scorecardresearch
Friday, 21 June, 2024
होमदेशचीन को पीछे छोड़ भारत बना दुनिया का सबसे ज्यादा आबादी वाला देश: UN

चीन को पीछे छोड़ भारत बना दुनिया का सबसे ज्यादा आबादी वाला देश: UN

संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1950 में जनसंख्या डेटा एकत्र करना शुरू करने के बाद से यह पहली बार है, जब भारत ने संयुक्त राष्ट्र की सबसे अधिक आबादी वाले देशों की सूची में शीर्ष स्थान हासिल किया है.

Text Size:

नई दिल्ली: संयुक्त राष्ट्र ने बुधवार को कहा कि चीन को पीछे छोड़ते हुए भारत 142.86 करोड़ लोगों के साथ दुनिया का सबसे ज्यादा आबादी वाला देश बन गया.

यूएनएफपीए की द स्टेट ऑफ वर्ल्ड पॉपुलेशन रिपोर्ट 2023 के अनुसार, भारत की जनसंख्या 1,428.6 मिलियन तक पहुंच गई है, जबकि चीन की आबादी 1,425.7 मिलियन है. जिसके अनुसार दोनों देशों की आबादी में 2.9 मिलियन का अंतर है.

संयुक्त राष्ट्र द्वारा 1950 में जनसंख्या डेटा एकत्र करना शुरू करने के बाद से यह पहली बार है, जब भारत ने संयुक्त राष्ट्र की सबसे अधिक आबादी वाले देशों की सूची में शीर्ष स्थान हासिल किया है.

एक साल पहले, चीन की आबादी 1960 के बाद पहली बार घटी थी. 2016 में, बीजिंग ने अपनी सख्त “वन-चाइल्ड पॉलिसी” को समाप्त कर दिया, जो 1980 के दशक में अत्यधिक जनसंख्या के डर से लागू की गई थी. लेकिन फिर 2021 में कपल्स को तीन बच्चे पैदा करने की अनुमति दे दी थी.

चीन अब लगातार अपनी जनसंख्या में गिरावट का सामना कर रहा है, क्योंकि इसके वर्कफाॅर्स की उम्र और प्रजनन दर में कमी आई है.

इस बीच, संयुक्त राज्य अमेरिका 340 मिलियन की अनुमानित जनसंख्या के साथ तीसरे स्थान पर है.

भारत ने 2011 से जनगणना नहीं की है इसलिए इसकी जनसंख्या के आकार पर कोई ताज़ा आधिकारिक आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं.

भारत में एक दशक में एक बार जनगणना 2021 में होने वाली थी, लेकिन कोरोनावायरस के प्रकोप के कारण इसे स्थगित कर दिया गया था.

संयुक्त राष्ट्र के आंकड़ों के मुताबिक, 2023 के मध्य तक वैश्विक आबादी 8.045 अरब तक पहुंचने की उम्मीद है.


यह भी पढ़ें: हंगरी के इमिग्रेशन नियमों में ढील से भारतीय ट्रक चालकों को मिला एक नया बाजार, बेहतर भुगतान और ट्रैफिक भी कम


share & View comments