scorecardresearch
Thursday, 13 June, 2024
होमदेशमॉस्को से गोवा जा रही फ्लाइट में बम होने की धमकी, 6 घंटे के जांच के बाद भी नहीं मिला संदिग्ध

मॉस्को से गोवा जा रही फ्लाइट में बम होने की धमकी, 6 घंटे के जांच के बाद भी नहीं मिला संदिग्ध

जांच के दौरान कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला. फ्लाइट आज सुबह 10:30 से 11 बजे के बीच गोवा के लिए रवाना होने की उम्मीद है.

Text Size:

नई दिल्ली: मॉस्को से गोवा जा रहे एक विमान में बम रखे जाने की धमकी मिलने के बाद उसे आपात स्थिति में गुजरात के जामनगर में सोमवार की रात उतारा गया. हवाई अड्डे के निदेशक के अनुसार, ‘जांच के दौरान कुछ भी संदिग्ध नहीं मिला. फ्लाइट आज सुबह 10:30 से 11 बजे के बीच गोवा के लिए रवाना होने की उम्मीद है.’

जामनगर के कलेक्टर सौरभ पारघी ने बताया कि, ‘सुरक्षा एजेंसियों ने 9 घंटे तक एयरपोर्ट की घेराबंदी की. विमान और यात्रियों की सघन जांच की गई है. यात्रियों के सामान भी जांच किया गया और सभी विवरणों का सत्यापन किया जा रहा है.’

उन्होंने बताया कि हमें मॉस्को-गोवा फ्लाइट में बम के बारे में सूचना मिली, जिसे जामनगर डायवर्ट कर दिया गया. फ्लाइट में 236 यात्री और 8 क्रू मेंबर हैं. सभी यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया है और वे एयरपोर्ट के लाउंज में हैं.

नई दिल्ली में रूसी दूतावास के एक अधिकारी ने कहा कि मॉस्को से गोवा जाने वाले ‘अजूर एयर’ के विमान में कथित तौर पर बम होने की खबर के बारे में भारतीय अधिकारियों ने दूतावास को सतर्क किया था.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

इस बीच, गोवा पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि विमान मॉस्को से उड़ान भरने के बाद डाबोलिम हवाई अड्डे पर उतरने वाला था, लेकिन बम की आशंका के चलते इसे जामनगर की ओर मोड़ दिया गया.

उन्होंने कहा कि गोवा पुलिस ने एहतियात के तौर पर डाबोलिम हवाई अड्डे और उसके आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है. पुलिस उपाधीक्षक (वास्को) सलीम शेख ने पत्रकारों से कहा, ‘मॉस्को से रवाना हुए विमान को डाबोलिम हवाई अड्डे पर उतरना था, लेकिन बम की आशंका के कारण उसे जामनगर की ओर मोड़ दिया गया.’

हवाई अड्डे पर सभी आपातकालीन सेवाओं को तैयार रखा गया जबकि वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने हवाई अड्डे के अधिकारियों के साथ बैठक की.


यह भी पढ़ेंः AAP का उदय और बिगड़ी कानून-व्यवस्था—पंजाब के लिए दहशत और हाई-प्रोफाइल हत्याओं का साल रहा 2022


share & View comments