scorecardresearch
Sunday, 26 May, 2024
होमदेशअपराधकेरल की प्रार्थना सभा में कई विस्फोट- एक की मौत, अनेकों लोग घायल

केरल की प्रार्थना सभा में कई विस्फोट- एक की मौत, अनेकों लोग घायल

कलामासेरी के सीआई विबिन दास ने कहा कि पहला विस्फोट सुबह 9 बजे के आसपास हुआ और उसके बाद अगले एक घंटे में कई विस्फोट हुए.

Text Size:

कोच्चि (केरल) : केरल के कोच्चि के कलामासेरी इलाके में रविवार सुबह यहोवा की प्रार्थना सभा में हुए कई विस्फोटों के बाद एक व्यक्ति की मौत हो गई और कई अन्य घायल हो गए, पुलिस ने ये जानकारी दी है.

कलामासेरी पुलिस का कहना है कि कलामासेरी के एक कन्वेंशन सेंटर में विस्फोट में एक व्यक्ति की मौत हो गई है. अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है.

कलामासेरी के सीआई विबिन दास ने कहा कि पहला विस्फोट सुबह 9 बजे के आसपास हुआ और उसके बाद अगले एक घंटे में कई विस्फोट हुए.

27 अक्टूबर को शुरू हुई तीन दिवसीय बैठक का रविवार को आखिरी दिन था.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

अधिकारियों के मुताबिक, जब धमाके हुए तब 2,000 से ज्यादा लोग प्रार्थना सभा में शामिल हो रहे थे.

यह घटना आतंकवादी समूह हमास के पूर्व प्रमुख खालिद मशाल द्वारा गाज़ा में इज़रायली सैन्य हमले के बीच फ़िलिस्तीन समर्थक विरोध के वर्चुअली एड्रेस करने के एक दिन बाद हुई.

शनिवार को विरोध प्रदर्शन में हमास नेता के हिस्सा लेने पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए, भारत में इजरायल के राजदूत नाओर गिलोन ने अपने एक्स हैंडल से पोस्ट किया, “मशाल ने प्रतिभागियों ने कहा: सड़कों पर उतरें और गुस्सा दिखाएं, जिहाद के लिए तैयार रहें (इजरायल के खिलाफ), हमास का आर्थिक रूप से सपोर्ट करें, सोशल मीडिया पर फ़िलिस्तीनी को बढ़ाएं. अब #हमासआईएसआईएस को #भारत की आतंकवादी सूची में जोड़ने का समय आ गया है.”

अधिक जानकारी की प्रतीक्षा है.

केरल के सीएम ने दिल्ली में इज़रायल-हमास वार को लेकर किया प्रदर्शन

वहीं केरल के मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन और पार्टी नेता सीताराम येचुरी समेत सीपीआई-एम नेताओं ने इजराइल-हमास युद्ध पर एकेजी भवन के बाहर “गाजा पर हमला कर नरसंहार को रोकें” संदेश के साथ विरोध प्रदर्शन किया.


 

यह भी पढे़ं : ‘बच्चों को मारना बंद करो’- फ़िलिस्तीनी समर्थकों का युद्धविराम के लिए अमेरिका, लंदन, बर्लिन में प्रदर्शन


 

share & View comments