैं अभी भारत पहुंचा.’

कीर्तन कलाठिया, नीरव पटेल, विनीत पटेल और कृष राज भी उन छात्रों में शामिल हैं, जो यूक्रेन से दिल्ली पहुंचे हैं.

राज ने कहा, ‘हम सभी चेरनिव्त्सी में बुकोविनियन स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी (बीएसएमयू) में पढ़ते हैं. हमने अपने कॉलेज के अधिकारियों को सूचित किया है कि हम जा रहे हैं और कक्षाएं अब ऑनलाइन होंगी. चेरनिव्त्सी में हालात ठीक हैं, क्योंकि यह सीमा क्षेत्र से काफी दूर है.’

रांची निवासी अपूर्वा भूषण ने कहा, ‘हमें हमारे आधिकारिक व्हाट्सऐप ग्रुप पर भारतीय दूतावास का परामर्श मिला था. इसमें कहा गया था कि यूक्रेन में मौजूदा स्थिति को देखते हुए छात्रों को अस्थायी रूप से देश छोड़ देना चाहिए, इसलिए हमने सलाह का पालन किया और वहां से चले आए.’

यूक्रेन से करीब 242 यात्रियों को लेकर एयर इंडिया की विशेष फ्लाइट दिल्ली हवाई अड्डे पहुंची.

एक छात्र ने बताया, ‘मैं यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रहा हूं. भारत पहुंच कर राहत महसूस कर रहा हूं, परिवार वालों को भी परेशानी हो रही थी अब वे ख़ुश हैं.’

छात्रों के वापस लौटने से अभिभावकों में भी खुशी की लहर है. एक पिता जिनकी बेटी यूक्रेन में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है. अभिभावक ने कहा मैं अब बहुत खुश हूं कि वह वापस आ रही है. हम सभी काफी घबरा गए थे.

 


यह भी पढें: रूस-यूक्रेन संकट से बड़ा ख़तरा है चीन: इंडो-पैसिफिक बैठक में जयशंकर का EU को इशारा


 

share & View comments