Monday, 27 June, 2022
होमदेशकेमिकल के गोदाम में विस्फोट में हुई मौतों से व्यथित हुए पीएम मोदी, कहा- अधिकारी हरसंभव मदद पहुंचा रहे हैं

केमिकल के गोदाम में विस्फोट में हुई मौतों से व्यथित हुए पीएम मोदी, कहा- अधिकारी हरसंभव मदद पहुंचा रहे हैं

गुजरात में रसायन के एक गोदाम में हुए विस्फोट से इसका एक हिस्सा ढह गया जिससे 9 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य लोग घायल हो गए. राहत कार्य के लिए एनडीआरएफ की टीम पहुंच चुकी है.

Text Size:

नई दिल्ली/अहमदाबाद: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अहमदाबाद में रसायन के एक गोदाम में विस्फोट में हुई मौतों पर बुधवार को शोक जताया और कहा कि अधिकारी प्रभावितों को हरसंभव मदद पहुंचा रहे हैं.

अहमदाबाद के पिराना-पिपलाज रोड पर स्थित एक इमारत में बुधवार को आग लगने के बाद विस्फोट हो गया. इसमें 9 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य लोग घायल हो गए. हालांकि की दुर्घटना स्थल पर राहत कार्य के लिए एनडीआरएफ की टीम पहुंच चुकी है.

मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘अहमदाबाद के गोदाम में आग लगने से जानमाल के नुकसान की खबर से मैं व्यथित हूं. मृतकों को श्रद्धांजलि और घायलों के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना करता हूं. अधिकारी प्रभावित लोगों को हरसंभव मदद पहुंचा रहे हैं.’ हालांकि मोदी का ट्वीट गुजराती में है.

 छह लोगों की मौत

गुजरात में रसायन के एक गोदाम में हुए विस्फोट से इसका एक हिस्सा ढह गया जिससे 9 लोगों की मौत हो गई और आठ अन्य लोग घायल हो गए.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

दमकल विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि अभी तक कम से कम 14 लोगों को मलबे से निकाला गया है.

उन्होंने बताया कि औद्योगिक क्षेत्र, पिराना-पिपलाज रोड पर यह इमारत स्थित है और आग लगने के बाद यहां विस्फोट हुआ.

दमकल विभाग के प्रमुख अधिकारी एम.एफ दस्तुर ने कहा, ‘ विस्फोट होने की जानकारी मिलते ही दमकल कर्मी मौके पर पहुंचे. अभी तक 14 लोगों को मलबे से निकाला गया है. सभी को ‘एलजी अस्पातल’ ले जाया गया .’

उन्होंने बताया कि मलबे में फंसे लोगों को निकालने के लिए कंक्रीट के स्लैब तोड़ने पड़े, जिसके लिए मशीन का इस्तेमाल किया गया.

इस बीच , सरकारी अस्पताल ने बताया कि यहां लाए गए 14 लोगों में से छह लोगों की मौत हो गई.

उसने एक बयान में कहा, ‘अन्य आठ का इलाज चल रहा है.’

दमकल विभाग के नियंत्रण कक्ष के एक अधिकारी ने बताया कि सुबह करीब 11 बजे आग लगने से विस्फोट होने की जानकारी मिलते ही बचाव तथा दमकल विभाग के कम से कम 26 वाहन मौके पर भेजे गए.

पुलिस उपायुक्त अशोक मुनिया ने कहा, ‘रसायन का गोदाम विस्फोट के बाद धंस गया. बचाव कार्य अब भी जारी है. हमने मामले की जांच शुरू कर दी है.’

इस बीच, साथ वाली इमारत में काम करने वाले मजदूरों ने पत्रकारों को बताया कि विस्फोट इतना भीषण था कि गोदाम की दीवारें क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे छत गिर गई और उसमें काम करने वाले लोग नीचे दब गए.


य़ह भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर में जिला विकास परिषद के चुनावों की हुई घोषणा, 28 नवंबर से 22 दिसंबर तक 8 चरणों में होगी वोटिंग


 

share & View comments