news on cbi
वित्त मंत्री अरुण जेटली (फोटो: पीटीआई)
Text Size:

विश्व बैंक द्वारा जारी हालिया कारोबार सुगमता रैंकिंग में भारत 77वें पायदान पर आ गया है. इससे पिछले साल भारत इस सूची में 100वें पायदान पर था.

नई दिल्ली: विश्व बैंक द्वारा जारी हालिया ईज़ ऑफ डूइंग बिज़नेस (व्यापारिक सुगमता) की सूची में भारत 23 अंकों की छलांग लगाकर 77वें पायदान पर आ गया है. विश्व बैंक की इस सूची में दुनिया के 190 देश शामिल हैं.

विश्व बैंक ने इज़ ऑफ डूइंग बिज़नेस रिपोर्ट 2019 बुधवार को जारी की. इस रिपोर्ट से जाहिर होता है कि सरकार द्वारा उठाए गए विभिन्न कदमों से भारत ने 23 अंकों की छलांग लगाई है. वर्ष 2017 की रिपोर्ट में भारत व्यापार करने में सुगमता के मामले में 100वें पायदान पर था. भारत ने पिछले साल 30 पायदान की बड़ी छलांग लगाकर शीर्ष 100 में अपनी जगह बनाई थी.

समाचार एजेंसी के मुताबिक ​वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा, जब से भाजपा सरकार आई है तब से लाल फीताशाही और भ्रष्टाचार कम हुआ है. सरकार के सुधारों का ही फल है कि पिछले चार साल में देश की रैंकिंग 142 से सुधरकर 77 हो गई है. उन्होंने कहा कि अनुबंधों को लागू करने, कर एवं दिवालिया कानून में बेहतरी पर काम हो चुका है. इनका प्रभाव भविष्य की रैकिंग में दिखेगा.

जेटली ने यह भी कहा कि जब पीएम मोदी सत्ता में आए थे, तो उन्होंने कहा था कि हमको इस इंडेक्स में 50 पायदान पर आना है. हम इस दिशा में तेज़ी से आगे बढ़ रहे हैं. साल 2014 में ईज़ ऑफ डूइंग बिज़नेस इंडेक्स में भारत 142 और साल 2017 में 100वें पायदान था. अब इस इंडेक्स में भारत 77वें पायदान पर पहुंचा गया है.

नरेंद्र मोदी सरकार के लिए यह रैंकिंग राहत की बात है. अगले साल होने वाले आम चुनाव से पहले सरकार को विभिन्न मुद्दों पर विपक्षी दलों के कड़े विरोध का सामना करना पड़ रहा है.

(समाचार एजेंसी आईएएनएस के इनपुट के साथ)


Share Your Views

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here