scorecardresearch
Saturday, 15 June, 2024
होमदेशदेश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, पिछले 24 घंटे में 5 हजार से ज्यादा केस आए सामने

देश में लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले, पिछले 24 घंटे में 5 हजार से ज्यादा केस आए सामने

दिल्ली में कोविड-19 के 699 नये मामले सामने आए और संक्रमण दर 21.15 प्रतिशत रही. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से साझा किये गये आंकड़ों से यह जानकारी मिली है.

Text Size:

नई दिल्ली: भारत में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 5,880 नए संक्रमण के साथ लगातार देश में 3,000 से ज्यादा कोविड के मामले सामने आ रहे है. केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने यह जानकारी दी.

जिसके बाद देश में कोरोना संक्रमित कुल मरीज बढ़कर 35,199 हो गए हैं.

बुलेटिन के मुताबिक, शनिवार को दिल्ली में कोविड-19 के 3,305 नमूनों की जांच की गयी.

आरएमएल अस्पताल के निदेशक अजय शुक्ला ने बताया कि, “कोविड की तैयारियां को लेकर हमारे पास पीएमओ आदि से साफ निर्देश हैं. हमने 6 बिस्तर रखे थे जिसमें 4 मरीज हैं और 15-18 बिस्तर अलग से रखे हैं. मामलों की संख्या को देखते हुए हम इसको 405 बिस्तर तक बढ़ा सकते हैं.”

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

दिल्ली में 600 से ज्यादा केस

वहीं दिल्ली में रविवार को कोविड-19 के 699 नये मामले सामने आए और संक्रमण दर 21.15 प्रतिशत रही. दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य विभाग की ओर से साझा किये गये आंकड़ों से यह जानकारी मिली है.

शहर में कोविड-19 से पीड़ित चार लोगों की मौत हो गई. स्वास्थ्य बुलेटिन में, हालांकि कहा गया है कि केवल एक मामले में ही कोविड-19 मृत्यु का प्राथमिक कारण था.

बुलेटिन में कहा गया है कि नये मामलों के साथ, दिल्ली में कोरोनावायरस के संक्रमितों की संख्या बढ़कर 20,14,637 हो गई है, जबकि मरने वालों की संख्या 26,540 हो गयी है.

दिल्ली में शनिवार को 23.05 प्रतिशत की संक्रमण दर के साथ कोविड-19 के 535 नये मामले सामने आये थे.

राजधानी में शुक्रवार को 733 नये मामले दर्ज किये गये थे, जो 19.93 प्रतिशत की संक्रमण दर से पिछले सात महीने से अधिक समय का एक दिन का सर्वाधिक आंकड़ा था.


यह भी पढ़ें: ‘आजीविका के अधिकार से इनकार’, गहलोत सरकार के ‘राईट टू हेल्थ’ के खिलाफ डॉक्टरों का गुस्सा, प्रदर्शन


share & View comments