Tuesday, 5 July, 2022
होमदेशकोविड-19 संक्रमितों की संख्या 4,421 हुई, स्वास्थ्य मंत्रालय बोला- लॉकडाउन पर अभी तक कोई विचार नहीं, कृपया अटकलें न लगाएं

कोविड-19 संक्रमितों की संख्या 4,421 हुई, स्वास्थ्य मंत्रालय बोला- लॉकडाउन पर अभी तक कोई विचार नहीं, कृपया अटकलें न लगाएं

भारतीय रेलवे ने 2,500 डिब्बों में 40,000 आइसोलेशन बेड तैयार किए हैं. वे प्रतिदिन 375 अलगाव बेड तैयार कर रहे हैं और यह देश भर में 133 स्थानों पर चल रहा है. बीते 24 घंटे में कोविड-19 से आठ लोगों की मौत हुई है,

Text Size:

नई दिल्ली: सरकार ने मंगलवार को कोरोना वायरस के मद्देनजर देशव्यापी लॉकडाउन (बंद) के कारण उत्पन्न स्थिति, इससे निपटने को लेकर उठाये जा रहे कदमों की विस्तृत समीक्षा की. सूत्रों के हवाले से समाचार एजेंसी ने कहा कि 14 अप्रैल को खत्म हो रही लॉकडाउन की मियाद बढ़ाई जा सकती है. वहीं बता दें कि दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश और तेलंगाना के मुख्यमंत्रियों ने भी केंद्र सरकार से गुजारिश की है कि वह लॉकडाउन की मियाद बढ़ा दें.

इसी कड़ी में जब स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि अभी तक इसे लेकर कोई सरकार की तरफ से गाइडलाइन नहीं आई है. अभी सारी बाते भ्रामक और सोशल मीडिया के आधार पर चल रही हैं. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने पर अभी तक कोई फैसला नहीं, कृपया अटकलें ना लगाएं . जैसे ही गाइडलाइन आएगी सरकार इसे बताएगी.

सरकार की तरफ से हर दिन शाम चार बजे होने वाली मीडिया ब्रीफिंग में लव अग्रवाल ने बताया कि देश में बीते 24 घंटे में कोविड-19 से आठ लोगों की मौत हुई है तथा कुल संक्रमितों की संख्या 4,421 हो गई है. पिछले 24 घंटे में 354 मामले सामने आए हैं. अब तक 326 व्यक्तियों को ठीक होने के बाद छुट्टी दे दी गई है.

एक लाख लोगों ही अभी तक हुआ है कोविड-19 का टेस्ट

वहीं आईसीएमआर के वैज्ञानिक आर गंगा खेडकर ने बताया कि अभी तक देश में 1,07,006 टेस्ट हुए हैं. देश में फिलहाल 136 से अधिक सरकारी लैब और 59 निजी लैब में कोविड-19 की जांच का काम चल रहा है. इसी दौरान लव अग्रवाल ने यह भी बताया कि आईसीएमआर ने अपने अध्ययन में स्पष्ट किया है कि कोविड-19 का एक मरीज अगर लॉकडाउन और सामाजिक मेलजोल से दूरी का पालन नहीं कर रहा है तो वह 30 दिन में 406 लोगों को संक्रमित कर सकता है वहीं अगर वह सारे नियमों का पालन करता है तो वह महज 3 लोगों को संक्रमित करता है.

चिन्हित कर सील किए जाएगें  राज्य

बता दें कि जिन क्षेत्रों और राज्यों के जिन इलाकों में कोरोनावायरस का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है उन जगहों को चिन्हित कर सरकार अलग-अलग रणनीति के तहत काम कर रही है. केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के अधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस संक्रमण के मद्देनजर दिल्ली, मुंबई, भीलवाड़ा, आगरा में छोटे-छोटे क्षेत्रों को चिह्नित कर उन्हें सील करने की रणनीति बनायी गयी है. इसके साथ ही सरकार क्वारेंटाइन किए गए लोगों पर भी लगातार निगरानी रख रही है.

अच्छी पत्रकारिता मायने रखती है, संकटकाल में तो और भी अधिक

दिप्रिंट आपके लिए ले कर आता है कहानियां जो आपको पढ़नी चाहिए, वो भी वहां से जहां वे हो रही हैं

हम इसे तभी जारी रख सकते हैं अगर आप हमारी रिपोर्टिंग, लेखन और तस्वीरों के लिए हमारा सहयोग करें.

अभी सब्सक्राइब करें

रेलवे ने बनाया 40,000 आइसोलेशन बेड

स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर में की गई तैयारियों पर बताया कि कोरोनावायरस संक्रमण देश में फैलने की स्थिति में भारतीय रेलवे चाक चौबंद तैयारी में जुटा है, अभी तक रेलवे से देश में चलता फिरता हॉस्पिटल तैयार कर लिया है. और इसके लिए 2,500 डिब्बोंमें 40,000 आइसोलेशन बेड तैयार किए हैं. वे प्रतिदिन 375 अलगाव बेड तैयार कर रहे हैं और यह देश भर में 133 स्थानों पर चल रहा है.

गृहमंत्रालय की तरफ ने पीएस श्रीवास्तव ने कहा कि गृहमंत्रालय की नजर आवश्यक वस्तुओं और सेवाओं की स्थिति को लेकर संतोषजनक है. गृह मंत्री ने आवश्यक वस्तुओं और लॉकडाउन उपायों की स्थिति की विस्तृत समीक्षा की है, जमाखोरी और कालाबाजारी को रोकने के निर्देश भी दिए गए हैं.

share & View comments